22 अगस्त 2018

यदि आपके शरीर में काँटा या कांच चुभ गया है तो आजमाए

loading...

Try This When Thorn or Glass Pierced in Your Body


आपको एक ऐसे पौधे के बारे में बता रहे है जिसके बारे में शायद कम लोग ही जानते है जी हाँ इस पौधे का नाम अग्नि-शिखा (Agnishikha) विष का नाश करती है इसे कलियारी और लांगुली नाम से भी जानते हैं  इस पौधे के नीचे कन्द होते हैं जो वास्तव में औषधीय गुणों से परिपूर्ण हैं-

यदि आपके शरीर में काँटा या कांच चुभ गया है तो आजमाए

कहीं काँटा चुभ गया है या कांच चुभ गया है जो कि निकल नहीं रहा है तो अग्नि-शिखा (Agnishikha) का कंद घिसकर उस पर लेप कर दें वह कुछ दिनों में अपने आप बाहर आ जाएगा स्त्री के डिलेवरी (Delivery) के समय नाभि पर इसके कन्द का लेप करें तो बहुत आसानी से डिलेवरी हो जाती है-

यदि आपके शरीर में काँटा या कांच चुभ गया है तो आजमाए

अग्नि-शिखा (Agnishikha) के कन्द का लेप लोकल एनस्थीसिया (Local Anaesthesia) का काम भी काम बखूबी करता है अगर दाँयी जांघ में दर्द है  तो बाँये हाथ के अंगूठे की जड़ में इसका कन्द घिसकर लेप करें तो दर्द में आराम मिलता है-

यदि आपके शरीर में काँटा या कांच चुभ गया है तो आजमाए

सांप के काटने पर आप कटे हुए स्थान पर अग्नि-शिखा (Agnishikha) के कन्द के चूर्ण को बुरक दें-किसी भी घाव पर इसका चूर्ण बुरकने से वह बहुत जल्दी भरता है वास्तव में ये कमाल का पौधा है इसके फूल वर्षा ऋतू के आसपास आते है-आप इसे गमले में भी लगा सकते है-


विशेष सूचना-

सभी मेम्बर ध्यान दें कि हम अपनी नई प्रकाशित पोस्ट अपनी साइट के "उपचार और प्रयोग का संकलन" में जोड़ देते है कृपया सबसे नीचे दिए "सभी प्रकाशित पोस्ट" के पोस्टर या लिंक पर क्लिक करके नई जोड़ी गई जानकारी को सूची के सबसे ऊपर टॉप पर दिए टायटल पर क्लिक करके ब्राउज़र में खोल कर पढ़ सकते है....

किसी भी लेख को पढ़ने के बाद अपने निकटवर्ती डॉक्टर या वैद्य के परमर्श के अनुसार ही प्रयोग करें-  धन्यवाद। 

Chetna Kanchan Bhagat Mumbai

Upcharऔर प्रयोग की सभी पोस्ट का संकलन

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Loading...

कुल पेज दृश्य

Upchar और प्रयोग

प्रस्तुत वेबसाईट में दी गई जानकारी आपके मार्गदर्शन के लिए है किसी भी नुस्खे को प्रयोग करने से पहले आप को अपने निकटतम डॉक्टर या वैध्य से अवश्य परामर्श लेना चाहिए ...

लोकप्रिय पोस्ट

लेबल