25 मई 2018

बालों के असमय सफेद होने तथा सिर व दाढ़ी मूंछ के बाल गायब होने पर उपयोगी नस्य चिकित्सा


किसी कवि ने अपनी कविता में पहली बार देखे हुए सफेद बाल को यम राजा की सवारी का ध्वज कहां है जैसे ध्वज के दर्शन दूर से ही होते हैं वैसे ही सफेद बाल भी शरीर की वृद्धा अवस्था का सूचक माना गया है-

बालों के असमय सफेद होने तथा सिर व दाढ़ी मूंछ के बाल गायब होने पर उपयोगी नस्य चिकित्सा

लेकिन आजकल बड़ी ही कम उम्र में सफेद बालों (Grey Hair) की समस्या हर किसी को सताने लगी है जिसके होने के कारण हमने पिछले लेखों में विस्तार से पढे हैं उसी तरह आजकल युवाओं में दाढ़ी मूंछ के बाल उड़ जाना या दाढ़ी मूंछ के बाल सफेद हो जाना जैसी समस्याएं भी बहुत प्रमाण में देखने को मिलती है बहुधा यह समस्याएं अनुवांशिक तथा अन्य किसी बीमारी का संकेत मानी जा सकती है लेकिन ऐसी परिस्थितियों में अन्य उपचार के साथ नस्य चिकित्सा (Nasya Therapy) ली जाए तो यह समस्या का हल जल्दी लाया जा सकता है तथा समस्या विकट होने तथा और बढ़ने से रोका भी जा सकता है-

नस्य चिकित्सा क्या है-


नस्य चिकित्सा (Nasya Therapy) याने औषधि युक्त द्रव्य या तेल या घी की दो चार बूंदे नाक में दोनों तरफ डालना-

क्यों जरूरी है नस्य चिकित्सा-


महर्षि सुश्रुत ने नस्य चिकित्सा (Nasya Therapy) के लाभ बताते हुए शास्त्रों में लिखा है कि नस्य लेने से कंधे, गर्दन तथा ह्रदय को बल मिलता है तथा सर में पाए जाने वाले संचित दोषों का योग्य उत्सर्जन होता है जिस से सिर संबंधित समस्त दोष दूर होते हैं जिससे सिर दर्द, बाल का झड़ना, अकाल पलित याने बालों का असमय सफेद होना (Grey Hair) तथा दाढ़ी मूछों के बाल उड़ जाना जैसी समस्याओं पर नस्य चिकित्सा रामबाण औषधि है-

नस्य चिकित्सा के लिए तेल-


यष्टिमधुक क्षीराभ्या नवधात्रीफलैं : श्रुतम |

तैलं नस्यकृत कुर्यात केशाग्श्म श्रुणी सर्वशा | १५३| - शारंगधर संहिता

अर्थात-

मुलेठी तथा गुठली निकलकर लिए हुए आंवला के कल्क में 4 गुना तिल का तेल तथा तेल से 4 गुना गाय का दूध व 4 गुना पानी डालकर सिद्ध किये हुए तेल से नस्य चिकित्सा (Nasya Therapy) लेने से सिर तथा दाढ़ी मूंछो से उड़े हुए बाल वापस आते हैं-

सामग्री-


मुलेठी- 50 ग्राम
आवला- 50 ग्राम
तिल का तेल- 400 मिली
गाय का दूध-  1600 मिली
पानी- 1600 मिली

तेल बनाने की विधि-


आंवले की गुठली निकाल कर 50 ग्राम आंवले ले तथा समान भाग मुलेठी मिलाकर कल्क बनाएं अब दूध, पानी व तेल को मिलाकर उसमें यह कल्क डाल कर मंद आंच पर पकाएं जब जलांश उड़ जाए व तेल बचे तब इसे ठंडा करके छानकर बोतल में भर ले-

उपयोग-


इस तेल की 2-3 बुंदे रात को सोते समय नाक में डाले-

लाभ-


बालों के असमय सफेद होने तथा सिर व दाढ़ी मूंछ के बाल गायब होने पर उपयोगी नस्य चिकित्सा

इस तेल से नियमित नस्य चिकित्सा (Nasya Therapy) लेने से बाल झड़ना, बाल सफेद होना (Grey hair), दाढ़ी मूंछ के बाल उड़ जाना जैसी समस्याएं मिटती है साथ ही साथ आधाशीशी, आंखों का दुखना, आंखों की थकान, अनिद्रा जैसे रोग भी दूर होते हैं-

अन्य नस्य-


बहेड़ा, हरडे, मालकांगनी, जैसे तेलो तथा गाय के घी से नियमित नस्य चिकित्सा लेने से लेने से भी बालों संबंधित समस्याएं तथा बालों का सफेद होना व बाल झड़ना (Hair loss) जैसी समस्याओं में लाभ पहुंचता है-


प्रस्तुती- Chetna Kanchan Bhagat-Mumbai

Upcharऔर प्रयोग की सभी पोस्ट का संकलन
loading...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कुल पेज दृश्य

सर्च करें-रोग का नाम डालें

Information on Mail

Loading...