28 मार्च 2018

खस का हिम रक्तस्त्राव रोकने में भी कारगर है

Vetiver Detox Water is Effective in Preventing Bleeding


पहले के जमाने में खस (Vetiver) का उपयोग हाथ पंखों में तथा खिड़की पर गर्मी से बचने के लिए लगाए जाने वाले परदों के तौर पर होता था पहले कूलर में भी खस से बने मेट्स लगाए जाते थे जिससे बेहद ठंडी तथा भीनी-भीनी महक लिए हवा आती रहती खस शीतलता देने वाला तथा मन को ताजगी व तरावट देने वाला औषधि है-खस (Vetiver) सुगंध तथा शीतलता देने वाला जी से संस्कृत में उशीर भी कहा गया है यह एक किस्म के घास की जड़ है यह जड़ बेहद सुगंधित होती हैं-

खस का हिम रक्तस्त्राव रोकने में भी कारगर है

खस (Vetiver)  गुणधर्म में मधुर, कटु, लघु, शीतल, भूख वर्धक, पाचन कर्ता, स्तंभनकर्ता, बालों के लिए हितकर तथा कफ पित्तशामक, बलवर्धक, मस्तिष्क , हृदय तथा चेतना संस्थान को शांति देने वाला, रक्त की शुद्धि करने वाला, रक्तशोधक, कफनिसारक, मूत्रल, ज्यादा पसीना लाने वाला तथा दुर्गंध हरने वाला है-

यह प्यास, ज्यादा पसीना, वमन जैसी वजह से शरीर में हुई पानी की कमी को त्वरित दूर करने वाला है इसके साथ ही मूर्छा, मूत्रकृच्छ, शोथ,खांसी,श्वास, रक्तस्त्राव, अतिसार तथा व्रण व त्वचा रोगों को मिटाने वाला हैं-

खस के हिम के (Vetiver Detox Water) फायदे-


खस की जड़ों को मिट्टी के बर्तन में डाल कर पानी में भिगोकर खस का हिम बनाया जाता हैं-खस का हिम (Vetiver Detox Water) पीने से शरीर की आंतरिक गर्मी दाह, जलन, छाले, आंतों की गर्मी, गले का सूखना जैसी उष्णता जन्य समस्याएं कम होती है-

खस का हिम रक्तस्त्राव रोकने में भी कारगर है

भारतीय संस्कृति में पुरातन काल से ही गर्मियों में मटके में खस डालकर उसका सुगंधित पानी पीने का प्रचलन है आजकल खस का शरबत आसानी से उपलब्ध है लेकिन उसमें असली खस की वजह कृत्रिम रंग व कृत्रिम सुगंध डाली जाती है खस के उत्तम लाभ के लिए आप घर पर ही खस का हिम (Vetiver Detox Water) बनाएं तथा दिन भर वहीं पानी पिए-

खस के हिम (Vetiver Detox Water) के उपयोग-


1- खस के हिम से चेहरा धोने से चेहरा चमकीला बनता है तथा कील मुहाँसे (Acne Pimple) कम होते हैं-

2- खस के हिम (Vetiver Detox Water)  में मुल्तानी मिट्टी डालकर स्नान करने से गर्मियों में होने वाले त्वचा रोग तथा घमौरियों (Prickly Heat) में राहत मिलती है-

3- खस का हिम पीने से पेट की जलन, एसिडिटी, उष्माघात (Sun Stroke) की वजह से नकसीर फूटना, सिर दर्द होना, चक्कर आना (Dizziness), कनपटियों का सूजना तथा दुर्गंधयुक्त पसीना आना जैसी समस्याओं में बहुत लाभ मिलता है-

4- गर्मियों में होने वाले किसी भी प्रकार के रक्त स्त्राव (Bleeding) में खस के हिम (Vetiver Detox Water) में मिश्री व चंदन मिलाकर पीने से किसी भी प्रकार के रक्तस्त्राव रोकने में मदद मिलती है-

5- गर्मियों में पेशाब रुक जाना या मूत्र मार्ग में जलन (Urinary Tract Disease) जैसी समस्याओं में खस हिम में गन्ने का रस मिलाकर पीने से लाभ होता है-

6- गर्मियों में होने वाला अंग दाह या जलन तथा बुखार की वजह से होने वाली जलन (Hot Flashes) में खस के हिम में गुलाब जल व मिश्री मिलाकर पीने से शरीर को ठंडक मिलती है तथा बल भी मिलता है-

7- गर्मियों की वजह से सिर में होने वाली फोड़े फुंसी तथा रूसी (Dandruff) जैसी समस्याओं में खस के हिम में दही मिलाकर सिर में लगाने से या खस के हिम से बालों की जड़ों में मसाज करने से राहत मिलती है-

8- खस के  हिम या खस के तेल को नारियल तेल में मिलाकर पैरों के तलवे तथा सिर की मालिश करने से थकान, डिप्रेशनअनिंद्रा (Insomania) जैसी समस्याएं भी दूर होती है-

9- खस के हिम (Vetiver Detox Water)  में शहद, मिश्री या गुलकंद मिलाकर पीने से बेचैनी दूर होती हैं तथा थकान दूर होकर एनर्जी मिलती हैं खस का हिम ताजगी, तरावट व उत्साह बढ़ाने वाला एक अद्भुत पेय है-

इसे भी देखे-



विशेष सूचना-

सभी मेम्बर ध्यान दें कि हम अपनी नई प्रकाशित पोस्ट अपनी साइट के "उपचार और प्रयोग का संकलन" में जोड़ देते है कृपया सबसे नीचे दिए "सभी प्रकाशित पोस्ट" के पोस्टर या लिंक पर क्लिक करके नई जोड़ी गई जानकारी को सूची के सबसे ऊपर टॉप पर दिए टायटल पर क्लिक करके ब्राउज़र में खोल कर पढ़ सकते है....

किसी भी लेख को पढ़ने के बाद अपने निकटवर्ती डॉक्टर या वैद्य के परमर्श के अनुसार ही प्रयोग करें-  धन्यवाद। 

Upchar Aur Prayog 

Upcharऔर प्रयोग की सभी पोस्ट का संकलन

loading...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Tags Post

Information on Mail

Loading...