Breaking News

होली की सभी को शुभ-कामनाये

होली(Holi)की सभी परम मित्रो-दोस्तों-भाभी-सालियों-घरवालियो-दादा-से पोते तक नेता से अभिनेता तक चुनाव रिजल्ट का इन्तजार करते कार्यकर्ता,लुट-खसोट करने वाले दादा भाई,रात दिन आलोचना में कार्य-रत रहने वाले महान नेताओं,मीडिया के डिबेट करने वाले महान एंकर मित्र तथा देश को वन्देमातरम से होने वाली एलर्जी से दूर रहने वाले सभी महान लोगो को भी होली की शुभ कामनाये !

होली की सभी को शुभ-कामनाये

देश को और राज्य को प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री तक वो व्यक्ति ही चाहिए जो देश के धन को लीलता न हो और बुरा न मानो होली के नाम पर कहीं भी अश्लीलता न हो-

देखे अनदेखे-अनजाने देवर आने वाले हैं घर पर इतने ‘कूल ड्यूड' देवर धावा बोलेंगे कि भाभी को भी लगेगा कि होली के अलावा कुछ और है ही नहीं और भाभी के भी आज मजे होने वाले है रंगों में सराबोर करके बोलेगें ये देवर-बुरा न मानों होली है-

आज के दिन सभी भाभियाँ अपनी उम्र को लेकर बहुत कन्फ़्यूज हो जाती है बार-बार यही सोचती है कि आखिर मैं हूं कितने साल की क्योंकि 15 साल से लेकर 65 साल तक अनेक साइजों और रूपों के देवर अंग-अंग में रंग लगाने आते हैं-और कुछ देवर कच्ची-पक्की चढ़ाने के बाद अपने साइज की भाभियों की तलाश में निकल पड़ते हैं सच तो ये भी है इनमें से कई देवर तो पूरा-पूरा साल ताड़ के रखते हैं कि किसको,कहां और कैसे रंग लगाना है-

भाभियां छत पर,ओसारे में, भीतर वाले कमरे में, भूसे के कोठे में, पता नहीं कहां-कहां दुबक के बैठती हैं पर ये जासूस के वंशज देवर उन्हें खोज कर ढूढ ही निकालते हैं और अपना मकसद पूरा कर ही लेते हैं क्युकि होली का दिन ही इन देवरों को स्पेशल  ‘लाइसेंस टू किल’ की तरह ‘लाइसेंट टू टच’ ‘लाइसेंस टू रब’ और ‘लाइसेंस टू हग’ मिल जाता है-

आपको याद ही होगा जब संसद भवन में भूतपूर्व कांग्रेसी और मौजूदा भाजपाई सांसद जगदंबिका पाल ने भी हेमा मालिनी के गालों पर गुलाल मल दिया था लेकिन हम ऐसा नहीं कह सकते कि ये जगदंबिका की कोई सालों पुरानी हसरत रही होगी-

भाभियों के पतियों को बैठे-बिठाए आज इन्ही देवरों से बोतलों की शौगात मिल जाती है और जब वो पी कर मस्त हो जाते है तब शुरू होता है देवरों का रंगारंग होली समारोह-

अधिक जानकरी आप यहाँ भी देख सकते है-

चलिए इससे पहले कि ये त्यौहार शुरू हो जाए और ये बधाइयो का सिलसिला आम हो जाए तथा रंगों में मेरा नाम न कहीं खो जाए तो फिर अभी से ही होली की राम-राम हो जाए.!

इन रंगों के त्यौहार में हो सभी रंगों कि भरमार-ढेर सारी खुशियों से भरा हो आपका संसार और करता रहूगां भगवान् से यही दुआ बारम्बार कि आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाएँ-

Satyan Srivastava


Upcharऔर प्रयोग-

कोई टिप्पणी नहीं