हाईट और अच्छी फिगर के लिए - Good for the figure and Haight

सभी चाहते है कि वो समाज में एक आकर्षक व्यक्तित्व के दिखे लेकिन कभी -कभी अनुवांशिकी या हार्मोन्स की कमी के कारण उपयुक्त लम्बाई से वंचित रह जाते है -यहाँ कुछ प्रयोग है जिनको आप प्रयोग करके अपनी लम्बाई में आप वृधि कर सकते है -




नुुस्खा  नंबर एक -


अश्वगंधा और सूखी नागौरी दोनों को ही आयुर्वेद में शारीरिक विकास के लिए महत्वपूर्ण माना गया है।

सामग्री :-


सूखी नागौरी- 200ग्राम

अश्वगंधा- 200 ग्राम

चीनी- 200 ग्राम

बनाने की विधि:-


सूखी नागौरी और अश्वगंधा की जड़ को बारीक पीस लें। इस चूर्ण में बराबर मात्रा में चीनी मिला लें। यह मिश्रण कांच की बोतल में भर लें।

ऐसे करें सेवन:-


रात को सोते समय रोज दो चम्मच (बराबर 10 ग्राम )चूर्ण लें। फिर गाय का दूध पिएं। इससे हाइट बढ़ने के साथ ही हेल्थ भी बन जाती है। इस चूर्ण को लगातार 40 दिन तक लें। सर्दियों में यह चूर्ण अधिक फायदा करता है।

नुस्खा नंबर दो :-


काले तिल और अश्वगंधा का यह योग नियमित रूप से सेवन करने पर हाइट बढ़ने लगती है।

सामग्री:-


अश्वगंधा चूर्ण- 100 ग्राम

काले तिल- 100 ग्राम

खजूर(प्रतिदिन पांच खजूर के हिसाब से )

गाय का शुद्ध घी( दस ग्राम प्रतिदिन के हिसाब से एक माह के लिए तीन सौ ग्राम )

बनाने की विधि:-


आप 100 ग्राम अश्वगंधा चूर्ण और 100 ग्राम काले तिल को पीसकर चूर्ण बना कर एक कांच के बर्तन में रख लें।

सेवन विधि :-


इस चूर्ण को प्रतिदिन  3 ग्राम  को 5 खजूर में मिलाकर 10 ग्राम गाय के घी में एक महीने तक खाने से लाभ होता है।आगे भी नियमित रख सकते है ये बल वीर्य वर्धक भी है -


नुस्खा नंबर तीन :-


केवल अश्वगंधा का पाउडर लेने से भी कद बढ़ने लगता है।

सामग्री:-

अश्वगंधा की जड़- 225 ग्राम

चीनी- 225 ग्राम

दूध- 250 ग्राम दूध प्रति 45दिन दिनों तक

सेवन की विधि:-

सबसे पहले आप 225 की मात्रा में अश्वगंधा की जड़ लेकर उसका चूर्ण बना लें। इस चूर्ण में बराबर 225 ग्राम की मात्रा में चीनी मिलाकर रख लें। इस मिश्रण को 2 चम्मच (बराबर 10 ग्राम ) की मात्रा में एक गिलास (बराबर दो सौ पचास ग्राम ) दूध में डालकर पिएं। ये प्रयोग रात को सोने से पहले 45 दिनों तक इस योग का सेवन करने से शरीर सुडौल बनता है और कद बढ़ जाता है।


आप कुछ सावधानियां भी करे -

* फास्ट फूड या जंक फूड का सेवन न करें।

* खटाई न खाएं।

* ज्यादा मिर्च-मसाले से परहेज करें।

* अगर इन दवाओं का सेवन गाय के दूध से करें तो बेहतर है।

* जिन लोगों का कद नहीं बढ़ रहा हो उन्हें रोज ताड़ आसन और भुजंगासन करना चाहिए।

ताड़ आसन विधि:-

ताड़ आसन करने के लिए सबसे पहले अपने दोनों हाथ ऊपर उठाएं। हाथ उठाकर सांस अंदर लें। अपने पैर के पंजों पर कुछ समय के लिए खड़े हो जाएं। दोनों हाथों को मिलाएं और अपने शरीर को ऊपर की तरफ खीचें। कुछ देर उसी अवस्था में रहें। फिर सांस बाहर छोड़ें और दोनों पैर के पंजों को सामान्य अवस्था में ले आएं। यह क्रिया 10 से 15 बार करें।

भुजंगासन विधि:-

पेट के बल लेट जाएं। दोनों पैरों को मिलाकर रखिए। सिर जमीन पर, आंखें खुली हुई और दोनों बाजू को कोहनी से मोड़ें। हाथों को कंधों के नीचे रखें। कोहनी बाहर की ओर न हो, बल्कि शरीर के साथ लगाकर रखें। एक ही बार में सांस नहीं भरेंगे, बल्कि आसन करते हुए धीरे-धीरे सांस भरें। धीरे-धीरे सांस लेना शुरू करें और फिर सिर को उठाएं। गर्दन को पीछे की ओर मोड़ें। पीठ की मांसपेशियों का बल लगाते हुए आप कंधे भी उठाएं। हथेलियों पर थोड़ा दबाव रखते हुए छाती और नाभि तक का भार उठाएं। हर स्थिति में नाभि को जमीन से 30 सेंटीमीटर ही ऊपर उठाना चाहिए। ज़्यादा नहीं, अन्यथा कमर भी उठ जाएगी। इस स्थिति में कोहनी सीधी नहीं होगी। इसके बाद आकाश की ओर देखें। इस अवस्था में सांस रोंके। कमर के निचले भाग पर खिंचाव आएगा, जिसे आप महसूस कर पाएंगे। इस स्थिति में 3-4 सेकंड तक रहें और फिर सामान्य अवस्था में आ जाएं।


इसके साथ ही अपने डाइट चार्ट में ज्यादा से ज्यादा फल और मेवे शामिल करें। कद बढ़ने लगेगा।अखरोट की गिरी चालीस ग्राम की मात्रा में नियमित लेने से जल्द ही हाईट बढ़ जाती है .

शरीर की लम्बाई बढ़ाने के लिये चुम्बकों का प्रयोग-


शरीर की लम्बाई बढ़ाने के लिये सेरामिक चुम्बकों का प्रयोग कनपटियों पर करना चाहिए। इस प्रयोग में उत्तरी ध्रुव वाले चुम्बकों का उपयोग एक दिन में सिर के दायीं ओर तथा दक्षिणी ध्रुव वाले चुम्बक का उपयोग सिर के बाईं ओर करना चाहिए। दूसरे दिन सिर के आगे और पीछे की ओर तथा सिर के अगले भाग पर उत्तरी ध्रुव वाला चुम्बक तथा इसके पिछले भाग पर दक्षिणी ध्रुव वाले चुम्बक का उपयोग करना चाहिए। चुम्बक का ऐसा प्रयोग लगातार तीन महीने तक करना चाहिए तथा इस प्रयोग के एक सप्ताह तक छोड़कर फिर दुबारा यह प्रयोग 3 महीने तक करना चाहिए और नियमित रूप से चुम्बकित जल को दवाई की मात्रा के बराबर पीना चाहिए।


शरीर में लंबाई बढ़ाने का सबसे बड़ा योगदान होता है ह्यूमन ग्रोथ हॉरमोन का यानी की एचजीएच। एचजीएच पिटूइटेरी ग्लैंड से निकलता है जिससे हाइट बढ़ती है। सही प्रोटीन और न्यूटिशन न मिलने के कारण शरीर का विकास होना बंद या कम हो जाता है। और अगर आप शरीर का सही विकास करना चाहते हैं तो खान-पान का पूरा ध्यान रखना शुरु कर दें।


आजकल कोल्ड ड्रिंक्स पीना फैशन बन गया है, लेकिन यह सेहत के लिहाज से सही नहीं है। बर्गर, नूडल्स, पिज्जा खाने से भी हाइट नहीं बढ़ती। दूध, दही, पनीर, मक्खन, दालें खाने से हाइट बढ़ती है। प्रोटीन दूध, दही, अंडे में खूब होता है। विटामिन, मिनरल्स के लिए फल खाओ, जूस पियो और हरी सब्जी, दालें खाना मत भूलना।


कैल्शियम शरीर के लिए एक आवश्यक खनिज है। यह हड्डियों को मजबूत बनाता है। कैल्शियम हमें दूध, चीज़, दही आदि में मिलता है। ऊंचा लंबा कद पाने के लिए कैल्शियम बेहद जरूरी है। मिनरल-खनिज हड्डी के ऊतकों का निर्माण करता है। ये हड्डी के विकास और शरीर में रक्त के प्रवाह में सुधार करते हैं। अगर आपको अपनी लंबाई बढ़ानी है तो खनिज से भरपूर तत्वों का इस्तेमाल करें। यह पालक, हरी बीन्स, फलियां, ब्रोकोली, गोभी, कद्दू, गाजर, दाल, मूंगफली, केले, अंगूर और आड़ू में पाया जाता है।


विटामिन डी- लंबाई बढ़ाने के लिए जिस विटामिन की सबसे ज्यादा जरूरत होती है उनमें से एक है विटामिन डी। मछली, दाल, अंडा, टोफू, सोया मिल्कर, सोया बीन, मशरूम और बादाम आदि में पाया जाता है। साथ ही टेनिस व बास्केट बॉल खेलें।


उपचार और प्रयोग -http://www.upcharaurprayog.com
loading...


EmoticonEmoticon