13 मार्च 2018

ऋतूस्राव यानी मासिक धर्म में क्या आहार लें

What do you Eat in Menstruation


कुछ महिलायें जानना चाहती है कि उनको मासिक धर्म (Menstruation) हो तो उन्हें क्या आहार लेना चाहिए मासिक धर्म यानी पीरियड महिलाओं के लिए ऐसा समय होता है जब वह थकान और सुस्ती का अनुभव करती है कुछ महिलायें तो डिप्रेशन का भी शिकार हो जाती है-

ऋतूस्राव यानी मासिक धर्म में क्या आहार लें

बहुत सी महिलाओं को मासिक धर्म (Menstruation) में कभी-कभी एक दम से कुछ खाने का मन करता है या फिर आपको अचानक से मीठा, नमकीन या चटपटा खाने का मन करता है तथा यह लक्षण पीरियड के एक या दो हफ्ते पहले भी महसूस किये जाते हैं मासिक धर्म दौरान चूँकि आपके हार्मोन्स में काफी उतार  चदाव होता है जिससे आपको एक दम से कुछ खाने का मन होने लगता है-

मासिक धर्म (Menstruation) के दौरान अपनी सेहत को बनाए रखने के लिए आपको पौष्टिक आहार लेना चाहिए अगर आप मासिक धर्म में पौष्टिक आहार लेंगी तो ये आपका स्टेमिना को बढ़ाएगा और इस दौरान होने वाले दर्द को भी कम करेगा इस आहार में कुछ ऐसे भोजन शामिल होते हैं जो हमें जरूरी ऊर्जा देते हैं-

क्या खाएं जब मासिक धर्म (Menstruation) हो-


1- सबसे पहले आप ध्यान दें कि पीरियड में एक दम से नहीं खाना चाहिए यदि संभव हो सके तो अपने दो टाइम की डाइट को आप चार भागों में बाँट लीजिये इससे आपका पाचन अच्छा होगा और पेट पर दबाव भी कम पड़ेगा जो महिलायें काम पर या आफिस को जाती है तो उनको कम से कम अपने आहार को तीन समय में विभाजित करके लेना चाहिए-

2- हरी पत्ते दार सब्जियां जैसे पालकसरसों, आदि में भरपूर मात्रा में आयरन होता है और आप जानती हैं कि आयरन खून बनाने के लिए कितना जरुरी होता है इसलिए पीरियड के दौरान कुछ लड़कियों और महिलाओं में अधिक रक्त का स्त्राव होता है और किसी में कम होता है लेकिन यह जरुरी होता है कि आप खून बहने के कारण ब्लड की कमी को आयरन के स्त्रोत खाकर पूरा कर लें क्युकि खून की कमी आपको कमजोरी, थकावट आदि लक्षण पैदा कर सकती है और ज्यादा मात्रा में खून बहने से आपको एनीमिया भी हो सकता है-

3- क्या आप जानती है कि मैग्नीशियम (Magnesium) आपको पीरियड (Menstruation) के दौरान होने वाले सर दर्द और मरोड़ से बचाता है इसलिए आप सभी प्रकार की दालें खाइए जिससे आपको मैग्नीशियम, फाइबर और प्रोटीन भी मिलेगा इन दालों से जो मैग्नीशियम प्राप्त होगा वो पेट फूलने और पेट में दर्द को कम करने में भी आपकी मदद करता है-

4- मूंगफली, टोफू, बीन्स आदि भी मैग्नीशियम के अच्छे स्त्रोत होते हैं इसलिए आपको लगभग दो सौ मिलीग्राम मैग्नीशियम की रोजाना जरुरत होती है जिसे आप पालक, अखरोट आदि को खा कर भी पूरा कर सकती हैं-

5- आपके शरीर में प्रोस्टाग्लैंडीन (Prostaglandins) पाए जाते हैं जो की पीरियड के दौरान होने वाले मरोड़ और पेट दर्द के लिए जिम्मेदार होते हैं ओमेगा 2 फैटी एसिड्स इन प्रोस्टाग्लैंडीन के प्रभाव को ख़तम करके आपको दर्द और पेट के ऐंठन से बचाते हैं ओमेगा एसिड्स को आप अलसी, अखरोट, ओलिव आयल आदि का सेवन कर प्राप्त कर सकती हैं-

6- मासिक धर्म के आहार में विटामिन को शामिल करना बहुत जरूरी है Vitamin B समूह के विटामिन्स शरीर में सेरोटोनिन (Serotonin) के स्त्राव को बढ़ाने में मदद करते हैं सेरोटोनिन आपके दिमाग को शांत करता है और आपको मानसिक तनाव, अवसाद (डिप्रेशन) और चिडचिडापन होने को ठीक करने में मदद करता है आप ओटमील, आलू खा कर आप विटामिन B6 को पा सकती हैं-विटामिन B1 अनियमित रक्त स्त्राव को कंट्रोल करता है तथा विटामिन B6 पेट में मरोड़ को कम करता है और विटामिन  B3 दिमाक को ठीक करता है साथ ही ये आपको जी मिचलाना, थकावट, भूख की कमी और उलटी से भी बचने में मदद करता है तथा विटामिन B5 डिप्रेशन, मन स्थिति ख़राब होना या मानसिक तनाव आदि को सही करता है आप अपने डॉक्टर से पूछ कर बी काम्प्लेक्स की गोली या कैप्सूल भी ले सकती हैं-

7- विटामिन सी प्रजनन तंत्र को बेहतर बनाता है-विटामिन सी के लिए आप अंगूर और नींबू का सेवन कर सकती हैं तथा पीरियड के समय में आपको जहां तक हो सके कैफीन के सेवन से बचना चाहिए कैफीन लेने पर पेट में एसिड की मात्रा बढ़ जाती है जिससे दर्द होता है पर अगर आपको कैफीन की बहुत ज्यादा तलब हो तो कॉफी के बदले आप चाय पीएं-

8- वैसे तो पानी पीने के फायदे तो अनगिनत हैं लेंकिन पीरियड के दौरान ये जरुरी हो जाता है की आप खूब सारा पानी पीयें ताकि आपका शरीर साफ़ रहे और आपके शरीर के सभी फंक्शन सुचारू रूप से चलते रहे क्युकि पीरियड में होने वाली Water Retention को पानी पीकर दूर रखा जा सकता है-

प्रस्तुती- Satyan Srivastava

Upcharऔर प्रयोग की सभी पोस्ट का संकलन

loading...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कुल पेज दृश्य

सर्च करें-रोग का नाम डालें

Information on Mail

Loading...