21 मार्च 2018

पायरिया से परेशान है तो करे ये उपाय

Remedies for Pyorrhoea  


पायरिया (Pyorrhoea) दाँतों की एक गंभीर बीमारी होती है जो दाँतों के आसपास की मांसपेशियों को संक्रमित करके उन्हें हानि पहुँचाती है दांतों की साफ सफाई में कमी होने से जो बीमारी सबसे जल्दी होती है वो है पायरिया-सांसों की बदबू, मसूड़ों में खून और दूसरी तरह की कई परेशानियां भी होती है जाड़े के मौसम में पायरिया (Pyorrhoea) की वजह से ठंडा पानी पीना भी बहुत मुश्किल हो जाता है और पानी ही क्यों कभी-कभी तो हवा भी आपके दांतों को सिहरा देता है-

पायरिया से परेशान है तो करे ये उपाय

पायरिया से परेशान है तो करे ये उपाय-


जो लोग खाना खाने के बाद दांतों की सफाई ठीक ढंग से नहीं करते हैं उनको पायरिया जैसी घातक बीमारी होने की संभावना हो सकती है मुंह से गंदी बदबू आना, दांतों में दर्द और मसूड़ों में सूजन और खून आना पायरिया (Pyorrhoea) के लक्षण भी हो सकते हैं अगर पायरिया को रोका ना गया तो इस बीमारी की वजह से आपके पूरे दांत गिर सकते हैं-

कई लोग ब्रश तो अच्‍छी तरह से कर लेते हैं मगर जब बात जीभ को साफ करने की आती है तो वह उसे ऐसे ही छोड़ देते हैं जिससे मुंह में बैक्‍टीरिया पनपने लगते हैं यह भी पायरिया (Pyorrhoea) होने का एक बड़ा कारण है-

पायरिया (Pyorrhoea) का आयुर्वेदिक उपचार-


1- नीम की पत्‍तियों को धो कर छाया में सुखा लें और फिर उसे एक बर्तन में रख कर जला लें और जब पत्‍तियां जल जाएं तब बर्तन को ढंक दें और फिर कुछ देर के बाद राख में आप सेंधा नमक मिला लें अब इस मिश्रण को शीशी में भर कर लख लें और चूर्ण बना कर दिन तीन चार बार मंजन करें-

2- 200 मिलीलीटर अरंडी का तेल, 5 ग्राम कपूर और 100 मिलीलीटर शहद को अच्छी तरह मिला दें और इस मिश्रण को एक कटोरी में रखकर उसमे नीम के दातुन को डुबोकर दाँतों पर मलें और ऐसा कई दिनों तक करें-आपके लिए यह पायरिया को दूर करने के लिए एक उत्तम उपचार है-

3- प्याज के टुकड़ों को तवे पर गर्म कीजिए और दांतों के नीचे दबाकर मुंह बंद कर लीजिए इस प्रकार 10-12 मिनट में लार मुंह में इकट्ठी हो जाएगी फिर आप उसे मुंह में चारों ओर घुमाइए तथा फिर निकाल फेंकिए इस प्रकार आप दिन में चार-पांच बार आठ-दस दिन करें आपका पायरिया जड़ से खत्म हो जाएगा तथा दांत के कीड़े भी मर जाएंगे और मसूड़ों को भी मजबूती प्राप्त होगी-

4- सूखे मसाले जीरा, सेंधा नमक, हरड़, दालचीनी, दक्षिणी सुपारी को समान मात्रा में लें अब इसे बंद बर्तन में जलाकर पीस लें तथा इस मंजन का नियमित प्रयोग करें-

5- चुटकी भर सादा नमक चुटकी भर हल्दी में चार पांच बुंद सरसों का तेल मिला कर उंगली से दांतों पर लगाकर 20 मिनट तक रखें और लार आने पर थूकते रहें-

6- काली मिर्च के चूरे में थोडा सा नमक मिला कर दाँतों पर मलने से भी पायरिया के रोग से छुटकारा पाने के लिए काफी मदद मिलती है-

7- कच्‍चा अमरूद कच्चे अमरुद पर थोडा सा नमक लगाकर खाने से भी पायरिया के उपचार में सहायता मिलती है क्योंकि यह विटामिन सी का उम्दा स्रोत होता है जो दाँतों के लिए लाभकारी सिद्ध होता है-

8- आंवला जलाकर सरसों के तेल में मिलाएं अब आप इसे मसूड़ों पर धीरे-धीरे मलें तथा खस, इलायची और लौंग का तेल मिलाकर मसूड़ों में लगाएं-

9- बादाम के छिलके तथा फिटकरी को भूनकर फिर इनको पीसकर एक साथ मिलाकर एक शीशी में भर दीजिए-इस मंजन को दांतों पर रोजाना मलने से पायरिया रोग जल्दी ही ठीक हो जाता है-

10- पायरिया होने पर कपूर का टुकड़ा पान में रखकर खूब चबाने और लार एवं रस को बाहर निकालने से पायरिया रोग खत्म होता है-

11- एक गिलास गर्म पानी में 5 से 6 बूंद गर्म पानी में लौंग का तेल मिलाकर प्रतिदिन गरारे व कुल्ला करने से पायरिया रोग नष्ट होता है-

12- अनार के छिलके पानी मे डाल कर खूब खौला कर ठंडा कर लें -इस पानी से दिन मे तीन चार बार कुल्ले करें-इससे मुंह की बदबू से बहुत जल्द छुटकारा मिल जाएगा-

प्रस्तुती- Satyan Srivastava

Upcharऔर प्रयोग की सभी पोस्ट का संकलन

loading...

1 टिप्पणी:

  1. Aapne jo jankari di hai payariya par wah bahut hi achhi hai isse hmebahut hi labh hua hai dhanywad.

    उत्तर देंहटाएं

Tags Post

Information on Mail

Loading...