This website about Treatment and use for General Problems and Beauty Tips ,Sexual Related Problems and his solution for Male and Females. Home treatment,Ayurveda treatment ,Homeopathic Remedies. Ayurveda treatment tips in Hindi and also you can read about health Related problems and treatment for male and female

loading...

10 मार्च 2017

होली में हर्बल रंग आप घर पर बना सकते है

By
होली रंगों का त्योहार है होली(Holi)का त्योहार आते ही लोग तरह-तरह के रंगों से सराबोर होना शुरू हो जाते हैं लेकिन बाजार में बिकने वाले कृत्रिम रंग आपकी सेहत के लिए काफी नुकसान दायक होते हैं तथा रंग खेलते समय इन कृत्रिम रंगों का आंखों में जाने का खतरा बना रहता है तथा ये कृत्रिम रंग त्वचा को भी नुकसान पहुंचाते हैं इसलिए होली में कृत्रिम रंगों से आपको बचने की जरूरत  है-
होली में हर्बल रंग आप घर पर बना सकते है

जी हाँ-होली में जहां तक हो सके कृत्रिम रंगों की जगह हर्बल रंगों का इस्तेमाल करना चाहिए यदि आप अपने बच्चों को खतरनाक केमिकल से बचाना चाहते है तो हर्बल रंग आप घर पर भी बना सकते हैं बस आपको इक्षाशक्ति होनी चाहिए- 

हर्बल पावडर कलर्स(Herbal Powder Colors)बनाने के लिए-


कोर्न फ्लोर में अपने पसंदीदा फ़ूड कलर की कुछ बुँदे मिलाइये और पानी से गाढ़ा पेस्ट बनाइये अब आप इसमें थोडी सी बुँदे ग्लिसरीन की भी मिलाइये और इसे थाली में फैला कर धुप में सुखा दीजिये-लगभग 2-3 घँटे में ही सुख कर ये पपड़ी जैसा हो जाएगा अब इसे हाथ से तोड़ लीजिये या फिर आप इसे मिक्सर में पीस लीजिये आपका सुरक्षित नेचुरल रंग तैयार है-

हर्बल कलर्स(Herbal Colors)बनाने के लिए-


यदि आपको लाल रंग बनाना है तो इसके लिए आप बीटरूट, अनार के छिलके,टमाटर या गाजर को पीसकर रस बना सकते हैं और उसको पानी में घोलकर अच्छी तरह से लाल रंग बना सकते हैं-

लाल रंग का गुलाल(Red color Gulal)बनाने के लिए-


जपाकुसुम या गुलाब की पंखुड़ियों को पीसकर आटे के साथ मिलाकर गुलाल बना सकते हैं या लाल चंदन के पावडर को भी आटे के साथ मिलाकर गुलाल बना सकते हैं यह आपकी त्वचा के लिए भी बहुत लाभदायक होता है-

नारंगी रंग(Orange Color)बनाने के लिए- 


टेसू या पलाश के फूल को पीसकर आप पावडर बना लें और उसको पानी में घोलकर नारंगी रंग का मजा लें सकते हैं नारंगी रंग का गुलाल बनाने के लिए आप पलाश के फूल का पावडर चंदन के पावडर में मिलाकर गुलाल भी बना सकते हैं-

पीला रंग(Yellow Color)बनाने के लिए- 


पीला रंग का होली खेलने के लिए हल्दी को पानी में मिलाकर रंग बना सकते हैं हल्दी या कसुरी हल्दी को उसके दुगुने मात्रा में बेसन के साथ मिलाकर पीले रंग का गुलाल भी बना सकते हैं बेसन के जगह पर हल्दी को मुल्तानी मिट्टी के साथ मिला सकते हैं दोनों ही त्वचा के लिए अच्छा होता है या फिर आप गेंदे के फूल को भी पीसकर पीला रंग बना सकते हैं-

हरा रंग(Green Colour)बनाने के लिए- 


आप धनिया या पालक के पत्ते को पीसकर पानी में मिलाकर हरा रंग बना सकते हैं इसके जगह पर मेंहदी के पावडर को समान मात्रा में आटे के साथ मिलाकर भी हरा रंग का गुलाल बना सकते हैं यह आपके बालों के लिए लाभदायक सिद्ध होता है-

बैंगनी रंग(Purple Colour)बनाने के लिए- 


चुकंदर या बीटरूट को बारीक काट कर रात भर पानी में भिगोकर रख दें अगले दिन सुबह उबाल लें और छानकर इसका रस निकाल लें-इस रस को पानी में मिलाकर सुंदर बैंगनी रंग से होली खेलने का मजा उठा सकते हैं-

ये सच है कि इन रंगो को बनाने में थोड़ी महेनत जरूर लगेगी पर आप यकीन मानिए आप पूरी तरह से बेफिक्र होकर आप बच्चों को इसे दे सकते है और होली(Holi)के रंगो का पूरा मजा ले सकते है यह सुरक्षित भी है और जल्दी छूट भी जाते है धोने पर-

प्रस्तुति- 
Chetna Kanchan Bhagat


Upcharऔर प्रयोग-

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें