12 अप्रैल 2016

Pyorrhea-पायरिया-Disease-रोग क्या है

By
जो लोग खाना खाने के बाद दांतों की ठीक से सफाई नहीं कर पाते है और अन्न का कण मसूडो में रह जाता है तो आपको पायरिया(pyorrhea) जैसी घातक बीमारी होने की संभावना हो सकती है मुंह से गन्दी बदबू आना और दांतों में दर्द और मसूड़ों में सूजन(gum infection)तथा मसूड़ों से खून आना(bleeding gums)पायरिया के लक्षण(pyorrhea symptoms) हो सकते है केवल एक या दो बार दिन में टूथ-ब्रश से पेस्ट करना दांतों की रक्षा नहीं कर पाता है -

pyorrhea

ठन्डे पर गर्म का सेवन या गर्म खाना खाने के बाद आइसक्रीम का सेवन या फिर ठीक से खाना खाने के बाद कुल्ला न करना या आपको एसिडिटी(Hyperacidity) रहना ,रात को मुंह खोल कर सोना आदि कारणों से दांतों में पस पड़ जाता है ध्यान न दिया गया तो ये रोग का निवारण मुश्किल सा हो जाता है-

फिर आप कितना भी बदल-बदल कर मंजन कर ले सभी व्यर्थ ही सिद्ध होते है स्वयं और पास किसी को भी आपके मुंह से बदबू का एहसास होता ही है यदि इसे नहीं रोका गया तो आपके दांत भी गिर सकते है-

यदि आप भी मसूड़ों की बीमारी या Pyorrhea-पायरिया से ग्रसित हैं तो आप घर पे ही मंजन बना ले -


  •             *सामग्री*
  • काले सिरिस(शिरीष) के बीज -50 ग्राम 
  • रीठे के छिलको की अधजली राख -50 ग्राम 
  • फुलाया हुआ नीला थोथा(तुत्थ भस्म)-20 ग्राम 
  • त्रिफला चूर्ण-150 ग्राम 
  • बढ़िया अकरकरा-10 ग्राम
  • बायबिडंग-10 ग्राम
  • पतंग(एक दवा)-10 ग्राम 
  • सोंठ-10 ग्राम 
  • समुद्रफेन -10 ग्राम
  • माजूफल-10 ग्राम 
  • काली मिर्च-10 ग्राम 
  • रूमी मस्तंगी-10 ग्राम 
  • फुलाई हुई फिटकरी-100 ग्राम 
  • जली हुई सुपारी-100 ग्राम 
  • कपूर-10 ग्राम 
  • पीपरमेंट-10 ग्राम 
  • सेंधा नमक-100 ग्राम 
  • तुम्बरू (तोमर-तेजबल) बीज-20 ग्राम 
  • सोना गेरू-50 ग्राम (भुनी हुई )


इन सभी चीजो का बारीक चूर्ण बना कर एक एयरटाईट कंटेनर या किसी साफ़ कांच की बरनी में रक्खे तथा प्रतिदिन सुबह और रात को सोने से पहले दो ग्राम पावडर दाहिने हाथ की तर्जनी अंगुली से दांतों और मसूड़ों की अच्छी तरह मालिस करे फिर पन्द्रह मिनट बाद ताजे जल से कुल्ला कर ले इस बात पे यकीन करे आपको इससे अच्छा पायरिया उपचार(pyorrhea treatment) नहीं मिलेगा -

यदि मंजन के बाद खदिरादि तेल दांतों पर मले तो अतिशीघ्र आपका पायरिया नियन्त्रण में आ जाएगा -

और भी देखे-

Upcharऔर प्रयोग-

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

लेबल