Breaking News

चाय का आपके शरीर में क्या प्रभाव होता है

चाय(Tea)आज सभी आयु और वर्गों के बीच अपनी पहचान बना चुका है और अब तो हम बचपन में ही अपने नौनिहालों को भी चाय पीने की आदत में शुमार करते जा रहे है लेकिन क्या आपको पता है कि एक कप Tea में चार ग्राम टैनिन होता है जो आपके शरीर में विष का काम करता है भले ये बात आपको हमारी बुरी लग सकती है लेकिन वास्तव में हम अपने बच्चों को अज्ञानतावश विष देने का ही काम कर रहे हैं-

चाय का आपके शरीर में क्या प्रभाव होता है

आसान तरीके से हमारी बात को समझने के लिए आप तैयार एक कप चाय(Tea)को बिना पिये कुछ समय पड़े रहने दीजिये और फिर एक-दो घण्टे बाद आप उसकी स्थिति देखें कि ऊपर को निकोटिन की परत के नीचे कालीं चाय होगी इस चाय के रंग में परिवर्तन कितना हो जायेगा आप खुद ही अंतर पायेगें-ठीक इसी प्रकार हमारी प्राकृतिक देह में जाकर यह दशा उस चाय की होती है-

आप अँगुली से चाय की उपरी परत को देखें कितनी चिपचिपी और मोटी होती है जो आँतों में विकार उत्पन्न करती है अब आप समझ ही गए होनें कि चाय कितना नुकसान करती है चाय से केवल ताजगी मिलती है इसका सिर्फ भ्रम मात्र होता है जबकि असल बात ये है कि चाय में टैनिन(Tannin)होता है जो शरीर में लौह तत्व(Iron)को पचाने में बाधा पहुँचाता है अत: लौह तत्व वाली चीजें व लौह-प्रधान औषधि लेने के दो घण्टे बाद चाय पियें और हो सके तो आप चाय पीने की आदत नहीं डालें और अधिक जानने के लिए आप गूगल पर भी Tannins Side Effects पर जाकर सर्च कर सकतें है-

चाय-कॉफी एक परम्परा-सी बन गई है जबकि चाय और कॉफी में पाया जाने वाला ‘कैफीन’ व्यक्ति में काम करने की क्षमता कम कर देता है क्या आप जानते है कि तीन कप कॉफी और एक कप चाय में 350 मि.ग्रा. कैफीन होता है और इतनी मात्रा में कैफीन का सेवन व्यक्ति में तनाव को बढ़ा सकता है साथ ही आपके अंदर से ध्यान केन्द्रित करने की क्षमता भी कम हो जाती है तथा मानसिक रूप से आपको कमजोर करती है-

चाय आपकी अाँतों और आमाशय को खराब करती है तथा चाय भूख को भी मारती है अधिक चाय पीने से आपकी नींद उड़ जाती है अर्थात अनिंद्रा की शिकायत भी हो जाती है साथ ही चाय पेट में एसिडिटी बढ़ाती है जादा मात्रा में चाय से कभी-कभी पेट में नासूर(Ulcer)हो जाता है अधिक चाय पीने से हृदय की धड़कन बढ़ती है और हृदय की बीमारी की संभावना रहती है तो आप क्यों चाय जादा पी कर अपने शरीर से ही दुश्मनी निकाल रहे है वैसे तो ये शरीर आपका है आपकी मर्जी है लेकिन यदि आपको थोडा भी शरीर से प्यार है तो इससे पूर्णतया नहीं तो कम तो कर ही सकतें है-





Upcharऔर प्रयोग-

कोई टिप्पणी नहीं

//]]>