Breaking News

अदरक के रस(Ginger Juice)के कारगर औषधीय प्रयोग

अदरक(Ginger)को आयुर्वेद में-भोजनादौ सदा पथ्यम-यह कर वर्णित किया गया है यानी अदरक भोजन में सदा पथ्य कर है अदरक पाचक, रुचि उत्पन्न करने वाला, कफ और वायु का शमन करने वाला, पाचनाग्नि को प्रदीप्त करने वाला तथा ह्रदय के लिए हितकारी है हम यहाँ कुछ असरकारी प्रयोग का वर्णन कर रहे है-


अदरक के रस(Ginger Juice)के कारगर औषधीय प्रयोग

अदरक रस(Ginger Juice)के घरेलू असरकारक उपयोग-


1- अदरक का रस, निम्बू का रस तथा सेंधा नमक को मिलाकर भोजन के पहले लेने से पाचनाग्नि प्रदीप्त होकर मुख तथा ह्रदय की शुद्धि होती है तथा स्वरभेद, श्वास, खांसी, कब्ज, सूजन, कफ, वायू तथा मंदाग्नि का नाश होता है व धातु वृद्धि होती है-

2- अदरक के रस(Ginger Juice)में शहद मिलाकर पीने से खांसी(Cough)तथा स्वास रोगों में फायदा होता है-

3- अदरक रस, नींबू रस,और शहद सम भाग लेकर उसमे पिपलीमुल डालकर दिन में 3 बार पीने से काली खांसी(Hooping Cough)मिटती है-

4- अदरक का रस(Ginger Juice)और प्याज का रस(Onion juice)10-10 ml मिलाकर पीने से उल्टी बन्द होती है-

5- दस से बीस ग्राम अदरक के रस में शहद मिलाकर पीने से गले का कफ कम होता है तथा ह्रदयरोग, आफरा तथा शूल में आराम मिलता है-

6- अदरक रस दस ग्राम, नींबू रस दस ग्राम तथा 4 ग्राम सेंधा नमक मिलाकर सुबह पीने से अजीर्ण तथा आमवात मिटता है गैस, कब्ज और पेट दर्द मिटता है-

7- अदरक के रस में पानी मिलाकर पीने से ह्रदय दौर्बल्य मिटता है-

8- अदरक के रस को नाभि में डालने से अतिसार(Diarrhea)बंद होता है-

9- अदरक के रस में मिश्री मिलाकर पीने से बहुमूत्रता में फायदा होता है-

10- अदरक के रस और नींबू से रस 200 ml में 25 ग्राम सेंधानमक मिलाकर घोल कर उस घोल में 100 ग्राम अजवाइन डुबो कर धूप में रखे और जब रस सुख जाए तब अजवाइन को भून लें तथा पीस ले इस मे 50 ग्राम भुना जीरा तथा 20 ग्राम हींग मिला ले यह चूर्ण उत्तम पाचक योग है जो अरुचि, आफरा, गैस, पेट दर्द, उल्टी, मुँह में कड़वाहट, एसिडिटी, डकारे जैसी समस्त व्याधियो में रामबाण औषधि है-

प्रस्तुति-


Dr. Chetna Kanchan Bhagat

Upcharऔर प्रयोग-

कोई टिप्पणी नहीं

//]]>