This website about Treatment and use for General Problems and Beauty Tips ,Sexual Related Problems and his solution for Male and Females. Home treatment,Ayurveda treatment ,Homeopathic Remedies. Ayurveda treatment tips in Hindi and also you can read about health Related problems and treatment for male and female

7 जून 2017

किडनी क्लींजर चाय कैसे बनायें

By
आज हम आपको एक बेहद सस्ती और सुलभ तथा जटिल से जटिल  रोगों में भी चमत्कारिक असर दिखाती है इस प्रकार की हम आपको चाय बनाना बता रहे है वो स्वास्थ लाभ के हिसाब से बड़ी उपयोगी और निराप्रद है जी हाँ हम लेमन ग्रास से बनी चाय के बारे में ही बात कर रहे है जो आपको किन-किन रोगों में प्रभावशाली है इसका भी वर्णन करेगे इसे किडनी क्लींजर चाय(Kidney Cleanser Tea)के नाम से भी जाना जाता है-

किडनी क्लींजर चाय कैसे बनायें


नींबू घास में कैंसर सहित कई बीमारियों से छुटकारा दिलाने वाले गुण होते है इसमें अद्भुत एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होते है जिसके कारण मानव शरीर में कई गंभीर रोगों के लिए जिम्मेदार अणुओं के स्वरूप में परिवर्तन लाकर उन्हें न सिर्फ स्थिर किया जाता है बल्कि कुछ मामलों में यह रोगाणुओं को अपने में समाहित भी कर लेती है-

लेमनग्रास एंटीऑक्‍सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेंटरी, एंटी-सेप्टिक और विटामिन सी जैसे औष‍धीय गुणों से भरपूर और इसमें कई रोगों से लड़ने की क्षमता होती है यह शरीर से विषाक्त पदार्थो को नष्ट करता है और शरीर को स्वच्छ करने में मदद करता है ताजे या सूखे दोनों तरह के लेमन ग्रास का प्रयोग किया जा सकता है इसका तना पत्तेदार प्याज की तरह होता है और जब इसे टुकड़ों में काटा जाता है तब इसकी खट्टी सुगंध फैलती है और इसका फ्लेवर नींबू की तरह होता है आइए लेमन ग्रास के द्वारा किडनी क्लींजर चाय और उसके लाभों के बारे में आपको जानकारी देती हूँ-

किडनी क्लींजर चाय(Kidney Cleanser Tea)के लाभ-


कोलेस्ट्रॉल(Cholesterol)को नियंत्रित करना-

यह धमनियों में जमे हुए कॉलेस्ट्रॉल को बाहर निकालकर किसी भी तरह की जानलेवा और गंभीर बीमारी का समाधान करने में मदद करता है-


किडनी स्टोन(Kidney Stone)-

यह चाय पीने से किडनी में जमा हुए नाइट्रेट और टॉक्सिन्स आदि बाहर निकालते है जिस कारण किडनी स्टोन का खतरा कम हो जाता है-


खून जमने(Formation of Blood)में मददगार-

भूट्टे के रेशे में विटामिन के होता है जो कि खून के जमने की क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है और इससे चोट लगने पर रक्त भी कम बहता है-

मधुमेह(Diabetes)को नियंत्रित-

यह रक्त में इंसुलिन की मात्रा को बेलेंस करता है जिससे डायबिटीज कंट्रोल में रहता है-

खाना पचाने(Food Digester)में मददगार-

यह चाय हमारे पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में काफी मददगार होते हैं यह खाने को सही तरह से पचाने के साथ ही भूख को भी बढ़ाते है-

दिल की बीमारियों(Heart Diseases)से बचाने में मददगार-

यह चाय हमारे शरीर में बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के साथ ही मोटापे को भी कम करने में मदद करते हैं इतना ही नहीं यह ब्लैडर में माइक्रोब्स के कारण पैदा हुए इंफेक्शन को भी ठीक करती हैं-

लिवर बूस्टर(Liver Booster)-

यह चाय लिवर बूस्टर भी है जिससे हमें प्रतिदिन ताजगी महसूस होती है।

सुंदर चमकती त्वचा(Beautiful Skin)-

यह चाय कील मुहाँसे घटाती है और चमकदार त्वचा प्रदान करती है-

किडनी क्लींजर चाय बनाने की विधि-


लेमन ग्रास(Lemon Grass)- 100 ग्राम
भुट्टे के रेशे(Maize Fibers)- 100 ग्राम
जौ(Barley)- 100 ग्राम

उपरोक्त सभी सामग्री को आप एक साथ मिलाकर रख ले वैसे आप लेमन ग्रास ओर भुट्टे के रेशे आप सूखे हुए भी ले सकते है लेकिन अगर ताजा मिल जाए तो और भी बहेतर होगा अब आप रातको 10 ग्राम मिश्रण 2 कप पानी मे भिगो दें तथा सुबह पानी उबाल कर एक कप बन जाए तब इसे छान कर पिये अगर आप चाहे तो इसमें कोई भी स्वीटनर मिला सकते है-

प्रस्तुती- चेतना कंचन भगत 

Read Next Post-


PCOD की समस्या और उपचार का तरीका

Upcharऔर प्रयोग-

3 टिप्‍पणियां: