Breaking News

गर्भवती होने पर आप ध्यान दें

आज के लाइफ स्टाइल में गर्भवती महिलाओं(Pregnant women)के लिए शिशु को जन्म देना भी किसी चैलेंज से कम नहीं है परिवार में जब बच्चा जन्म लेने वाला होता है तो ऐसे में पति-पत्नी के लिए सावधानियां बरतनी और भी ज्यादा जरूरी हो जाती है तब ऐसी स्थिति में थोड़ी सी असावधानी भी बाद में जाकर जच्चा-बच्चा के लिए जानलेवा साबित हो सकती है-

गर्भवती होने पर आप ध्यान दें

गर्भावस्था(Pregnancy)के दौरान महिलाओं को अपना विशेष ध्यान देना चाहिए और इस दौरान महिलाओं को संतुलित आहार लेना चाहिए क्यूंकि यही संतुलित आहार(Balanced diet)महिलाओं के लिए वरदान साबित होता है तथा हल्का व्यायाम(Exercise)इसमें फायदेमंद होता है-

गर्भधारण(Pregnancy)के बाद क्या करें-


1- गर्भधारण करने के बाद से महिलाओं को स्त्री रोग विशेषज्ञ से हमेशा ही रेगुलर जांच करवाते रहना चाहिए-

2- गर्भधारण के शुरू के दो महीनों में भूख कम लगती है इस दौरान महिलाओं को थोड़े-थोड़े अंतराल में हल्का भोजन भी अवश्य लेना चाहिए-

3- दो महीने के बाद भूख बढ़नी शुरू हो जाती है उस स्थिति में पर्याप्त मात्रा में पौष्टिक भोजन का सेवन करना चाहिए-

4- गर्भवती महिला के भोजन में प्रोटीन, वसा, कार्बोहाइड्रेट्स, विटामिन, खनिज-लवण व जल आदि का समुचित संतुलन होना जरूरी है-

5- गर्भवती महिला अगर पौष्टिक आहार का सेवन नहीं करती तो उसे एनीमिया(खून की कमी) होने का अंदेशा बना रहता है-

6- गर्भवती महिला को खट्टे, बासी व चर्बी वाले भोजन से दूर ही रहना चाहिए तथा गर्भावस्था में दौड़ लगाना, तैरना, टेनिस खेलना व घुड़सवारी करना करना भी वर्जित है महिला को भारी काम करने से भी बचना चाहिए इस अवस्था में आपके लिए हल्का व्यायाम अच्छा रहेगा-

7- शारीरिक तंदुरुस्ती के साथ-साथ मानसिक तंदरुस्ती की ओर भी विशेष ध्यान देना चाहिए क्यूंकि गर्भवती महिला को तनाव होने की सूरत में हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज व गर्भपात होने की आशंका बनी रहती है-

8- गर्भवती महिला को किसी अच्छे डाक्टर की सलाह से टेटनेस का इंजेक्शन जरूर लगवा लेना चाहिए-

9- गर्भवती महिला को हर महीने अपना यूरिन(मूत्र)टेस्ट अवश्य करवाना चाहिए-

Read More-  

गर्भवती महिला का आहार क्या हो

हर माह के अनुसार गर्भवती की देखभाल कैसे करें

घरेलू गर्भनिरोधक उपाय आजमायें
Upcharऔर प्रयोग-

कोई टिप्पणी नहीं

//]]>