This website about Treatment and use for General Problems and Beauty Tips ,Sexual Related Problems and his solution for Male and Females. Home treatment,Ayurveda treatment ,Homeopathic Remedies. Ayurveda treatment tips in Hindi and also you can read about health Related problems and treatment for male and female

loading...

10 मई 2017

पेशाब के रंग से जाने अपने स्वास्थ्य के बारे में

By
मनुष्य के शरीर का प्रत्येक अंग महत्वपूर्ण है लेकिन हमारे शरीर में गुर्दे(Kidney)का बहुत ही महत्व है क्योंकि गुर्दा हमारे शरीर से सभी प्रकार की गंदगी को साफ करने में विशेष भूमिका निभाता है और अगर जरा सी भी गड़बड़ होती है तो हमें पेशाब(Urine)के रंग के जरिए पता चल जाता है क्योंकि पेशाब का रंग बदलना आपके शरीर के अंदर रोग के जन्म लेने के संकेत होते हैं-

पेशाब के रंग से जाने अपने स्वास्थ्य के बारे में

आज हम आपको आज बताएंगे पेशाब(Urine)के रंग से आप किस तरह अपने शरीर का स्वास्थ्य स्तर पता कर सकते हैं पेशाब के रंग के जरिए आपके शरीर का स्वास्थ्य लेवल इसलिए पता हो जाता है क्योंकि सारी बीमारियां हमारे पेट से होती है और फिर आप जल्द ही इलाज से उन बीमारियों को जल्द से जल्द कंट्रोल कर सकते है आइये जानते है कि जब आप के पेशाब(Urine)का रंग बदल जाता है तो फिर आपको क्या समझने की आवश्यकता होती है-

पेशाब(Urine)के रंगों से स्वास्थ्य पहचान-


1- यदि आपके मूत्र का रंग(Urine color)हल्का पीलेपन पर है या फिर बिल्कुल पानी की तरह साफ है तो इसका मतलब है ये है कि आपके शरीर का प्रत्येक अंग भली भांति कार्य कर रहा है और आपको बिलकुल भी किसी प्रकार की चिंता करने की कोई भी आवश्यकता नहीं है-

2- लेकिन अगर आपकी यूरिन(Urin)का रंग पीले रंग का है इसका मतलब है कि आपको पानी की कमी हो चुकी है अगर आप पानी कम पीते हैं तो पहले से अधिक मात्रा में पानी पीना चालू कर दें ये अपने आप अपने सामान्य रंग में बदल जाता है-

3- यदि आपके यूरिन का रंग एकदम से गाढ़ा और पीले पन पर है तो फिर आपके लिए यह अच्छे संकेत नहीं हैं इसका मतलब है आप का लिवर सही तरीके से काम नहीं कर रहा और आपको लीवर की या फिर हेपेटाइटिस की प्रॉब्लम हो सकती है-

4- यदि आप का पेशाब(Urin)दूधिया सफेद रंग का है तो इसका मतलब है कि आप के पेशाब में बैक्टीरिया बन चुके हैं क्योंकि ऐसा तब होता है जब आपके मूत्र मार्ग के रास्ते में संक्रमण पैदा हो जाए या फिर आपके गुर्दे(किडनी)में पथरी बनने लगती है इस तरह के संकेत आने पर आप डॉक्टर से एक बार जरूर जांच करवाएं-

5- आपके यूरिन का रंग हल्का या लाल गुलाबी है तो आप ध्यान दें कि आपने चुकंदर या स्ट्रॉबेरी खाया हो अगर यह सब खाया है तो फिर आप चिंता न करें लेकिन यदि सामान्य तौर पर इस तरह का पेशाब आपको आता है तो आपके पेशाब में लाल रंग खून का भी हो सकता है फिर तो यह बेहद चिंताजनक विषय है इसलिए आप लापरवाही बिना किये डॉक्टर को तुरंत दिखाएं क्योंकि इन ऐसा अधिकतर तब देखा जाता है या तो कुछ लोग जब अपने शरीर की क्षमता से अधिक व्यायाम करते हैं उनके शरीर में लाल रक्त कोशिकाएं टूट जाती हैं और उनके पेशाब से अब यह गुलाबी रंग का या लाल रंग का यूरिन आना शुरू हो जाता है या यह किसी अन्य बीमारी का संकेत भी हो सकता है-

6- बहुत बार लोगों को नारंगी रंग का पेशाब भी आता है तो कई बार ऐसा होता है आप जब कोई दवा खाते हैं तो यह नारंगी रंग पैदा कर सकता है जबकि विशेषकर यूरिन से जुड़ी समस्याओं को सही करने के लिए कुछ ऐसी दवाएं होती है जब के पेशाब का रंग नारंगी रंग में बदल देती हैं और इसके अलावा कुछ लोगों को गाजर खाने से भी यह गाजर का रस पीने से उनके पेशाब का रंग हल्का नारंगी हो जाता है-

7- बहुत बार पेशाब संबंधी समस्याओं को कम करने के लिए जो दवाइयां बनाई जाती हैं उनमें विशेष डाई का इस्तेमाल होता है जिसकी वजह से भी आपके पेशाब का रंग हल्का नीला या हरे रंग में बदल जाता है अगर आपने इस तरह की कोई दवाई पी है या खायी हो तो चिंता करने की बात नहीं है क्योंकि ऐसा होना स्वाभाविक ही है या फिर आपने कुछ ऐसा खाना खाया हो जिसमें आर्टिफिशियल रंग का इस्तेमाल किया गया हो तब भी आपकी पेशाब का रंग नीला या हरा हो सकता है और अगर इन दोनों में से कोई कारन नहीं है और आपको इस रंग की यूरिन आ रही है तो आप चिकित्सक से अवश्य परामर्श करें-

Whatsup No- 7905277017

Read Next Post-


Upcharऔर प्रयोग-

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें