2 अप्रैल 2017

अरबी की सब्जी खाने के फायदे और नुकसान

अरबी(Colocasia)को जनसामान्य व्यक्ति भी जानता है अरबी को लोग कई तरह से खाने में प्रयोग करते है कोई अरबी को सब्जी में इस्तेमाल करता है और कोई अरबी की जड़ को फलाहार के रूप में भी प्रयोग करता है लेकिन बहुत से लोगों को इसके अंदर समाहित पोषक तत्वों की जानकारी नहीं है सौ ग्राम अरबी(Colocasia)के अंदर चालीस से पैतालीस ग्राम तक कैलोरी है जो कि आलू से भी कहीं जादा है-

अरबी की सब्जी खाने के फायदे और नुकसान

अरबी(Colocasia)में फाइबर 3.7 ग्राम और 5 ग्राम प्रोटीन 648 मिलीग्राम पोटैशियम, विटामिन ए, सी, कैल्शियम और आयरन जैसे कई जरूरी पोषक तत्व भी विद्धमान हैं अरबी की जड़ों में प्राकृतिक फाइबर मौजूद होता है जिससे शरीर में ग्लूकोज और इंसुलिन की मात्रा उचित स्तर पर बनी रहती है

अरबी में एंटीऑक्सीडेंट्स की अधिकता की वजह से यह आपकी त्वचा के लिए भी अधिक फायदेमंद है साथ ही यह डायबिटीज के रोगियों के लिए फायदेमंद है ये लो ग्लाइकेमिक इंडेक्स की वजह से अरबी मधुमेह से शरीर को मुक्ति दिलाने में सहायक होता है-

चूँकि अरबी की जड़ों में विटामिन ए और ई पाया जाता है इसकी वजह से यह त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाए रखने में भी आपकी मदद करता है इसमें मौजूद ये सभी विटामिन शरीर की त्वचा को लंबे समय तक सेहतमंद और चमकदार बनाए रखते है एंटीऑक्सीडेंट्स की वजह से यह त्वचा के लिए बेहद उपयोगी होता है तो आप अरबी(Colocasia)की शक्लो-सुरत पर मत जाइए बस इसके गुण और अवगुण दोनों जाने-

अरबी(Colocasia)खाने के फायदे और नुकसान-


1- पेशाब में होने वाली जलन को दूर करने के लिए अरबी के पत्तों के दस ग्राम रस को तीन-चार दिन तक सेवन करें आपको तुरंत ही फायदा देखने को मिलेगा-

2- अरबी के पत्तों को उबालकर फिर उसको छानकर तथा उसमें थोडा सा घी मिलाकर कुछ दिनों तक सेवन करने से वायु के कारण उत्पन्न गुल्म समस्या दूर हो जाती है-

3- जिन लोगों को ह्रदय रोग की शिकायत रहती है उन लोगों को अरबी की सब्जी पचीस ग्राम मात्रा में रोजाना खाने से  ह्रदयरोग में भी लाभ होता है-

4- जिन लोगों को उच्च रक्तचाप की समस्या है उन लोगों को अरबी एक गुणकारी सब्जी है इसका सेवन अवश्य करना चाहिए-

5- अरबी के पत्तों का रस निकालकर किसी हल्के आघात से खून निकलने पर पर लेप करने से तुरंत खून निकलना बंद हो जाता है-अरबी के पत्ते के डण्ठल जलाकर उनकी राख तेल में मिलाकर लगाने से फोड़े भी मिटते है-

6- यदि आपको पित्त की समस्या है तो अरबी के ताजे, कोमल पत्तों का रस निकालकर, दस ग्राम मात्रा में लेकर उसमें थोड़ा-सा भूना हुआ जीरा पीसकर मिलाकर सेवन करने से आपकी पित्त समस्या दूर होती है-

7- अरबी आपके ब्लड प्रेशर की समस्या को भी नियंत्रित करती है चूँकि अरबी में मिनरल्स पोटैशियम और मैग्नेशियम आदि होते है जो आपके ब्लड प्रेशर संचार को ठीक रखते है तथा यह आपके तनाव को भी दूर करता है तथा रक्त संचार को नियमित करने में भी बेहद सहायक होता है-

8- जिन माताओं-बहनों को अपने शिशु को कम दूध होने के कारण समस्या का सामना करना पड़ता है उन्हें अरबी(Colocasia)की सब्जी रोजाना खिलाने से कुछ ही दिनों में स्त्रियों के स्तनों में दूध की वृद्धि होने लगती है-

9- खांसी से बहुत ही लोग परेशान रहते हैं क्या आपको पता है कि अरबी में ऐसे गुण होते हैं जो लंबे समय से चली आ रही खांसी को दूर कर सकता है-आप अरबी को धीमी कंडे की आग में भून कर सेवन करें-

10- अरबी त्वचा का सूखापन और झुर्रियाँ भी दूर करती है सूखापन चाहे आंतों में हो या सांस-नली में अरबी खाने से लाभ होता है-

अरबी कौन न खाएं-

1- कच्चे रूप में अरबी को नहीं खाना चाहिए आपके गले में जलन हो सकती है तथा इसका पौधा जहरीला भी हो सकता है-

2- जिन लोगों को अस्थमा की शिकायत है उनको अरबी की सब्जी नहीं खाना चाहिए क्युकि अरबी के पत्ते शरीर में कफ को बढ़ाते हैं-


3- जिन लोगों को वात रोग की शिकायत है ऐसे रोगियों के लिए अरबी का सेवन हानिकारक होता है इसलिए ऐसे रोगियों को अरबी का सेवन नहीं करना चाहिए-

4- इसके अलावा जिन लोगों के घुटनों में दर्द होने की शिकायत हो और खांसी हो उन्हें भी अरबी का सेवन नहीं करना चाहिए-

5- प्रसव के बाद महिलाओं को अरबी का सेवन करने से वात विकार की अधिक सम्भावना रहती है तथा गैस से पीडित रोगियों को भी अरबी का सेवन हानि पहुंचाता है-


Upcharऔर प्रयोग-

1 टिप्पणी:

Loading...