Aloevera-एलोवेरा जूस कैसे बनायें

8:54 am 2 comments
Aloevera-एलोवेरा एक महत्वपूर्ण पौधा है इसे अनेक नामो से जाना पहचाना जाता है ये शरीर की प्रतिरोधक छमता को विकसित करता है Aloevera कई नामो से भी जानते हैं जैसे ग्वारपाठा,क्वारगंदल,घृतकुमारी,कुमारी,घी-ग्वारएलोवेरा आदि ये रक्त में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित करता है यह बालों में कंडीशनर के रूप में, त्वचा में निखार लाने,त्वचा के दाग-धब्बे मिटाने,कील-मुंहासे दूर करने,फटी एडियों को ठीक करने तथा कब्ज निवारक औषध‍ि के रूप में भी उपयोग में लाया जाता है इसका जेल जली हुई त्वचा में लगाने पर आराम मिलता है इसका जूस यदि घर पे एलोवेरा(Aloevera)का पौधा है तो आप आसानी से इसका जूस निकाल सकते है-

Aloevera


कैसे निकाले एलोवेरा(Aloevera)जूस-

सबसे पहले आप आवस्यकता अनुसार एलोवेरा(Aloevera)की पत्तियां ले और उसे अच्छी तरह पानी से धो ले उसके बाद चाकू से उसके किनारे के कांटे वाले भाग काट कर निकाल दें अब पत्तियों को सुविधानुसार छोटे-छोटे पीस में बांट लें फिर पत्तियों के टुकडे लेकर उसके ऊपर का हरा वाला छिलका निकाल कर अलग कर दें ध्यान रहे ऐसा करते समय पत्तियों के गूदे के ऊपर की पीले रंग की पर्त भी साथ में निकाल दें नहीं तो जूस में कड़वाहट रह जाएगी और आप उसका सेवन नहीं कर सकेंगे-


एलोवेरा(Aloevera)के सफेद भाग को अलग करने के बाद उसे मिक्सी में डालें और दो मिनट के लिए मिक्सी को चला दें इससे एलोवेरा की पत्तियों का जेल जूस में बदल जाएगा अब इसे गिलास में निकालें और इसमें उचित मात्रा में पानी और नमक मिला लें यदि आप चाहें तो इसमें फलों का जूस भी मिला सकते हैं ऑरेंज(संतरा)जूस इसके स्वाद को टेस्टी बना देता है इससे एलोवेरा(Aloevera)जूस स्वादिष्ट हो जाएगा और आपको पीने में दिक्कत नहीं होगी आप इसे आइस क्यूब डालकर भी ले सकते है अगर आप डायट पर हैं तो इस एलोवेरा जूस को रोज पियें-

एलोवेरा(Aloevera)जूस में काफी प्रोटीन,10 तरह के विटामिन और 30 प्रकार के एंजाइम पाए जाते हैं-

जाने एलोवेरा(Aloevera)जूस के फायदे-

  1. एलोवेरा(Aloevera)का जूस पीने से त्वचा की खराबी,मुहांसे,रूखी त्वचा,धूप से झुलसी त्वचा,झुर्रियां,चेहरे के दाग धब्बों,आखों के काले घेरों को दूर किया जा सकता है-
  2. एलोवेरा(Aloevera)का जूस त्वचा की नमी को बनाए रखता है जिससे त्वचा स्वस्थ्य दिखती है यह स्किन के कोलेजन और लचीलेपन को बढाकर स्किन को जवान और खूबसूरत बनाता है-
  3. एलोवेरा(Aloevera)का जूस ब्लड को प्यूरीफाई करता है साथ ही हीमोग्लोबिन की कमी को पूरा करता है-
  4. एलोवेरा के जूस का नियमित रूप से सेवन करने से त्वचा भीतर से खूबसूरत बनती है और बढती उम्र से त्वचा पर होने वाले कुप्रभाव भी कम होते हैं-
  5. एलोवेरा का जूस बवासीर, डायबिटीज, गर्भाशय के रोग व पेट के विकारों को दूर करता है-
  6. Aloevera शरीर में वहाईट ब्लड सेल्स(White Blood Cells)की संख्या को बढाता है-
  7. एलोवेरा का जूस पीने से मच्छर काटने पर फैलने वाले इन्फेक्शन को कम किया जा सकता है-
  8. एलोवेरा का जूस मेहंदी में मिलाकर बालों में लगाने से बाल चमकदार व स्वस्थ होते हैं-
  9. एलोवेरा(Aloevera)के जूस का हर रोज सेवन करने से शरीर के जोडों के दर्द को कम किया जा सकता है-
  10. नजले-खांसी(Coughs catarrh)में एलोवेरा का रस दवा का काम करता है इसके पत्ते को भूनकर रस निकाल लें और आधा चम्मच जूस एक कप गर्म पानी के साथ लेने से नजले-खांसी में फायदा होता है-
  11. जलने-चोट(Burns-Injury)लगने पर एलोवेरा जेल या एलोवेरा(Aloevera)को छिलकर लगाने से आराम मिलता है जली हुई जगह पर एलोवेरा जेल लगाने से छाले भी नहीं निकलते और तीन-चार बार लगाने से जलन भी खत्म हो जाती है-
  12. एलोवेरा गंजेपन(Baldness)को भी दूर करने की ताकत रखता है-
  13. तेज धूप में निकलने से पहले एलोवेरा का रस अच्छी तरह त्वचा पर लगाने से त्वचा पर सनबर्न(Sunburn)का कम असर पड़ता है-
  14. एलोवेरा(Aloevera)को सरसों के तेल में गर्म करके लगाने से जोड़ों के दर्द(Joint Pain)को कम किया जा सकता है-
  15. सौंदर्य निखार के लिए हर्बल कॉस्मेटिक प्रोडक्ट जैसे एलोवेरा जैल, बॉडी लोशन, हेयर जैल, स्किन जैल, शैंपू, साबुन, फेशियल फोम आदि में प्रयोग किया जा रहा है-

Upcharऔर प्रयोग-

2 टिप्‍पणियां :

  1. एलोवेरा के प्रोप्रोडक्ट उत्तर प्रदेश के वाराणसी व इलाहाबाद शहर में कहा से मिलेंगे।पता क्या है।

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. एलोवेरा का कोई भी प्रोडक्ट आपको आपके किसी भी शहर में 'पातान्जली चिकित्सालय' से मिल जाएगा

      हटाएं

TAGS

आस्था-ध्यान-ज्योतिष-धर्म (55) हर्बल-फल-सब्जियां (24) अदभुत-प्रयोग (22) जानकारी (21) स्वास्थ्य-सौन्दर्य-टिप्स (21) स्त्री-पुरुष रोग (19) एलर्जी-गाँठ-फोड़ा-चर्मरोग (17) मेरी बात (17) होम्योपैथी-उपचार (15) घरेलू-प्रयोग-टिप्स (14) मुंह-दांतों की देखभाल (12) चाइल्ड-केयर (11) दर्द-सायटिका-जोड़ों का दर्द (11) बालों की समस्या (11) टाइफाइड-बुखार-खांसी (9) पुरुष-रोग (8) ब्लडप्रेशर (8) मोटापा-कोलेस्ट्रोल (8) मधुमेह (7) थायराइड (6) पेशाब रोग-हाइड्रोसिल (6) जडी बूटी सम्बन्धी (5) हीमोग्लोबिन-प्लेटलेट (5) अलौकिक सत्य (4) पेट दर्द-डायरिया-हैजा-विशुचिका (4) यूरिक एसिड-गठिया (4) सूर्यकिरण जल चिकित्सा (4) स्त्री-रोग (4) आँख के रोग-अनिंद्रा (3) पीलिया-लीवर-पथरी-रोग (3) फिस्टुला-भगंदर-बवासीर (3) अनिंद्रा-तनाव (2) गर्भावस्था-आहार (2) कान-नाक-गले का रोग (1) टान्सिल (1) ल्यूकोडर्मा-श्वेत कुष्ठ-सफ़ेद दाग (1)
-->