This website about Treatment and use for General Problems and Beauty Tips ,Sexual Related Problems and his solution for Male and Females. Home treatment,Ayurveda treatment ,Homeopathic Remedies. Ayurveda treatment tips in Hindi and also you can read about health Related problems and treatment for male and female

22 मई 2017

यदि आप जीवन में तकलीफों से घिर चुके हैं

By
मनुष्य जन्म में अनेकानेक प्रकार की समस्याएं और कष्ट आते-जाते रहते है लेकिन आपको जब ये महसूस होने लगे कि अब आपके पास कोई भी उपाय शेष नहीं रह गया है और चारो तरफ अन्धकार है आपकी कोई भी सहायता नहीं कर पा रहा है तो आप विश्वास के साथ बताये गए प्रयोग को कर लें और समस्याओं से मुक्ति पायें-

यदि आप जीवन में तकलीफों से घिर चुके हैं

ये प्रयोग करने से पहले इस बात को समझ लेना अति आवश्यक है कि आपको एक मजबूत संकल्प ही बनाना होगा बस ये सोच कर बिलकुल न करें कि आपको इसे सिर्फ आजमाना है ये प्रयोग आपको जीवन को जिस खुशियों से भर देगा आप इसकी कल्पना भी नहीं कर सकते है-

वैसे तो इसका विधान और साधना प्रक्रिया बहुत कठिन है लेकिन आज हम आपको एक साधारण और नित्य की जाने वाली साधना से आपको अवगत करा रहे है तथा इसके जीवन में क्या-क्या लाभ होंगे इससे भी आपको अवगत करायेगें ये बहुत ही विशिष्ठ साधना है अत:थोड़ी सावधानी की आवश्यकता भी अवश्य होगी जिसका आप ध्यान रक्खें-

आज के युग में समय न होने के कारण विस्तृत साधना करना हर व्यक्ति के लिए सम्भब नहीं है लेकिन यदि आप गृहस्थ जीवन जी रहे है और समस्याएं आप का पीछा कर रही है जो खत्म होने का नाम नहीं ले रही है तो फिर आप इसका प्रयोग अवश्य करें इस प्रयोग से यदि आपके व्यापार पर किसी की बुरी नजर लग गई है या आपका व्यापार नहीं चल रहा अथवा आपकी पत्नी रूठ गई है या पति किसी और स्त्री के जाल में फंस गया है या किसी दुश्मन ने आपको अनायास ही परेशान करना शुरू कर दिया है अथवा आपको आपके घर में आपसी विवाद या कलह होता नजर आ रहा है या आप नौकरी में किसी बॉस से परेशानी में पड़ गए है वो आपको सताता है या आपके आफिस में कोई कर्मचारी बेवजह आपकी चुगली करके आपकी नौकरी पर डांका डालना चाहता है या आपके घर में किसी अद्रश्य शक्तियों का प्रवेश हो गया है या फिर किसी और प्रकार की समस्या है तो इसे अवश्य आजमायें-

साधारण व्यक्तियों के लिए बगुलामुखी(Bagalamukhi))माला मंत्र बहुत सरल और उपयोगी सिद्ध हो सकता है साधक को इस माला मंत्र का 108 बार पठन करना होता है यह मंत्र अधिक क्लिष्ट भाषा में भी नहीं है और साधारण व्यक्ति भी इसको पढ़ सकता है इस गोपनीय माला मंत्र में गजब की शक्ति है यह शत्रु भय समाप्त करने वाला देखा गया है मुख्य रूप से यह मंत्र उन विवाहित दंपतियों के लिए अधिक लाभकारी सिद्ध हो सकता है जिन स्त्री-पुरुषों में भारी मनमुटाव हो रहा हो तथा पति-पत्नी में मतभेद हो तथा तलाक की स्थिति आ रही हो तो आप इसका प्रयोग करके आश्चर्यजनक चमत्कार पा सकते है-

यदि इस बगुलामुखी(Bagalamukhi)माला मंत्र को कोई भी पत्नी या पति अर्थात जो भी पीड़ित है दुःखी है विधानपूर्वक स्नान करके, शुद्ध पीले वस्त्र धारण कर, रात्रि 9 बजे के पश्चात्, दक्षिण दिशा में बैठ कर 108 बार पाठ करे तो निश्चित ही पारिवारिक शत्रुता, झगड़े, वैमनस्य समाप्त हो जाते हैं यह मेरा अनुभव रहा है कि कोई पत्नी, या पति अपने जीवन साथी से दुःखी हो या उसकी आदतों से परेशान हो, घर में नित्य झगड़े होते हों उसके समाधान के लिए यह प्रयोग संपन्न किया जा सकता है-

एक बात का विशेष ध्यान रखना होगा अनायास ही आप इसका प्रयोग किसी से नाजायज प्रेम या वशीकरण आदि के लिए करेगें तो आपको निश्चित रूप से हानि की सम्भावना है बस इस साधना का उद्देश्य सात्विक और परोकार अथवा गृहस्थ जीवन के सुख के लिए करना ही उपयुक्त है पराई स्त्री,महिला या अनायास किसी को दंड देने पर आपको माँ भगवती बगुलामुखी की प्रताड़ना भी झेलनी पड़ सकती है इसलिए सावधान करना मेरा नैतिक कर्तव्य है आगे आप खुद समझदार हैं-तो चलिए आपको हम इस गृहस्थ द्वारा की जाने वाली साधारण साधना से अवगत कराते है-

पूजन विधि-


सर्वप्रथम पीत(पीला)वस्त्र बिछा कर उस पर पीले चावल की ढेरी बनावें और सामने पीतांबरा देवी(बगुलामुखी) का चित्र रख कर या चावल की ढेरी को पीतांबरा देवी मान कर(जिनके पास बगुलामुखी देवी का चित्र उपलब्ध नहीं है)उसकी विधिवत पंचमोपचार से पूजा करें फिर पीले पुष्प, पीले चावल आदि का उपयोग करें तथा घी, या तेल का दीपक जला कर सर्वप्रथम गुरु पूजा, फिर पीतांबरा देवी की पूजा करें-

इसके पश्चात् आप संकल्प करें कि मैं अपनी अमुक समस्या के समाधान हेतु(समस्याः पारिवारिक कष्ट, पति, या पत्नी के अत्याचार से दुःखी हों आदि)बगुलामुखी(Bagalamukhi)मंत्र माला 108 बार जप कर रहा हूँ या कर रही हूँ और माता मुझे शीघ्रातिशीघ्र इस समस्या से मुक्ति दिलावें-यदि 108 बार करना संभव न हो तो आपके प्रतिदिन 11 बार पाठ से भी आपके जीवन में आने वाली समस्या के लिए पर्याप्त है बगुलामुखी(Bagalamukhi) आपको छोटी-छोटी परेशानियों से आपको हमेशा मुक्त रखता है-यदि आपकी बड़ी समस्या है जो आपको लगता है कि अब कोई रास्ता नहीं बचा है तो फिर आपको 108 बार का जप निश्चय ही करना आवश्यक होगा ये आपको बड़ी से बड़ी परेशानी से मुक्ति दिला देगा-

बगुलामुखी(Bagalamukhi)देवी माला मन्त्र-


ॐ नमो भगवति, ˙ नमो वीर प्रताप विजय भगवति, बगलामुखि! मम सर्वनिन्दकानां सर्वदुष्टानां वाचं मुखं पदं स्तंभय, जिह्नां कीलय, बुद्धिं विनाशय विनाशय, अपर-बुद्धिं कुरू कुरू, आत्मविरोधिनां शत्रुणां शिरो, ललाटं, मुखं, नेत्र, कर्ण, नासिकोरू, पद, अणु-अणु, दंतोष्ठ, जिह्नां, तालु, गुह्य, गुदा, कटि, जानु, सर्वांगेषु केशादिपादांतं पादादिकेशपर्यन्तं स्तंभय स्तंभय, खें खीं मारय मारय, परमंत्र, परयंत्र, परतंत्राणि छेदय छेदय, आत्ममंत्र तंत्राणि रक्ष रक्ष, ग्रहं निवारय निवारय, व्याधिं विनाशय विनाशय दुःखं हर हर, दारिद्रयं निवारय निवारय, सर्वमंत्र स्वरूपिणि दुष्टग्रह भूतग्रह पाषाणग्रह सर्व चांडालग्रह यक्ष किन्नर किंपुरूष ग्रह भूत प्रेत पिशाचानां शाकिनी डाकिनीग्रहाणां पूर्व दिशं बंधय बंधय, वार्तालि! मां रक्ष रक्ष, दक्षिण दिशं बंधय बंधय, स्वप्नवार्तालि मां रक्ष रक्ष, पश्चिमदिशं बंधय बंधय उग्रकालि मां रक्ष रक्ष, पाताल दिशं बंधय बंधय बगला परमेश्वरि मां रक्ष रक्ष, सकल रोगान् विनाशय विनाशय, शत्रु पलायनम् पंचयोजनमध्ये राजजनस्वपचं कुरू कुरू, शत्रुन् दह दह, पच पच, स्तंभय मोहय मोहय, आकर्षण-आकर्षय, मम शत्रुन् उच्चाटय उच्चाटय, ह्री फट्स्वाहा !

आप इस मन्त्र के शुद्ध उच्चारण के लिए इसे Youtube पर भी सुन कर समझ सकते है-

Whatsup - 7905277017

लिंक- https://youtu.be/SPjsXgqRdnk

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें