9 जनवरी 2018

सर्दियों में हाथ सेकने से होने वाले स्वास्थ्य लाभ

Health Benefits of Hand Warming in Winter


सर्दियों (Winter) के मौसम में कड़कड़ाती ठंड के चलते अक्सर ब्रेन स्ट्रोक (Brain Stroke) तथा पैरालिसिस (Paralysis) जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है सर्दियों में शरीर की नमी कम होने की वजह से शरीर में शुष्कता (Dryness) बढ़ने लगती है जिससे वायु दोष बढ़ता है बढ़ा हुआ वायु शरीर की नसों को शुष्क करने लगता है जिससे ब्रेन स्ट्रोक, पैरालिसिस तथा वायु प्रकोप से होने वाले रोग व कफ, खासी, बुखार (Fever) तथा फेफड़ों (Lungs)के संबंधित समस्याएं होती रहती है-

इन सब से बचने के लिए हम तरह-तरह के उपाय तथा दवाइयां लेते रहते हैं लेकिन अगर हम प्राचीन आयुर्वेद में लिखी बातों की तरफ दृष्टि करें तथा ऋतुचर्या का योग्य तरीके से पालन करें तो हमें हमारी शारीरिक समस्याओं का समाधान, औषध तथा रोकथाम के आसान उपाय मिल सकते हैं-

सर्दियों में हाथ सेकने से होने वाले स्वास्थ्य लाभ

सर्दियों में शरीर में गर्मी बनाए रखने के लिए गर्म कपड़े, स्निग्ध व पौष्टिक आहार, योग्य व्यायाम तथा तेल मालिश के साथ साथ शरीर को बाहरी तौर पर गर्म रखने के उपाय करना बेहद जरूरी है जिसमें धूप स्नान, भाप स्नान तथा हाथों को या हथेलियों को सेंकना (Hand warming) जैसी चिकित्सा विधियों का समावेश होता है-

सर्दियों में अक्सर बाहर रहने वाले लोग आग सेकते नजर आते हैं लेकिन आजकल बदली हुई जीवनशैली के चलते आग सेकना जैसी विधि लुप्त हो रही है समय का अभाव तथा आग सेकने की क्रिया से होने वाले लाभों की सही जानकारी ना होना तथा बहुतायत आलस्य से की वजह से हम सिर्फ स्वेटर पहनकर या हीटर लगाकर शरीर को गर्म रखने की कोशिश करते हैं आइये आज हम जानते है कि हाथ सेंकने की सही पद्धति क्या है-

हाथ सेकने (Hand warming) की पद्धति-


दोनों हाथों को आपस में खूब रगड़ कर गर्म करें फिर हथेलियों को फैलाकर आग की आंच पर या गैस की आंच पर रखें तथा धीमे धीमे हथेलियों को सीधे उलटी तरफ सेके इसमें सिर्फ हाथों को हल्का-हल्का गर्म करना है यह क्रिया तापमान तथा आपके शारीरिक शक्ति के अनुपात में 5 से 10 मिनट तक करें आप महसूस करेंगे कि इससे धीरे-धीरे शरीर में गर्मी आने लगती हैं-

छोटे बच्चों में यह क्रिया आच पर ना करते हुए किसी कपड़े या अजवाइन या रेत की सूती कपड़े में पोटली बनाकर तवे पर उसे गर्म करके बच्चों की हथेलियों को सेंकना चाहिए-

यह क्रिया सुबह अवश्य करनी चाहिए ज्यादा ठंड हो तो सोने से पहले भी कर सकते हैं सुबह 7:00 से पहले यह क्रिया करने से शरीर में पूरे दिन गर्मी तथा शक्ति बनी रहती है व संसर्ग जन्य लोगों की उत्तम तरीके से रोकथाम होती है-

वैज्ञानिक दृष्टिकोण (Scientist View) -


आधुनिक संशोधनों से यह पता चला है कि हमारे दिमाग की 80 से 90 प्रतिशत नसें हमारे चेहरे तथा हाथों से जुड़ी हुई है जब हाथों को सेंका जाता है तो इसका सीधा असर दिमाग पर होता है व नर्वस सिस्टम उत्तेजित होती है जिससे ब्रेन स्ट्रोक (Brain Stroke) या पैरालिसिस (Paralysis) का खतरा कम हो जाता है-

एक्यूप्रेशर (Acupressure), आयुर्वेद तथा सुजोक (Sujok) चिकित्सा पद्धतियों के दृष्टिकोण से देखा जाए तो हमारे शरीर के अंदरूनी अंगों के प्रतिबिंब बिंदु (Reflex Points) या पॉइंट हाथ की हथेलियों पर है हमारा शरीर ही हथेलियों पर प्रतिबिंबित होता है जब हम हाथों को गर्मी देते हैं या सेंकते हैं तो सारे शरीर को ऊष्मा और ऊर्जा मिलने लगती है जिससे उनकी कार्यक्षमता सुचारू होने लगती है-


हाथ सेकने की (Hand warming) विभिन्न पद्धतियां-


सर्दियों में हाथ सेकने से होने वाले स्वास्थ्य लाभ

जैसा हमने पहले बताया कि हम हथेलियों को आग पर सेककर भी गरम कर सकते हैं इसके साथ-साथ ही हाथों को सेंकने या गर्मी देने के लिए विभिन्न प्रकार के वार्मर भी बाजार में उपलब्ध है तथा हाथों को आपस में रगड़ कर भी गर्म किया जा सकता है-हाथों पर मोक्षीबिशन (Moxibustion) लगाकर भी हाथों को उष्मा दे सकते हैं, सिगार मोक्षा कें धुए से भी हाथों को गर्म किया जा सकता है साथ में भांप (Steam bath) लेकर तथा मोम (Hot Wax) लगाकर भी हाथों को उष्मा दे सकते हैं-

हाथों को सेंकने (Hand Warming) से होने वाले स्वास्थ्य लाभ-


1- इससे आपके शरीर तथा अंदरूनी अंगो को गर्मी मिलती है-

2- उष्मा मिलने की वजह से शरीर में रक्त संचार (Blood circulation) सुचारू होता है जिससे ऊर्जा या शक्ति मिलती है-

3- उष्मा (Warmth) ही जीवन है इसलिए हाथ सेकने से जीवनी शक्ति या रोग प्रतिकारक शक्ति बढ़ती है तथा शरीर में गर्माहट आकर ताजगी महसूस होती हैं-

4- फेफड़ों संबंधित तकलीफे दमा, सर्दी, खांसी, छाती में कफ भरना, पीठ दर्द, गले की सूजन, जैसी तकलीफों में राहत मिलती है-

5- शरीर में रक्त संचार सुचारू होने की वजह से जोड़ों में दर्द, कमर में दर्द, घुटनों में दर्द, हाथ तथा उंगलियों में दर्द, एंठन जैसी समस्याओं में राहत मिलती है तथा सूजन भी कम होती हैं-

6- ऊष्मा की वजह से पाचन क्रिया अच्छे से होती है जिससे सर्दियों में स्निग्ध व भारी आहार आसानी से पच जाता है तथा शरीर को पोषण मिलता है-

7- हाथ सेकने से किडनी संबंधित रोगों में फायदा होता है लिवर की कार्य क्षमता बढ़ती है शरीर में चुस्ती फुर्ती रहती है वह हड्डियां मजबूत रहती हैं-

8- पाचन संस्थान, लीवर, किडनी जैसे अंगों की कार्यक्षमता बढ़ने से शरीर से विषैले पदार्थों का उत्सर्जन (Detoxification) ठीक से होने लगता है जिससे शरीर स्वस्थ रहता है- 

9- त्वचा सुंदर व चमकदार बनी रहती हैं विषैले पदार्थ का योग्य तरीके से निष्काशन होने की वजह से त्वचा रोग,व त्वचा के इंफेक्शन का खतरा कम होता है-

10- इस तरह आउटडेटेड या ओल्ड फैशन माने जाने वाली हाथ सेंकने की क्रिया (Hand warming)  सर्दियों में बेहद फायदेमंद है इसे प्रतिदिन कम से कम एक बार या सुबह करने से पूरे दिन शरीर को इसके लाभ मिलते रहते हैं व कई रोगों से बचाव होते रहता है-

Copyright©Upcharऔर प्रयोग

आप इसे भी देखे-
____________________________

दिन भर की थकावट को कैसे दूर करे

प्राकृतिक चिकित्सा के लिए तैयार है तो ध्यान दें

किडनी के रोगो के नैसर्गिक उपचार करें

सुन्दर बालों के लिए घरेलू हर्बल तेल और शैंपू

दर्द निवारक मोम चिकित्सा

घुंघराले बालों के लिए आप घरेलू उपचार कर सकती हैं

स्तन(Breast)का आकार प्राकर्तिक कम कैसे करें

प्रस्तुती- Chetna Kanchan Bhagat-Mumbai

Upcharऔर प्रयोग की सभी पोस्ट का संकलन
loading...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कुल पेज दृश्य

सर्च करें-रोग का नाम डालें

Information on Mail

Loading...