This website about Treatment and use for General Problems and Beauty Tips ,Sexual Related Problems and his solution for Male and Females. Home treatment,Ayurveda treatment ,Homeopathic Remedies. Ayurveda treatment tips in Hindi and also you can read about health Related problems and treatment for male and female

loading...

24 अगस्त 2016

Teeth-दांतों की बेहतरी के लिए

By


अगर आप अपने Teeth-दाँतो की अच्छे से Care नहीं करते तो दाँतो एवं मसूडों में होने वाली Diseases आपके दाँतो को समय से पहले Finished कर सकते हैं कुछ बहुत ही Simple से तरीकों से आपके दाँत आपके साथ बहुत Long time तक रह सकते हैं आइये जानते है दांतों(Teeth) की बेहतरी के लिए क्या करें-

Teeth


  1. हम सबके मुंह में हमेशा लाखों Bacteria रहते हैं जिनका कि एक ही लक्ष्य होता है कि किसी तरह से कोई कड़ी सतह मिल जाए तो उस पर जाकर चिपक जाएँ और फिर एक बड़ा समूह बना लें-यह प्रक्रिया साल के 365 दिन, और चौबीसों घंटे हमारे मुंह में होती रहती है और इस Process को रोका नहीं जा सकता क्योंकि ये बैक्टीरिया हमारे शरीर का एक हिस्सा हैं जब ये बेक्टीरिया कड़ी सतह यानी हमारे दाँतो(Teeth) पर चिपकते हैं तो एक अदृश्य सतह, जिसको कि प्लेक कहते हैं हमारे दांतों के चारों ओर बना देते हैं आपने शायद सुबह को उठकर अपने दाँतो पर जीभ फिराते हुए कभी उस प्लेक को महसूस भी किया हो-
  2. सबसे जरुरी है कि आप अपने दाँतो(Teeth) को दिन में कम से कम दो बार लगभग दो मिनट या इससे ज्यादा ब्रश करना चाहिए-ब्रश सभी दांतों के आगे पीछे सभी जगह करना चाहिए और जीभ को भी साफ़ रखना चाहिए-
  3. सोने से पहले ब्रश करना सबसे ज्यादा Beneficial रहता है दिन में मुँह में रहने वाली राल भी हमारे दांतों(Teeth) को बचाती है जबकि रात में हमारा मुह सूखा रहता है और फंसा हुआ खाना उनको नुकसान पहुंचाता है अगर किसी कारण कभी आप रात में ब्रश न कर पाए तो आपको पानी से जोरदार कुल्ला जरूर करना चाहिए-
  4. हमारे दाँतो(Teeth) की सभी सतहो तक ब्रश नहीं पहुँच पाता है दो दांतों के बाच की जगह में फंसा खाना दांतों को बहुत ही नुक्सान पहुंचाता है इसको निकालने के लिए बहुत ही पतले धागे का इस्तेमाल किया जाता है जिसको फ्लोस करना कहते हैं पुराने ज़माने में लोग खाना खाने के बाद दांत को कुरेदना अच्छा मानते थे-ऐसा करना दांतों के साथ मसूडो को भी बहुत फायदा पहुंचाता है-
  5. मुँह को स्वस्थ रखने के लिए जीभ को साफ़ करना भी उसी तरह जरूरी है जैसे दाँतो को साफ़ करना जबकि हम अक्सर जीभ (Tongue) की तरफ ध्यान नहीं देते हैं मुँह में बदबू, मसूडों या जीभ पर जमी मैल के कारण ही होती है-आपकी साफ़ जीभ आपके दाँतो और मसूडो को तो स्वस्थ रखती ही है साथ ही साथ ये आपकी साँस को भी Freshness प्रदान करती है-
  6. Snacks खाने से जितना बच सकें बचना चाहिए क्यूंकि Snacks में प्रयुक्त मसाले बहुत जल्दी ही दांतों में प्लेक को बनने  में मदद करते हैं जिससे जल्दी ही दाँतो में Cavity हो जाती है-
  7. चॉकलेट (Chocolate)खाने से बचना चाहिए-चीज़ और दूध स्वस्थ दांतों(Teeth) के लिए अच्छे होते हैं- मीठा कम खाना चाहिए-Green vegetables खानी चाहियें -सोडा या जूस के स्थान पर पानी पीना चाहिए क्योंकि फलों के जूस में भी Acids and sugar होते हैं जो कि दांतों को नुक्सान पहुंचाते हैं-
  8. आज कल करीब 90 फीसदी लोगों को दांतों से जुड़ी कोई न कोई बीमारी या परेशानी होती है लेकिन ज्यादातर लोग बहुत ज्यादा दिक्कत होने पर ही Dentist के पास जाना पसंद करते हैं इससे कई बार छोटी बीमारी सीरियस बन जाती है अगर सही ढंग से साफ-सफाई के अलावा हर 6 महीने में रेग्युलर चेकअप कराते रहें तो दांतों की ज्यादातर बीमारियों को काफी हद तक Serious बनने रोका जा सकता है-
  9. दांतों में ठंडा-गरम लगना, कीड़ा लगना(कैविटी) ,पायरिया(मसूड़ों से खून आना) ,मुंह से बदबू आना और दांतों का Discolouration होना जैसी बीमारियां सबसे कॉमन हैं-
  10. और भी देखे-

Upcharऔर प्रयोग-

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें