loading...

2 अप्रैल 2017

अरबी के पत्ते के बारे में रोचक जानकारी

बाजार में आसानी से मिलने के बावजूद अरबी के पत्ते(Colocasia Leaves)लोगों में बहुत ज्यादा लोकप्रिय नहीं हैं लेकिन क्या आपको पता है कि अरबी की पत्तियों को खाने से कई तरह के रोगों से निजात भी पाया जा सकता है इसमें विटमिन ए, बी व सी कैल्शियम, प्रोटीन, पोटेशियम, आयरन, कार्बाेहाईड्रेट और ऐंटी-ऑक्सिडेंट भरपूर मात्रा में पाये जाते हैं-

अरबी के पत्ते के बारे में रोचक जानकारी

जिस तरह आलू, कचालू, रतालू जमीन के भीतर उगाए जाते हैं उसी तरह अरबी भी जमीन के भीतर उगाए जाते हैं इसलिए इसे कंद वर्ग की वनस्पति कहा जाता है इसे लोग प्राचीन काल से ही उगाते आ रहे हैं लोग इसकी जड़ की सब्जी तो बनाकर खाते ही हैं तथा साथ ही अरबी के पत्तों(Colocasia Leaves) की भी सब्जी बनाकर भी खाते है गर्मी और वर्षा के मौसम में उगाई जाने वाली अरबी रक्तपित्त को मिटाने वाली, दस्त को रोकने वाली सब्जी है-

अरबी के पत्तों(Colocasia Leaves)में विटमिन ए आँखों के लिये फायदेमंद होता है इससे आँखों की रोशनी तेज होती है और मांसपेशियों को मजबूती मिलती है साथ ही विटमिन सी झुर्रियों को दूर भगाने में मदद करता है कैल्शियम हड्डियों के निर्माण या मजबूती में भी एक अहम भूमिका निभाता है 

अरबी के पत्तों का सेवन करने से भूख कंट्रोल में रहती है चूँकि इसमें मौजूद फाईबर मेटाबॉलिज़म को सक्रिय बनाते हैं जिससे कारण आपका वजन नियंत्रण में रहता है अरबी के पत्ते जोड़ों के दर्द के लिये भी काफी फायदेमंद हैं इन पत्तों के बेसन में पकौड़े बनाकर खायें इससे भी आपको काफी लाभ मिलता है-

कार्बोंहाइड्रेट और प्रोटीन से भरपूर अरबी में आलू की अपेक्षा ज्यादा पौष्टिक होता है यह आपके मस्तिष्क को स्वस्थ्य रखता है साथ ही रक्तपित्त की विकृति को भी दूर करता है-अरबी के पत्तों की सब्जी जो लोग बनाना चाहते है हम इसे बनाने की विधि आपको शेयर कर रहे है-

अरबी के पत्ते की सब्जी के लिए सामग्री-


अरबी के पत्ते(Colocasia Leaves)- दस-बारह पत्ते
बेसन- 125 ग्राम
नमक- स्वादानुसार(एक तिहाई छोटी चम्मच)
लाल मिर्च- एक चौथाई छोटी चम्मच से कम
धनियां पाउडर- एक छोटी चम्मच

सब्जी को फ्राई करने के लिये सामग्री-


तेल-  दो बड़ा चम्मच
हींग- दो चुटकी
अजवायन- एक छोटी चम्मच
जीरा- आधा छोटी चम्मच
राई - आधा छोटी चम्मच
हल्दी पाउडर- एक चौथाई छोटी चम्मच
हरी मिर्च- दो पीस बारीक कतरी हुई
अदरक -  एक इंच लम्बा टुकड़ा बारीक कटा 
धनिया पाउडर- डेढ छोटी चम्मच
लाल मिर्च- 2 पिंच
अमचूर पाउडर- आधा छोटी चम्मच
गरम मसाला- एक चौथाई छोटी चम्मच
नमक- स्वादानुसार 
हरा धनियां- एक बड़ा चम्मच  कतरा हुआ

बनाने की विधि-

सबसे पहले अरबी के नरम पत्ते लेकर आप उनके डंठल तोड़ लीजिये और साफ पानी से धोकर एक एक करके प्लेट या चलनी में रखकर आप उसका पानी निकाल दीजिये ध्यान रहे पत्ते टूटने न पायें-

अब आप बेसन को किसी बर्तन में छानिये और पानी डाल कर गाढ़ा पेस्ट बना लीजिये बेसन के इस पेस्ट में नमक, लाल मिर्च और धनियां पाउडर आदि डाल कर मिला दीजिये-

अब आप अरबी के पत्ते को सीधी सतह को ऊपर करते हुये प्लेट पर रखिये और पतली परत बेसन की उस पर लगाइये तथा पत्ते को रोल करते हुये मोड़ लीजिये बस सारे पत्ते इसी तरह बेसन लगाकर आप मोड़ कर तैयार करके एक प्लेट में रखते जाएँ-

अब बेसन लिपटे हुए रोल को आप एक किसी बर्तन में पानी भर कर उपर किसी जाली को या सूती कपडे को बाँध कर उस पर रोल को रख कर किसी बर्तन को उल्टा रख कर ढक दें तथा पन्द्रह मिनट इसे आप भाप में पका लें-

फिर पकने के बाद ढक्कन को खोलिये तथा पत्तों को ठंडा कीजिये और अब इन पत्तों को आप एक इंच लम्बे टुकड़ों में काट लीजिये तथा फिर किसी कढ़ाई में तेल डाल कर गरम कीजिये तथा गरम तेल में हींग, अजवायन, जीरा और राई डालिये-जब जीरा, राई कड़कने लगे तब हल्दी पाउडर, हरी मिर्च, अदरक, धनिया पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, अमचूर पाउडर, गरम मसाला और नमक डाल कर चमचे से मसाले को मिलाकर हल्का ब्राउन भून लीजिये-

अब इस मसाले में कटे हुये अरबी के पत्ते डालकर मिलाइये और चमचे से चलाते हुये तीन से चार मिनिट तक भूनिये और अंत में सब्जी में कतरा हुआ हरा धनियां भी मिला दीजिये-अब आप सब्जी चपाती या परांठे साथ खा सकते है ये स्वादिष्ट लगेगी और आपके सेहत के लिए भी लाभ दायक होगी-


Upcharऔर प्रयोग-

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Loading...