मुंह में छाले हो तो करे उपाय ....!

* मुँह के छाले छोटे होते हैं मगर दर्द बहुत देते हैं। मुँह में छालों के कारण न सही तरह से खाना खा पाते हैं और न ही बात कर पाते हैं। मुंह में अगर छाले हो जाएं तो जीना मुहाल हो जाता है।साधारणतः ये छाले शरीर में पौष्टिकता की कमी के कारण होते हैं। लेकिन कभी-कभी खराब जीवनशैली या खान-पान में गड़बड़ी के कारण भी मुँह में छाला पड़ने की समस्या उत्पन्न होती है। वैसे तो डॉक्टर इलाज के रूप में मल्टीविटामिन देते हैं जिससे छाले धीरे-धीरे ठीक होने लगते हैं मगर दर्द से जल्दी राहत पाने के लिए घरेलु नुस्ख़ो को भी आजमाया जा सकता हैं।इसका इलाज आपके आसपास ही मौजूद है। मुंह के छाले गालों के अंदर और जीभ पर होते हैं। संतुलित आहार, पेट में दिक्कत, पान-मसालों का सेवन छाले का प्रमुख कारण है। छाले होने पर बहुत तेज दर्द होता है।

करे ये उपाय :-
========

* छाले होने पर कत्था और मुलहठी का चूर्ण और शहद मिलाकर मुंह के छालों परलगाने चाहिए।

* मुलेठी का एन्टी-इन्फ्लैमटोरी गुण (anti inflammatory) मुँह के छाले के दर्द से राहत दिलाने में मदद करता है। ज़रूरत के अनुसार मुलेठी लेकर उसको पीस लें और उसको शहद के साथ मिलाकर छाले के ऊपर लगायें। कुछ देर में दर्द से आराम मिल जाएगा। यहाँ तक कि हल्दी के दूध में मुलेठी का पावडर मिलाकर पीने से भी दर्द से तो राहत मिलता ही हैं साथ ही छाले भी ठीक होने लगते हैं।

* एक कप पानी में एक चम्मच सेब का सिरका मिलाएं। इसे अच्छे से मिला लें और इसे दिन में तीन-चार बार मुंह में लें। यह उपचार फंगस बनने को कम करेगा, जिससे मुंह के छाले की समस्या कम होगी।

* शहद में मुलहठी का चूर्ण मिलाकर इसका लेप मुंह के छालों पर करें और लार को मुंह से बाहर टपकने दें।

* लहसुन में एंटीफंगल और एंटी-बैक्टीरीयल गुण पाया जाता है, जिससे फंगस से लड़ने में मदद मिलती है। लहसुन का एक दो जवा लेकर उसे मसल लें। आप इसे सीधे निगल भी सकते हैं या फिर छाले वाली जगह पर कुछ देर के लिए रख सकते हैं। इससे लहसुन इंफैक्शन पर असर करेगा।

* दो चम्मच ऐसे दही का सेवन करें जिसमें लाइव एसिडोफीलस कल्चर हो, ताकि जलन कम हो सके। हमेशा लाइव कल्चर वाले दही ही खरीदें, क्योंकि हीट पैस्चराइज्ड वाले दही में लेक्टोबेसिलस बैक्टीरिया इतनी मात्रा में नहीं होते हैं कि यीस्ट फंगी को नियंत्रित किया जा सके। विकल्प के तौर पर आप एसिडोफिलस पिल्स भी ले सकते हैं। दो एसिडोफिलस कैप्सुल ले कर उन्हें तोड़ दें। अब इसमें एक चम्मच संतरा का जूस मिलाकर सेवन करें।

* अमलतास की फली मज्जा को धनिये के साथ पीसकर थोड़ा कत्था मिलाकर मुंह में रखिए। या केवल अमलतास के गूदे को मुंहमें रखने से मुंह के छाले दूर हो जाते हैं।

* अमरूद के मुलायम पत्तों में कत्था मिलाकर पान की तरह चबाने से मुंह के छाले से राहत मिलती है और छाले ठीक हो जाते हैं

* व्यस्क बोरिक एसिड के जरिए मुंह के छाले का उपचार कर सकते हैं। हालांकि बच्चें के साथ ऐसा नहीं कर सकते। एक कप पानी में एक चौथाई चम्मच बोरिक एसिड मिला लें। अब इसे अच्छे से मिलाकर इसका इस्तेमाल माउथ वॉश की तरह कर सकते हैं। दिन में दो से तीन बार इस मिश्रण का इस्तेमाल करें। बोरिक एसिड के इस्तेमाल के समय थोड़ी सावधानी बरतें। इसे पीएं न, क्योंकि इससे फिर पेट की कुछ समस्याएं हो सकती है।

* मुंह में छाले होने पर अडूसा के 2-3 पत्तों को चबाकर उनका रस चूसना चाहिए।

* आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि नारियल, नारियल का तेल और नारियल का पानी तीनों मुँह के छालों के लिए दर्दनिवारक का काम करते हैं। नारियल का पानी पीने से शरीर ठंडा होता है। ताजा नारियल को घिसकर मुँह के छाले के ऊपर लगाने से दर्द से राहत मिलता है।

* हल्दी का एन्टीसेप्टिक और एन्टी-इन्फ्लैमटोरी गुण छालों को न सिर्फ ठीक करते हैं बल्कि फिर से होने से भी रोकते हैं। हल्दी का पावडर में कुछ बूंद पानी डालकर पेस्ट बना लें और छालों पर लगायें, इससे दर्द से तुरन्त राहत मिल जाएगा।

* मेथी के कुछ पत्तों को एक कप पानी में डालकर उबालें और दस मिनट तक ठंडा होने के लिए रख दें। फिर दिन में छह-सात बार इस पानी से गरारा करें, इससे दर्द तो कम होता ही है साथ ही छालें सूखने लगते हैं।

* कुछ आयल जैसे लेवेंडर आयल, क्लोव आयल और टी ट्री आयल में एंटी-इंफैक्शन गुण पाया जाता है, जिससे मुंह के छाले से निजात मिलती है। क्लोव आयल और लेवेंडर आयल को आप किराने की दुकान से आसानी से खरीद सकते हैं। दोनों में से किसी एक तेल का कुछ बूंद अपने टूथपेस्ट में मिलाएं और सामान्य रूप से ब्रश करें। टूथपेस्ट और आयल मिक्स्चर से मुंह में एक दो मिनट तक गरारा करें और फिर सादे पानी से मुंह धो लें। विकल्प के तौर पर आप इन दोनों में से किसी भी तेल से माउथ वॉश भी तैयार कर सकते हैं। एक ग्लास पानी में किसी भी एक तेल का कुछ बूंद मिला कर इस मिश्रण से दिन में दो या तीन बार गरारे करें।

* सूखे पान के पत्ते का चूर्ण बना लीजिए, इस चूर्ण को शहद में मिलाकर चाटिए, इससे मुंह के छाले समाप्त हो जाएंगे।

* पान के पत्तों का रस निकालकर, देशी घी में मिलाकर छालों पर लगाने से फायदा मिलता है और छाले समाप्त हो जाते हैं।

* मशरूम को सुखाकर बारीक चूर्ण तैयार कर लीजिए, इस चूर्ण को छालों पर लगा दीजिए। मुंह के छाले ठीक हो जाएंगे।

* छाछ से दिन में तीन से चार बार कुल्ला‍ करने से मुंह के छाले ठीक होते हैं। खाना खाने के बाद गुड चूसने से छालों में राहत होती है।

* मेंहदी और फिटकरी का चूर्ण बनाकर छालों पर लगाएं, इससे मुंह के छाले समाप्त होते हैं।

उपचार स्वास्थ और प्रयोग-
loading...

2 comments

Shriman
Mujhe lagbhag 10 varso se chhalon(ulcer) se pareshan hu lagatar bane rahte hai kripya koi upchar sujhaye aapki badi meharbani hogi

उपर इतने प्रयोग है पढ़े और जो आप कर सके उसे आजमाए


EmoticonEmoticon