बच्चों का हकलाना-Children Stutter

11:46 am Leave a Comment
बच्चों का हकलाना-Children Stutter

बच्चों का हकलाना-Children Stutter-

ग्वालियर के ए.जी. आफिस में शर्मा जी आडिटर थे तथा शास्त्री नगर के शासकीय आवासों में ही उनका निवास स्थान था उस समय ठाठीपुर में येसा बाजार विकसित नहीं हुआ था जैसा कि आजकल है इसलिए उनको बाजार-हाट के लिए मुरार(ग्वालियर) ही आना पड़ता था -

एक बार शर्मा जी अपनी दवा लेने के लिए मेरे पास आये साथ में उनका चार वर्ष का बेटा भी था -दवा ले कर चलते वक्त शर्मा जी ने अपने बच्चे से कहा कि डॉक्टर अंकल को नमस्ते करो -बच्चा हकलाते हुए बोला- अंकिल ननननमस्ते-

मैने कहा देखो भाई ,हम तो येसे नमस्ते करते नहीं है यह कह कर मैने उसे "स्ट्रैमानियम1000" की दो पुड़ियाँ दे दी और कहा कि आधे-आधे घन्टे से दो बार अभी दे दो -उस समय दिन के ग्यारह बजे थे -सौदा-सामान लेते शर्मा जी को काफी समय लग गया-

लौटते-लौटते शर्मा जी को दो बज गए और संयोग से एक अन्य परिचित उन्हें मिल गए तो उन्होंने बच्चे को उनसे नमस्कार करने को कहा -बच्चे ने बिना हकलाये सीधे-सीधे नमस्कार कर लिया-अब तो शर्मा जी के आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा -उस दिन रविवार था सो मै क्लिनिक पर केवल दोपहर दो बजे तक ही बैठता था शर्मा जी लौटते वक्त मेरे पास आये और बच्चे को मुझसे नमस्ते करने को कहा -उसने शुद्ध उच्चारण के साथ मुझसे नमस्कार कर लिया -

मैने बच्चे से कहा 'यह हुई न कुछ बात और आशीर्वाद दे दिया सदा सुखी भव !'


आप हमारी सभी पोस्ट होम्योपैथी के केस की एक साथ इस लिंक पे जाके देख सकते है -

लिंक- Disease-Homeopathy

  • मेरा पता-
  • KAAYAKALP
  • Homoeopathic Clinic & Research Centre
  • 23,Mayur Market, Thatipur, Gwalior(M.P.)-474011
  • Director & Chief Physician:

  • Dr.Satish Saxena D.H.B.
  • Regd.N.o.7407 (M.P.)
  • Ph :    0751-2344259 (C) 0751-2342827 (R)
  • Mo:    09977423220

0 comments :

एक टिप्पणी भेजें

-->