22 अगस्त 2017

स्वप्नदोष होने के मुख्य क्या कारण हैं

loading...

What are the Main Reasons for Ejaculation


किशोरावस्था में विपरीत लिंग के प्रति आकर्षण, कामुकता, अश्लील साहित्य व अश्लील चलचित्रों का अवलोकन, खाने में तली-भुनी चीजों का ज्यादा इस्तेमाल, तेल-मसालेदार वस्तुओं का अत्यधिक सेवन, अधिक गर्म वस्तुएं चाय, कॉफ़ी आदि का अधिक प्रयोग, व्यायाम का अभाव व मानसिक तनाव ही स्वप्नदोष (Ejaculation) रोग के मुख्य कारण हैं-

स्वप्नदोष होने के मुख्य क्या कारण हैं

आजकल युवा वर्ग रात-दिन कामुक विचारों में रत रहने के कारण स्वप्न में भी युवा यही सब देखता है जिसके परिणामस्वरूप उसके प्राइवेट पार्ट से वीर्यपात होता रहता है वैसे तो स्वप्नदोष (Ejaculation) एक प्राकृतिक प्रक्रिया है पर जब इसके बाद सिरदर्द, चक्कर आना, कमजोरी, शिथिलता आदि दिखाई दे तो आपको इसके इलाज की ओर अवश्य ही ध्यान देना आवश्यक  हो जाता है-

वैसे तो स्वप्नदोष (Ejaculation) होना कोई समस्या नहीं है किशोरावस्था के दौरान लड़कों में स्वतः ही वीर्य स्खलन हो जाता है और यह एक सामान्य प्रक्रिया है जो एक किशोर लड़के के  जननांगों की परिपक्वता को दर्शाती है अध्कितर लड़कों में प्रातःकाल के समय  स्वतः वीर्य स्खलन होता है तथा कुछ में यह प्रक्रिया रात के समय भी होती है जब अनैच्छिक रूप से वीर्य स्खलन हो जाता है तो यह प्रक्रिया सामान्य है तथा ये उनकी सैक्स के रूप में कमजोरी को बिलकुल भी प्रदर्शित नहीं करती है और ना ही इससे शरीर को  कोई हानि होती है तथा न ही इसके इलाज की कोई आवश्यकता है-

मेरा फर्ज बनता है कि हम युवा वर्ग को यह आश्वासन दिलाएं ताकि यह उनकी चिन्ता का कारण ना बन  सके क्योंकि लड़कों के शरीर में शुक्राणु तथा वीर्य लगातार बनते रहते हैं  इसलिए नाईट फाॅल से हुए नुकसान की पूर्ति होती रहती है अपने आप वीर्य के नुकसान से कभी कमजोरी नहीं होती है आप किसी के बहकावे में कतई न आयें इस स्थिति में आपको किसी भी इलाज की आवश्यकता नहीं है तथा उम्र की परिपक्वता के साथ-साथ यह धीरे-धीरे कम होती जाती है-

विशेष सूचना-

सभी मेम्बर ध्यान दें कि हम अपनी नई प्रकाशित पोस्ट अपनी साइट के "उपचार और प्रयोग का संकलन" में जोड़ देते है कृपया सबसे नीचे दिए "सभी प्रकाशित पोस्ट" के पोस्टर या लिंक पर क्लिक करके नई जोड़ी गई जानकारी को सूची के सबसे ऊपर टॉप पर दिए टायटल पर क्लिक करके ब्राउज़र में खोल कर पढ़ सकते है....

किसी भी लेख को पढ़ने के बाद अपने निकटवर्ती डॉक्टर या वैद्य के परमर्श के अनुसार ही प्रयोग करें-  धन्यवाद। 

Upchar Aur Prayog

Upcharऔर प्रयोग की सभी पोस्ट का संकलन

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Loading...

कुल पेज दृश्य

Upchar और प्रयोग

प्रस्तुत वेबसाईट में दी गई जानकारी आपके मार्गदर्शन के लिए है किसी भी नुस्खे को प्रयोग करने से पहले आप को अपने निकटतम डॉक्टर या वैध्य से अवश्य परामर्श लेना चाहिए ...

लोकप्रिय पोस्ट

लेबल