सर्दियों में हमेशा ये सेवन करे - Always the intake In winter

2:46 pm Leave a Comment
आज कल सर्दियों का मौसम है और शरीर बनाने के लिए कुछ उपयोगी चीजे है जिनका सेवन हमें जाड़े में करना बहुत ही लाभदायक होता है इनमे से कुछ प्रयोग को करे और लाभ ले -


सर्दियों में पिंड खजूर का सेवन शरीर के लिए लाभदायक रहता है। पिंड खजूर में प्रोटीन, वसा और शर्करा पर्याप्त मात्रा पाई जाती हैं। कैल्शियम, लोहा भी पाया जाता है साथ विटामिन ए, बी और सी भी पाए जाते हैं। पूरी तरह से पके हुए खजूर में शर्करा की मात्रा 85 प्रतिशत तक होती है। प्रति 100 ग्राम खजूर के सेवन से 283 कैलोरी उर्जा मिलती है। सर्दियों में दूध में उबालकर खजूर का सेवन करने से व जिस दूध में खजूर उबाले गए हैं उसे पी लेने से यौन शक्ति बढ़ती है-

लगभग 50 ग्राम की मात्रा में बिनौला को लेकर भून लें और कूटकर इसका चूर्ण बना लें लगभग 50 ग्राम की मात्रा में सफेद मूसली को लेकर बिनौला के चूर्ण के साथ अच्छी तरह से पीसकर चूर्ण बनाकर रख लें इसके बाद लगभग 3-3 ग्राम की मात्रा में सुबह और शाम इस चूर्ण को दूध के साथ सेवन करने से मनुष्य के शरीर में शक्ति का विकास होता है-

लगभग 250 ग्राम मालकांगनी को गाय के घी में भूनकर, इसमें 250 ग्राम शक्कर मिलाकर चूर्ण बना लें। अब इस चूर्ण को लगभग 6 ग्राम की मात्रा में गाय के दूध के साथ सुबह और शाम को खाने से मनुष्य के शरीर में ताकत का विकास होता है। इसका सेवन लगभग 40 दिनों तक करना चाहिए-

250 ग्राम की मात्रा में शुद्ध देसी घी में बनी जलेबियों को लगभग 250 मिलीलीटर गाय के दूध के साथ रोजाना सुबह के समय लेने से मनुष्य की लम्बाई बढ़ती है। इसका सेवन लगातार 2 या 3 महीने तक करना चाहिए-

दूध की मलाई में मिश्री मिलाकर खाने से शरीर को शक्ति मिलती है-

एक बादाम को घिसकर दूध में मिलाकर पीना चाहिए, इससे शरीर को बल मिलता है-

सफेद मूसली या धोली मूसली का एक चम्मच पाउडर, एक चम्मच पिसी मिश्री लेकर सुबह व रात को सोने से पहले गुनगुने दूध के साथ लें। यह बहुत शक्तिवर्धक है-

सर्दियों में उड़द की दाल से बने पदार्थ भी शक्ति बढ़ाने में विशेष रूप से लाभदायक है खासकर उड़द के लड्डू बनाकर उसका सेवन करने से सेक्स पॉवर बढ़ता है व शरीर शक्तिशाली बनता है-

च्यवनप्राश भी नियमित रूप से ले सकते हैं।आंवले के मुरब्बे के नियमित सेवन से भी जवानी कायम रहती है-

ठंड में ताकतवर बनने के लिए फल, सूखे मेवे, चोकर वाले आटे की चपाती, अंकुरित खाद्यान्न आदि अधिक मात्रा में लें-

घी व दूध का सेवन रोजाना करें और घी अधिक मात्रा में लेने के साथ ही हरी व पत्तेदार सब्जियों का अधिक सेवन करें-

शाकाहार का सेवन करने से सेक्स क्षमता बढ़ाने में मदद मिलती है-

दालचीनी को बारीक पीसकर इसका चूर्ण बना लें। शाम को इसके लगभग 2 ग्राम चूर्ण को 250 मिलीलीटर दूध में डालकर एक चम्मच शहद को मिलाकर पीने से शरीर की ताकत के साथ-साथ मनुष्य के वीर्य यानी धातु में भी वृद्धि होती है-

एक निश्चित मात्रा में तुलसी के बीज या पत्तों को भूनकर इतनी ही मात्रा में इसमें गुड़ मिलाकर लगभग 1-1 ग्राम की गोलियां बनाकर सुबह और शाम को 1-1 गोली गाय के दूध के साथ लेने से शरीर में भरपूर ताकत आती है और व्यक्ति की मर्दानगी भी बढ़ती है।लगभग आधा ग्राम की मात्रा में तुलसी के पीसे हुए बीजों को सादे या कत्था लगे पान के साथ रोजाना सुबह और शाम खाली पेट खाने से मनुष्य के वीर्य, बल और खून में वृद्धि होती है।लगभग एक भाग तुलसी के बीजों के चूर्ण को दो भाग पुराने गुड़ में मिलाकर खाने से शरीर में ताकत आती है। इसका प्रयोग लगभग 14 दिनों अथवा 40 दिनों तक करना चाहिए और इसका सेवन केवल सर्दी के दिनों में ही करना चाहिए-

उपचार और प्रयोग -

0 comments :

एक टिप्पणी भेजें

TAGS

आस्था-ध्यान-ज्योतिष-धर्म (38) हर्बल-फल-सब्जियां (24) अदभुत-प्रयोग (22) जानकारी (22) स्वास्थ्य-सौन्दर्य-टिप्स (21) स्त्री-पुरुष रोग (19) पूजा-ध्यान(Worship-meditation) (17) मेरी बात (17) होम्योपैथी-उपचार (15) घरेलू-प्रयोग-टिप्स (14) चर्मरोग-एलर्जी (12) मुंह-दांतों की देखभाल (12) चाइल्ड-केयर (11) दर्द-सायटिका-जोड़ों का दर्द (11) बालों की समस्या (11) टाइफाइड-बुखार-खांसी (9) पुरुष-रोग (8) ब्लडप्रेशर (8) मोटापा-कोलेस्ट्रोल (8) मधुमेह (7) थायराइड (6) गांठ-फोड़ा (5) जडी बूटी सम्बन्धी (5) पेशाब में जलन(Dysuria) (5) हीमोग्लोबिन-प्लेटलेट (5) अलौकिक सत्य (4) पेट दर्द-डायरिया-हैजा-विशुचिका (4) यूरिक एसिड-गठिया (4) सूर्यकिरण जल चिकित्सा (4) स्त्री-रोग (4) आँख के रोग-अनिंद्रा (3) पीलिया-लीवर-पथरी-रोग (3) फिस्टुला-भगंदर-बवासीर (3) अनिंद्रा-तनाव (2) गर्भावस्था-आहार (2) कान-नाक-गले का रोग (1) टान्सिल (1) ल्यूकोडर्मा-श्वेत कुष्ठ-सफ़ेद दाग (1) हाइड्रोसिल (1)
-->