24 अप्रैल 2017

घर पर बनायें शुद्ध शिशु आहार(Baby Food)

आजकल बालकों को दूध के आलावा बाजारू बेबीफ़ूड(Baby Food)फँरेक्स आदि खिलाने की रीति चल पड़ी है बजारू बेबीफ़ूड बनाने की प्रक्रिया में अधिकांश पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं और कई बार कृत्रिम रूप से फिर इसमें दुबारा वापस मिलाये जाते हैं जिससे बालकों की आँते अवशोषित नही कर पाती है बेबीफूड का मुख्य घटक अतिशय महीन पिसा हुआ गेहूँ का आटा है जो चिकना होने के कारण आँतों में चिपक जाता है-
घरेलु पर बनायें शुद्ध शिशु आहार(Baby Food)

शायद आप नहीं जानते है लेकिन ये सच है कि आटा पीसने के बाद एक हप्ते में ही गुणहीन हो जाता है जबकि बेबीफ़ूड(Baby Food)तैयार होने के बाद आपके हाथ में आने तक तो कई हफ्ते गुजर जाते हैं ऐसे हानिकारक बेबीफ़ूड की अपेक्षा शिशुओं के लिए ताजा, पौष्टिक व सात्विक खुराक परम्परागत रीति से हम घर में ही बना सकते हैं-

सामग्री-


एक कटोरी चावल (पुराने हो तो अच्छा)
दो चम्मच मूँग की दाल व 
दो चम्मच गेंहूँ

बनाने की विधि-


इन सबको साफ़ करके धोकर छाँव में अच्छी तरह से सुखा लें और फिर आप इसे धीमी आँच पर अच्छे से सेंक लें फिर मिक्सर में महीन पीस के छान लें-अब तीन-चार  माह के बालक के लिए शुरुआत में आधा कप पानी में आधा छोटा चम्मच मिलाकर पका लें तथा थोडा–सा सेंधा नमक डालकर पाचन शक्ति अनुसार दिन में एक या दो वार दे सकते हैं फिर धीरे-धीरे इसकी मात्रा बढ़ाते जायें और जैसे बालक बड़ा होने लगे आप इसमें उबली हुई हरी सब्जियाँ, पिसा जीरा, धनिया भी मिला सकते हैं-आप हर 7 दिन बाद ताजा खुराक बना लें-

यह Baby Food स्वादिष्ट व पचने में अतिशय हल्का होता है तथा साथ ही शारीरिक विकास के लिए आवश्यक प्रोटीन्स, खनिज व कार्बोहाइड्रेटस की उचित मात्रा में पूर्ति करता है-

आप डायरेक्ट पोस्ट प्राप्त करें-

Whatsup No- 7905277017


Upcharऔर प्रयोग-

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Loading...