Breaking News

पायरिया रोग क्या है बनायें एक बेहतरीन मंजन

जो लोग खाना खाने के बाद दांतों की ठीक से सफाई नहीं कर पाते है जिसके कारण अन्न का कण मसूडो में रह जाता है तो आपको पायरिया(Pyorrhoea)जैसी घातक बीमारी होने की संभावना हो सकती है मुंह से गन्दी बदबू आना और दांतों में दर्द और मसूड़ों में सूजन तथा मसूड़ों से खून आना(Gums Bleeding)पायरिया के लक्षण हो सकते है केवल एक या दो बार दिन में टूथ-ब्रश से पेस्ट करना दांतों की रक्षा नहीं कर पाता है-

पायरिया(Pyorrhoea)

ठन्डे पर गर्म का सेवन या गर्म खाना खाने के बाद आइसक्रीम का सेवन या फिर ठीक से खाना खाने के बाद कुल्ला न करना या आपको एसिडिटी(Hyperacidity)रहना , रात को मुंह खोल कर सोना आदि कारणों से दांतों में पस पड़ जाता है ध्यान न दिया गया तो ये रोग का निवारण मुश्किल सा हो जाता है-

फिर आप कितना भी बदल-बदल कर मंजन कर ले सभी व्यर्थ ही सिद्ध होते है स्वयं और पास किसी को भी आपके मुंह से बदबू का एहसास होता ही है यदि इसे नहीं रोका गया तो आपके दांत भी गिर सकते है यदि आप भी मसूड़ों की बीमारी या पायरिया(Pyorrhoea)से ग्रसित हैं तो आप घर पे ही मंजन बना ले-

सामग्री-


काले सिरिस(शिरीष) के बीज -50 ग्राम 
रीठे के छिलको की अधजली राख -50 ग्राम 
फुलाया हुआ नीला थोथा(तुत्थ भस्म)-20 ग्राम 
त्रिफला चूर्ण-150 ग्राम 
बढ़िया अकरकरा-10 ग्राम
बायबिडंग-10 ग्राम
पतंग(एक दवा)-10 ग्राम 
सोंठ-10 ग्राम 
समुद्रफेन -10 ग्राम
माजूफल-10 ग्राम 
काली मिर्च-10 ग्राम 
रूमी मस्तंगी-10 ग्राम 
फुलाई हुई फिटकरी-100 ग्राम 
जली हुई सुपारी-100 ग्राम 
कपूर-10 ग्राम 
पीपरमेंट-10 ग्राम 
सेंधा नमक-100 ग्राम 
तुम्बरू (तोमर-तेजबल) बीज-20 ग्राम 
सोना गेरू-50 ग्राम (भुनी हुई )

आप इन सभी चीजो का बारीक चूर्ण बना कर एक एयरटाईट कंटेनर या किसी साफ़ कांच की बरनी में रक्खे तथा प्रतिदिन सुबह और रात को सोने से पहले दो ग्राम पावडर दाहिने हाथ की तर्जनी अंगुली से दांतों और मसूड़ों की अच्छी तरह मालिस करे फिर पन्द्रह मिनट बाद ताजे जल से कुल्ला कर ले इस बात पे यकीन करे आपको इससे अच्छा पायरिया(Pyorrhoea)उपचार नहीं मिलेगा और यदि मंजन के बाद खदिरादि तेल दांतों पर मले तो अतिशीघ्र आपका पायरिया नियन्त्रण में आ जाएगा-

Read Next Post-


Upcharऔर प्रयोग-

कोई टिप्पणी नहीं