17 अक्तूबर 2015

कुछ इसे भी आजमाए - Some Even Tried It

By
कभी -कभी आप कर्म बहुत करते है और आपका प्रयास निरर्थक चला जाता है और आप बार -बार हताश हो कर निराश हो जाते है भाग्य आपका साथ नहीं देता है जिस काम में आप हाथ डालते है उसमे नुकसान होता है जब इस प्रकार की समस्या हो तो क्या करे -





ये प्रयोग किसी भी शनिवार (Saturday  ) को आजमाए -

गेहूं के आंटे (Flour ) और पुराने गुड को पानी में फेंट कर सरसों के तेल से सात पुए बनाए तथा सात मदार यानी आक के फूल, सिंदूर , सरसों के तेल का ही जलता हुआ एक दीपक आप किसी पत्तल या फिर अरंडी के पत्ते पर रख-कर किसी चौराहे पर रक्खे और हाथ जोड़ कर प्रार्थना करे - " हे दुर्भाग्य मै तुझे यही छोड़-कर जा रहा हूँ कृपया मेरा पीछा न करे "

ये सारा सामान वही रख-कर वापस आ जाए और पीछे मुड़कर न देखे चाहे कोई आवाज भी दे - ये प्रयोग अगर एक शनिवार को सफल नहीं होता है तो सात शनिवार तक करे अवस्य ही आपको अनुभूति होगी कि आपके बिगड़े काम बनने लगे है -

विश्वास और श्रधा से किया जाना ही काम में सफलता देता है शंकालु लोग ये प्रयोग न करे क्युकि सफल नहीं होता है -

विवाह न हो रहा हो आपका व्यापार में नुकसान हो रहा हो या परीक्षा और इंटरव्यू में नकारात्मक उत्तर मिलता हो -इसे विश्वास से आजमाना चाहिए -

उपचार और प्रयोग-

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

लेबल