26 जनवरी 2018

चंदन एक उत्तम सौंदर्य वर्धक औषधि है


पिछली पोस्ट में हमने पढ़ा क्रमशः चंदन के लाभ गुण और उपयोग, चंदन (Sandalwood) के घरेलू प्रयोग, चंदन के अनुभूत औषधीय, प्रयोग चंदन के आयुर्वेदिक प्रयोग तथा चंदन तेल के अनुभूत प्रयोग के बारे में जाना इस पोस्ट में हम आपको चंदन के सबसे प्रसिद्ध गुण याने सौंदर्यवर्धन के बारे में जानकारी देंगे-

चंदन (Sandalwood) का उपयोग सदियों से सुंदरता व जवानी बरकरार रखने के लिए तथा सौंदर्य संबंधित समस्याओं को ठीक करने के रूप में प्रयोग किया जाता है चंदन पवित्रता, सौंदर्य, शीतलता, कोमलता, सौम्यता तथा सुमधुरता का प्रतीक है इसी वजह से धार्मिक श्लोकों से लेकर गीत-ग़ज़लों में भी चंदन का उल्लेख मिलता है धार्मिक श्लोकों में जहां आत्मा को चंदन का तथा सत्कर्मों को चंदन की सुगंध का रूपक दिया है वही देश भक्तों ने अपनी मातृभूमि की माटी को चंदन के समान पवित्र तथा पूज्य माना है वही गजलों में या प्रेम गीतों में प्रेमी ने अपनी प्रियतमा के बदन को ही चंदन की उपमा देकर प्रियसी की कोमलता तथा पवित्रता को इंगित किया है-

चंदन एक उत्तम सौंदर्य वर्धक औषधि है

चंदन (Sandalwood) अत्यंत शीतल होने के साथ-साथ त्वचा की नमी बरकरार रखने वाला, त्वचा को मुलायम बनाने वाला, एंटीसेप्टिक, एंटी फंगल तथा त्वचा को की रंगत बढ़ाने वाला माना गया है-

चंदन के प्रयोग से त्वचा कोमल मुलायम होती है, इंफेक्शन से बचाव होता है साथ ही साथ त्वचा का PH भी संतुलित रहता है जिससे कील मुंहासे, फोड़े फुंसी जैसी समस्या मिटती है त्वचा का वर्ण निखरता है इसीलिए काली पड़ी त्वचा या सनटैन या गर्मियों में झुलसी त्वचा पर चंदन (Sandalwood) का लेप बहुत गुणकारी है-आज हम आपको सौंदर्यवर्धक के लिए ऐसे ही कुछ अनुभूत नुस्खे बताएंगे-

चेहरे की रंगत निखारने के लिए पैक-


चंदन एक उत्तम सौंदर्य वर्धक औषधि है

चंदन (Sandalwood) पाउडर, हल्दी, दूध की मलाई, शहद, गुलाब जल तथा बेसन इन सबको मिलाकर घोटकर चिकना लेप बना ले यह लेप हफ्ते में एक बार चेहरे तथा गर्दन पर लगाने से त्वचा मुलायम बनती है, बेदाग बनती है, रंगत निखरती है तथा प्रदूषण या धूल मिट्टी की वजह से चेहरे पर होने वाला इन्फेक्शन नहीं होता व त्वचा की नमी बरकरार रह कर ड्रायनेस कम होकर चेहरे पर कांति (Glow) आती है-

फेस ग्लो स्क्रब-


चंदन पाउडर, बादाम की पाउडर, तथा मोटा पिसा हुआ चावल का आटा गुलाब जल या दूध में मिलाकर 5 मिनट रखें उसके बाद इसे चेहरा, गर्दन, घुटने, कोहली तथा शरीर के दूसरे अंगों पर लगाकर 5 मिनट रहने दे उसके बाद गोल-गोल घुमा कर इस पैक को छुड़ा ले यह त्वचा के लिए उत्तम स्क्रब है इसे लगाने से त्वचा पर बनी हुई मृत कोशिका (DeadSkin) की परत हट जाती है, त्वचा पर जमा हुआ सीबम या ग्रंथियों से निकलने वाला तैलीय स्त्राव साफ़ होता है जिससे त्वचा वह मुलायम बनती है तथा कील मुहासे (Pimple) होने का डर नहीं रहता-


शुष्क त्वचा (DrySkin) के लिए पैक-


चंदन (Sandalwood) पाउडर, दूध पाउडर, सारिवा, गुलाब की पत्तियां तथा गेंदे की पंखुड़ियां को इन सब के चूर्ण को मक्खन में मिलाकर त्वचा पर लगाने से त्वचा की खुश्की दूर होती है त्वचा पर नमी की कमी से पढ़ी हुई झुर्रियां (Wrinkles) मिटती है व काले दाग तथा त्वचा के खड्डे भी कम होते हैं-

तैलीय त्वचा (Oily Skin) के लिए पैक-


चंदन (Sandalwood)  पाउडर, मुल्तानी मिट्टी, लोध्र, मुलेठी, तथा सारीवा को टमाटर के रस के साथ मिलाकर लेप बना लें यह ले चेहरे व गर्दन पर लगाएं तथा 20 से 25 मिनट तक पूर्ण तरह सूखने दें इसे हल्के हाथों से गोल-गोल घुमा कर निकल ले यह पैक तैलीय त्वचा पर बेहद उपयोगी है यह पैक चेहरे पर जमी हुई तेल की परत निकलता है जिससे इंफेक्शन होने का डर कम होता है कील मुहांसों (Acne Pimples) की समस्या में भी बेहद लाभ होता है-

कील मुहासों (Acne Pimples) की के लिए पैक-


चेहरे पर आए कील मुहासे या गर्मी या प्रदूषण की वजह से होने वाली फोड़े फुंसियों के लिए यह पैक बेहद उपयोगी है इसके लिए चंदन (Sandalwood) की लकड़ी को पानी के साथ पत्थर पर घिस ले इस पेस्ट में 1 ग्राम हल्दी, आधा चम्मच नीम के पत्ते की पाउडर तथा एक चम्मच गेंदे के फूल की पंखुड़ियों को मिलाकर खूब घोटले अगर लेप सुखा हो रहा हो तो इसमें थोड़ा नींबू का रस मिलाएं इसे कांच की शीशी में भर कर फ्रिज में रख दें इस लेप को चेहरे पर जहां भी कील मुहासे या फोड़े फुंसी हो उस पर लगाएं इससे कील मुहासे, फोड़े फुंसी मिटती है उनमें होने वाली जलन और सूजन में लाभ मिलता है तथा कील मुहांसों (Acne Pimples) की के दाग चेहरे पर नहीं रहते हैं-

डार्क सर्कल (Dark Circles) के लिए पैक-


चंदन (Sandalwood) नीलकमल, सफेद कमल, पोस्तादाना, नीबू की छाल तथा लोध्र को समभाग लेकर महीन चूर्ण बना ले छ ग्राम चूर्ण को दही के साथ खूब घोटकर त्वचा पर लगाने से काले दाग, आंखों के आसपास के डार्क सर्कल (Dark Circles)  त्वचा पर बड़े हुए पैचेज दूर होकर त्वचा बेदाग़, गोरी, मुलायम व कांतिमान बनती है-

निस्तेज त्वचा के लिए पैक-

चंदन पाउडर एक चम्मच, मंजिष्ठा पाउडर एक चम्मच, कपूर कचरी पाउडर आधा चम्मच, आंबा हल्दी आधा चम्मच सब पाउडर को दूध की मलाई में या दूध में मिक्स करके चेहरे पर लगाएं 20 मिनट के बाद चेहरे को पानी से धो दें इससे निस्तेज त्वचा में चमक आती है, चेहरे की त्वचा मुलायम बनती है तथा चेहरे का कालापन (Tanning) भी दूर होता है-

गर्मीयों में त्वचा का कालापन मिटाने के लिए पैक- 


चंदन हल्दी, लोधृ,जामुन के पत्ते, तुलसी के पत्ते, रक्तचंदन व काली मिट्टी इन सबको मिलाकर लेप बनाएं यह लेप उबटन की तरह शरीर पर लगाकर नहाने से गर्मियों में होने वाले त्वचा रोग, खुजली (Itching) इन्फेक्शन,घमोरीया, पसीने की बदबू, धूप की वजह से त्वचा का झुलस जाना जैसी समस्या दूर होती है त्वचा की रंगत निखरती है व त्वचा में कांति आती है-

सर्दियों (Wintercare) में त्वचा के लिए पैक-


सर्दियों में ठंड की वजह से त्वचा फट जाती है, निस्तेज हो जाती है तथा काली भी होने लगती है इसके लिए चंदन (Sandalwood) ताज़ी हल्दी, कपूर काचली, बादाम, पोस्तादाना, चिरौंजी, लाल चंदन तथा पीली सरसों को दूध में खरल में घोट कर गाढा लेप  बना ले इस लेप को शरीर पर लगाकर नहाने से त्वचा फटती नहीं है त्वचा की नमी बरकरार रहती है ड्रायनेस वजह से होने वाली खुजली मिटती है त्वचा कालापन दूर होता है तथा त्वचा स्वस्थ और चमकीली (Flowless) बनती है-

चंदन (Sandalwood)  के अन्य सौन्दर्य वर्धक उपयोग-


1- त्वचा पर होने वाले दाह या जलन के लिए चंदन को पानी के साथ पत्थर पर पीसकर बनाया हुआ पेस्ट लगाने से त्वचा की दाह (Burning) या जलन (Irritation)कम होती है-

2- चंदन का तेल नहाने के बाद एक बूंद नाभि, गर्दन व गर्दन के पीछे लगाने से पसीने की दुर्गंध (Body Odour) दूर होती है तथा पूरे दिन ताजगी मिलती है-

3- जल जाने पर (Burn) चंदन के लकड़ी को पत्थर पर पानी के साथ पीस लें इस पेस्ट में घी मिलाकर खूब रगड़ कर मरहम नुमा बना ले यह मरहम जल जाने पर लगाने से बेहद आराम मिलता है जलन में फौरन आराम मिलता है तथा जले के दाग भी नहीं पड़ते हैं-

4- आंखों के आसपास अगर काले घेरे या डार्क सर्कल हो तो चंदन के पाउडर को शहद में मिलाकर आंखों के नीचे लगाने से डार्क सर्कल में फायदा होता है-

5- गर्मियों में होने वाली घमौरियों (Prickly Heat) पर चंदन को पानी के साथ पत्थर पर घिसकर बनाई हुई पेस्ट लगाने से घमोरियां तथा जलन व खुजली दूर होती है-

6- चेहरे के दाग मिटाने के लिए चंदन को पानी के साथ पत्थर पर घिसकर पतली पेस्ट बना लें इस पेस्ट में समभाग गाजर का रस तथा ककड़ी का रस मिला लें व एक चम्मच नींबू का रस मिलाकर कांच की शीशी में भर कर इसे फ्रिज में रख दें रोज रात को इसे चेहरे पर हल्की मसाज करके चहेरे को बिना धोए सो जाए तथा सुबह ही चेहरा धोएं इससे चेहरे के दाग धब्बे (Spots) व झाइयां मिटती है-

प्रस्तुती- Chetna Kanchan Bhagat-Mumbai


आप इसे भी देखे-
loading...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कुल पेज दृश्य

सर्च करें-रोग का नाम डालें

Information on Mail

Loading...