Eye Squint-आँखों का भैंगापन

7:15 pm Leave a Comment

Eye Squint-आँखों का भैंगापन-

निजी स्कूल के एक शिक्षक मेरे घर बवासीर की दवा लेने आते थे एक दिन वे मुझ से बोले मेरी ये मापेड बिकवा दो तो मैंने अपने मन में बिचार किया कि मध्यम वर्गीय परिवार में कोई कीमती सामान मुश्किल से ही खरीदा जाता है और उसे बेचा तो तभी जाता हे जब कि कोई बिशेष संकट आ खडा होता है  मैंने उनसे पूछा कि आप मोपेड क्यों बेचना चाहते हैं तब उन्होंने बताया कि मेरी एक दस वर्षीय बेटी है उसकी बाईं आंख में Squint(भेंगापन)है और मैंने उसे अलीगढ और सीतापुर के अस्पतालों में दिखाया है उन्होंने आँपरेशन करने की सलाह दी है-

Eye Squint


मै एक प्राइवेट स्कूल का टीचर हूँ और मेरे पास पैसे की इतनी व्यवस्था है नहीं और आपरेशन तो कराना ही है क्यों कि बेटी की जिन्दगी का सबाल है तब मैंने उनसे कहा कि एक दिन मुझे भी दिखा दो दूसरे ही दिन वे उसे लेकर आ गये-मैंने उसे देख कर 'कांस्टीकम 1000' की दो पुडिंयां दे दी और कहा इसे  आज आधे-आधे- घन्टे से दे देना तथा मुझे एक सप्ताह बाद बताना - 

अगले दिन वे फिर आकर खडे हो गये मैंने सोचा कि शायद दवा की पुड़ियाँ कमीज धोने में पानी के साथ घुल गई होगी जैसा कि अक्सर फ्री दवाओं में होता है  अत: मै कुछ नाराज सा होने लगा तब वे बोले- कृपया नाराज मत होइये, मेरा निवेदन हैं कि बच्ची को एक बार और देख लीजिये तब मैंने बच्ची को बुलाया और उसे ऊपर, नीचे, दायें, बायें, हर छोर देखने के लिये कहा पर थोडा सा भी भेंगापन कहीं नहीं दिखा उन्होंने मुझ से पूछा कि मेरी बेटी का भेंगापन इतनी जल्दी विना आपरेशन के कैसे ठीक हो गया तब मैंने उन्हें बताया कि आँखों के दोनों ओर एक एक माँस पेशी होती है जो आँखी के गोलक का संचालन करती हैं  यदि किसी एक ओर की माँस पेशी में तनाव ज्यादा हो जाये तो यह आँख उस ओर ज्यादा और जल्दी मुड जाती है -

हमने जो दवा दी उस दवा से माँस पेशियों का तनाव बराबर ही गया इस लिये उनका संचालन भी समान हो गया उन्होंने पूछा कि एलोपैथिक डॉक्टर क्या करते तब उनको मैने कहा जिस तरफ तनाव ज्यादा होता उस तरफ़ के कुछ टिस्यू काट देते - परन्तु यह बाद में हानिकारक हो सकता है-

अब तो इस केस को 20 वर्ष से भी अधिक हो चुके हैं अच्छे घर मेँ उसका विवाह हो गया है और वह हर तरह से सुखी है-


संपर्क पता-

KAAYAKALP

Homoeopathic Clinic & Research Centre

23,Mayur Market, Thatipur, Gwalior(M.P.)-474011

Director & Chief Physician:

Dr.Satish Saxena D.H.B.

Regd.N.o.7407 (M.P.)

Mob :  09977423220(फोन करने का समय - दिन में 12 P.M से शाम 6 P.M)(WHATSUP भी  यही नम्बर है)

Dr. Manish Saxena

Mob : -09826392827(फोन करने का समय-सुबह 10A.M से शाम4 P.M.)(WHATSUP भी  यही नम्बर है )

Clinic-Phone - 0751-2344259 (C)

प्रस्तुति- Upcharऔर प्रयोग-

0 comments :

एक टिप्पणी भेजें

-->