Semen-सीमेंन कम है तो प्राप्त करें

1:45 pm Leave a Comment
नामर्दी(Impotency) आज सबसे बड़ी समस्या है-दिन भर लोग इसी बारे में पूछते है और इसका मुख्य कारण है अपरिपक्व अवस्था(Immature) से पहले ही हम अपने शरीर वीर्य(Semen)को बाहर करते है कालेज और होस्टल -दोस्तों के साथ कुसंगत में पड़ कर -अतृप्त इक्षाओं को आंदोलित करते है और इसी का घातक परिणाम आपको बाद में जाकर भुगतना पड़ता है आपके शरीर का वीर्य(Semen) आपके जीवन की अमूल्य निधि है इसे खोकर अपना जीवन व्यर्थ न गवाएं-

Semen


सब इस प्रकार के लोगो के साथ को आज से ही आपको छोड़ देना चाहिए जो आपको गलत मार्ग पर ले जा रहे है वो आपके जीवन के सबसे बड़े दुश्मन है -अब तक जो हुआ उसे वापस लाने के लिए आप हमारे बताये योग को प्रयोग करे और जीवन का आनंद ले -शादी शुदा व्यक्ति भी अगर अपने अंदर थोड़ी बहुत कमजोरी महसूस कर रहे है तो चिन्ता की बात नहीं सिर्फ एक बार के प्रयोग से ही आपको आगे भी करते रहने के लिए बाध्य करेगा -

ये प्रयोग आपके जीवन में वीर्य(Semen) को बढाने का कार्य करता है आपकी खोई हुई कमजोरी को लाता है और आपको फुल स्टेमिना(Stamina) देता है तो फिर इंतज़ार किस बात का -इधर उधर की भटकन से बचे और खुद ही बना कर प्रयोग करे -

सामग्री-

ऊंटगन के बीज- 250 ग्राम 
गोखुरू - 250 ग्राम 
क्रौंच बीज - 250 ग्राम 
सफ़ेद मूसली - 150 ग्राम 
इमलीबीज का पावडर -500 ग्राम 
मिश्री- 500 ग्राम 

(सभी सामग्री आयुर्वेद दवा बेचने वाले पंसारी से मिलेगी)

कैसे प्रयोग करना है-

सबसे पहले ऊंटगन के बीज ,गोखुरू ,क्रौंच बीज और सफ़ेद मूसली को साफ़ कर ले फिर आप इसे अलग-अलग पीस कर पावडर सा बना ले और चारो पिसी दवा को एक कांच के बर्तन में अलग-अलग रख ले - सभी पिसी दवा को थोडा-थोडा इस प्रकार ले कि एक छोटा चम्मच सामग्री हो - इस प्रकार एक-एक चम्मच दवा सुबह खाने से पहले दूध के साथ और रात को खाने से पहले दूध के साथ दस दिन ले -दस दिन के बाद आपको सिर्फ रात को ही खाने से पहले इस दवा को दूध से लेना है सुबह की बंद कर दे-

ऊंटगन के बीज


अब दसवें दिन से इमली बीज का पावडर और पिसी हुई मिश्री को दोनों का एक-एक चम्मच सुबह पानी से खाने के बाद लेना शुरू करना है -अगले दस दिन बाद इसे आप एक दिन छोडकर एक दिन ले -

जब तक ये दवा खत्म होगी आपके अंदर की खोई कमजोरी वापस आ चुकी होगी बस आपको ध्यान रखना है कि आप दवा शुरू करने के दस दिन तक सेक्स से दूर रहे-

परहेज-

इस दवा का प्रयोग करने पर खटाई, बाहर की तली भुनी चीजों से दूर रहे - ख़ास कर चाइनीज फ़ूड बिलकुल न ले -यदि कब्ज है तो पहले कब्ज दूर करने के लिए उपाय करना चाहिए फिर इस दवा का प्रयोग शुरू करे-

लाभ-

  1. जो व्यक्ति पचास की उम्र पार कर चुके है उनको अपनी जवानी बरकरार रखने के लिए एक बार अवश्य आजमाना चाहिए-
  2. शादी-शुदा को लेते रहने से उसका स्टेमिना बरकरार रहता है-
  3. जो सिर्फ दो मिनट में ही अपना खेल खत्म कर लेते है उनके लिए तो बहुत ही लाभदायक प्रयोग है-
  4. और भी देखे-

Upcharऔर प्रयोग-

0 comments :

एक टिप्पणी भेजें

-->