ये बाते भी है बड़े काम की ध्यान रक्खे-

1:35 pm 2 comments
सबके अपने-अपने संस्कार होते हैं मगर कुछ बातो का ध्यान रखे तो हमारे जीवन में लाभदायक है  जब आप बाथरूम के लिए गए है तो आप हाथ-पैर धो लो और ३ बार कुल्ला करो | आँख और कान को पानी का स्पर्श कराओ | शुद्धि रखे | अशुद्धि नहीं | गंदगी नहीं | स्वच्छता बाहर की मन की पवित्रता में बहुत काम देगी... बहुत काम देगी |

* जब भी आप #भोजन करें तो दो हाथ, दो पैर, मुँह ये पाँच अंग धोकर भोजन करे | बहुत फायदा होगा | स्वच्छता से  पानी पियें, सभा में बैठे हो तो बात अलग है पर बाहर कही हो तो पानी पिए तो एक बार कुल्ला करें | स्वच्छता..... शरीर नीरोग रहेगा | आजकल लोग अपना शरीर भी नीरोग नहीं रख पाते | बीमारियाँ ढेरों होती है | बीमारियाँ हो ही क्यों..? अगर हो तो टिके क्यों...? हम ऐसी स्वच्छता रखे |


* एक दूसरे का  झूठा पानी पी रहें हैं तो ऐसा ना हो | आपसी प्रेम अलग बात है | झूठा पीना ... एक दूसरे का झूठा खाना.... जो अपना झूठा दूसरे को खिलाता है न उसके पुण्य नष्ट होते हैं | खिलने वाले के... जो अपना झूठा दूसरों को खिलाते  हैं |  उसके पुण्य भी स्वाहा हो जाते हैं | इसलिए अशुद्धि नहीं स्वच्छता नहीं करे .


* घर में रोज बहनें ध्यान रखे नाश्ता होने से पहले सफाई हो जाए इससे बरकत भी होगी और  आपके घर में लक्ष्मी ना आये तो कहना | और गंदगी पड़ी है कोई नाश्ता कर रहा है, कोई कुछ कर रहा है तो लक्ष्मी क्यों आएगी वहाँ पर | लक्ष्मी को स्वच्छता पसंद है | सिंक में कभी जूठे बर्तन न छोड़े ..

* बहनें सुबह कभी घर से बाहर जाती हो तो घर में सफाई करके घर से बाहर जाए | ऐसे घर में लक्ष्मी अंदर आती है | ये बातें बहुत छोटी-छोटी है पर काम बहुत आएगी | घर में सुबह नाश्ता हो उससे पहले सफाई हो जाए |घर में लक्ष्मी का वास होगा |
रात को घर में झूठे बर्तन रखकर ना सोएं | एक भी बर्तन घर में जूठा रख कर ना सोएं | आपके घर लक्ष्मी जरुर आएगी और स्थाई वास करेगी |पलंग पर जहाँ आप सोते है वहाँ झूठे बर्तन मत रखो | आपके घर लक्ष्मी आये बिना नहीं रहेगी | शाम हो गई कपड़े सुखाने बाहर डाले, वो ले लो | शाम के बाद कपड़े डाले रात को तो उसमे मलिनता प्रवेश करती है | ये बातें छोटी-छोटी....
घर में टूटे-फूटे बर्तन मत रखो | जिनके घर में टूटे-फूटे बर्तन होते हैं वो जाने कि महाभारत में लिखा है- कोई ऐसे वैसे ग्रन्थ की बात नहीं है  जो टूटे-फूटे बर्तन रखते हैं ऐसे घर में झगड़े ज्यादा होते हैं |


* आप शादियों में जाते हैं, जाओ माना नहीं है | भले आपके बेटे की, भतीजे की भतीजी की शादी है जाओ पर शादी में क्या करते हैं फूल फेंकते हैं तो गुलाब के फूल पर पैर रखने से लक्ष्मी चली जाएगी| गुलाब के फूल में लक्ष्मी का वास होता है | फूल तो गुरु और ईश्वर को अर्पण करने के लिए होते हैं, हमारे पैरों तले कुचलने के लिए नहीं हैं | इसलिए बारातों में ऐसी बेवकूफी नहीं करनी चाहिए | गुलाब के फूल उछाल रहें हैं... पैरों में नहीं आने चाहिए | बात छोटी है पर है बड़े काम की है |


* खाना खाओ तो पूर्व या उत्तर की ओर मुहँ करके खाना खाओ | तबियत बढ़िया रहेगी |और अगर सोना है तो पूर्व या दक्षिण की तरफ सिर करके सोओ | तबियत बढ़िया रहेगी | और स्वप्न भी अच्छे दिखेगे तथा बीमारी से भी बचाव रहेगा तो दवाइयाँ नहीं खानी पड़ेगी |

उपचार स्वास्थ्य और प्रयोग -http://upchaaraurpryog120.blogspot.in

शादी शुदा औरतो के लिए काम की बात :-
<<<<<<<<<<<<>>>>>>>>>>>>>>

* अगर कोई खास कारण न हो तो सेक्स के लिए इनकार न करें। अगर किसी कारणवश (मेंसेस, प्रेग्नेंसी, थकान आदि) सेक्स न कर सकें तो पति को दूसरे तरीकों से संतुष्टि देने की कोशिश करें।

* पारिवारिक झगड़ों को प्यार के हसीं लम्हों को बीच न आनें दें। प्यार के बीच में सिर्फ प्यार की बात की बात करे .

* प्राइवेट पार्ट में अगर कोई बीमारी है तो इसका इलाज कराएं। यह पार्टनर
की कामेच्छा को कम कर सकता है। 

* सेक्स के वक्त पार्टनर के बेडौल शरीर या किसी और फिजिकल कमी को लेकर कॉमेंट न करें। कोशिश करे कि उसे अच्छे चिकित्सक से दिखाए .

* अगर पार्टनर जल्दी डिस्चार्ज हो जाता है तो सेक्सॉलजिस्ट की मदद से इलाज मुमकिन है। तब तक संतुष्टि के दूसरे तरीकों का सहारा ले सकते हैं। लेकिन पति की अवहेलना न करे न ही दूसरों से पति की कमियों को शेयर करे .

* अपनी सेक्स लाइफ को दूसरी सहेलियों से कंपेयर न करें। बल्कि खुद की सेक्स लाइफ को अच्छी तरह जिए .

* सेक्स के वक्त थोड़ा आकर्षक बनें। स्नान करें, वैक्सिंग कराएं, परफ्यूम का इस्तेमाल करें। प्राइवेट पार्ट को साफ- सुथरा रखें। आपके बेहतर पहनावे से भी पार्टनर की उत्तेजना में इजाफा हो सकता है। और जीवन का आनंद प्राप्त करे .

* अगर आप उनकी तारीफ करेंगी तो वह अधिक उत्साह और जोश महसूस करेंगे। प्यार करने के दौरान तारीफ के जुमले बोलना न भूलें। डॉक्टर की दो घंटे की साइकोथेरपी से ज्यादा असर पार्टनर की दो लाइन की तारीफ का होता है। 


* मुमकिन हो तो बड़े बच्चों (5 साल से बड़े) को अलग सुलाएं। घर में जगह कम हो तो सेक्स के लिए दोपहर का वक्त फिक्स करें।जो पॉजिशन पति को पसंद हो, उन्हें आजमाएं। अपनी पसंद-नापसंद को भी उनके साथ शेयर करें।
उपचार स्वास्थ्य और प्रयोग -http://upchaaraurpryog120.blogspot.in

2 टिप्‍पणियां :

  1. सर मै संजय जैन मेरा बेटा साँईं जैन जो अभी बोल ता भी नही है उसकी उम्र 8 साल है वह अभी चलता भी नही है अथवा उसे मिर्गी भी आती हैं क्या कोई इलाज है आपके पास तो बताऐ आपका मेरे ऊपर यह कर्ज जिंदगी भर रहेगा

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. संजय जी आप इस पे फोन करे या फिर संपर्क करे-KAAYAKALP

      Homoeopathic Clinic & Research Centre

      23,Mayur Market, Thatipur, Gwalior(M.P.)-474011

      Director & Chief Physician:

      Dr.Satish Saxena D.H.B.

      Regd.N.o.7407 (M.P.)

      Mob : 09977423220(फोन करने का समय - दिन में 12 P.M से शाम 6 P.M)(WHATSUP भी यही नम्बर है)

      Dr. Manish Saxena

      Mob : -09826392827(फोन करने का समय-सुबह 10A.M से शाम4 P.M.)(WHATSUP भी यही नम्बर है )

      Clinic-Phone - 0751-2344259 (C)

      Residence Phone - 0751-2342827 (R)

      हटाएं

-->