युवावस्था में गंजापन - Young man baldness

9:43 pm Leave a Comment
हमारे भोजन में कतिपय ऐसे मिनरल्स पाये जाते हैं जिनका गंजापन विरोधी प्रभाव होता है सबसे महत्वपूर्ण तत्व जो गंजापन दूर कर सकते हैं वे हैं- जिंक, कापर ,लोह तत्व और सिलिका. जिंक में गंजापन नष्ट करने वाले तत्व पाये जाते हैं केले, अंजीर,बेंगन ,आलू और स्ट्राबेरी में जिंक की संतोषप्रद मात्रा निहित होती है-


कॉपर या ताँबा हमारे इम्युनसिस्टम को को मजबूत करते हुए बालों की सुरक्षा करता है। रक्त में हीमोग्लोबिन की वृद्धि के लिये कॉपर सहायता करता है-

दालें,सोयाबीन और वालनट आदि में कॉपर तत्व पाया जाता है। लोह तत्व बालों की सुरक्षा और पोषण के लिये आवश्यक है। मटर,गाजर, चिकोरी, ककडी,और पालक में पर्याप्त आयरन होता है। अपने भोजन में इन्हें शामिल करना उचित है-

सिलिका तत्व चावल और आम में मौजूद रहता है-

गंजेपन का उपचार-


उड़द की दाल को उबाल कर पीस लें। रात को सोते समय इस पिट्ठी का लेप सिर पर कुछ दिनों तक करते रहने से गंजापन समाप्त हो जाता है-

मेथी को पूरी रात भिगो दें और सुबह उसे गाढ़ी दही में मिला कर अपने बालों और जड़ो में लगाएं। उसके बाद बालों को धो लें इससे रूसी और सिर की त्वचा में जो भी समस्या होगी वह दूर हो जाएगी। मेथी में निकोटिनिक एसिड और प्रोटीन पाया जाता है जो बालों की जड़ो को प्रोषण पहुंचाता है और बालों की ग्रोथ को भी बढ़ाता है। इसके प्रयोग से सूखे और डैमेज बाल भी ठीक हो जाते हैं-

हरे धनिए का लेप जिस स्थान पर बाल उड़ गए हैं वहां करने से बाल उगने लगते हैं इसमें समय लगता है लेकिन स्थाई इलाज है -

थोड़ी सी मुलैठी को दूध में पीसकर, फिर उसमें चुटकी भर केसर डाल कर उसका पेस्ट बनाकर सोते समय सिर में लगाने से गंजेपन की समस्या दूर होती है-

केले का गूदा निकालकर उसे नीँबू के रस में मिलाकर सिर पर लगाने से बालों के उडने की समस्या में लाभ होता है।

अनार की पती पीसकर पर लगाने से गंजेपन का निवारण होता है-

प्याज काटकर दो भाग करें। आधे प्याज को सिर पर 5 मिनिट रोज रगडें, बाल आने लगेंगे-

जाने प्याज के कितने फायदे है यहाँ क्लिक करे और जाने - 


उपचार और प्रयोग -


0 comments :

एक टिप्पणी भेजें

-->