गर्म दूध और शहद बढाये आपके शुक्राणु-Increase your Sperm Hot Milk and Honey

Increase your Sperm Hot Milk and Honey

क्या आप जानते है कि पहले के पुरुषो को दूध पीने के लिए हमारे बुजुर्ग क्यों प्रेरित करते थे क्युकि वो जानते थे शरीर को पोषक तत्वों के साथ-साथ इसमें शुक्राणु(Sperm)को बढाने की एक स्वाभाविक ताकत है आयुर्वेद में भी नपुंसकता और बांझपन की समस्याओं के लिए शहद(Honey)एक दवा के रूप में लेने की सलाह दी जाती है- 

गर्म दूध और शहद बढाये आपके शुक्राणु-Increase your Sperm Hot Milk and Honey

हल्‍के गुनगुने दूध के साथ शहद पीने से प्रजनन क्षमता(Fertility)का स्‍तर शून्‍य से 60 मिलियन शुक्राणुओं की संख्‍या तब बढ़ जाती है इसलिए स्‍वाभाविक रूप से दूध एक हर्बल उपचार है जो कि शुक्राणुओं(Sperm)की संख्या बढ़ाने में मदद करता है-

जी हाँ-ये सच है कि 18 से 50 वर्ष की उम्र के पुरुष 10% कम Sperm बनने से पीड़ित हैं हांलाकि इस समस्‍या से निपटने के लिये कई घरेलू उपचार उपलब्‍ध हैं जिसमें से दूध बड़ी आसानी के साथ उपलब्‍ध है और ये सच है निश्चित रूप से शहद के साथ दूध पीने से कम Low sperm count की समस्‍या से निजात पाया जा सकता है-

विटामिन A पुरुष Sex Hormones के उत्पादन के लिए काफी हद तक जिम्‍मेदार होता है इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो शरीर में कोशिकाओं को फ्री रैडिक्‍स की क्षति से बचाने का कार्य करते हैं तथा  साथ ही यह वीर्योत्पादक नलिकाओं के रख रखाव के लिए भी महत्वपूर्ण कार्य करता है दूध(Milk)में विटामिन ए काफी मात्रा में होता है इसलिये पुरुषों को यह जरुर पीना चाहिये-

शुद्ध और बिना गर्म किया शहद यौन उत्‍तेजना(Sexual Arousal)को बढ़ता है क्‍योंकि इसमें अनेक पदार्थ है-जैसे, जिंक, विटामिन ई आदि होता है जो कि आपकी पौरूष और प्रजनन स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने का कार्य करते हैं तथा इसके अलावा रात को रोज सोते वक्‍त शहद पिसा लहसुन एक साथ मिक्‍स कर के खाना चाहिये-क्‍योंकि यह एक आपके सेक्‍जुअल स्‍टैमिना और प्‍लेजर को बढ़ा देगा-इसके अलावा शहद और दालचीनी भी बाझपन,गठिया,बाल झड़ना,दांतदर्द,कफ,पेट की खराबी,वेट लॉस और बढ़े हुए कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने में मददगार है इसे बनाने के लिए शहद अगर दो चम्मच ले तो दो कली लहसुन का पिसा पेस्ट मिला के ले और ये निश्चित रूप से और प्रभाव शाली तरीके से आपके अंदर के Sperm की स्टेमिना को बढाता है ये आसानी से घर में बना कर कुछ दिन करके देखे-लाभ-ही-लाभ है हानि की संभावना ही नहीं है-

अगर आप यह कम शुक्राणु के होने का कारण जान लें तो आप इस समस्‍या से काफी हद तक निजात पा सकते हैं-नीचे कुछ आम कारण दिये जा रहे हैं जिन्‍हें पढ़ कर आप जान जाएंगे कि क्‍यूं आपके अंदर शुक्राणुओं(Sperm)की संख्‍या कम क्यों होती जा रही है-

कम शुक्राणुओं(Sperm)का कारण-


जादा शारीरिक और मानसिक तनाव
आपकी नींद पूरी ना होना
धूम्रपान और शराब की अधिक लत का होना
अधिक मोटापा होना
यदि आपको कैंसर है
आनुवंशिकता के लक्षण
आपके अंदर हार्मोन की समस्‍या
प्रदूषण और जिंक की कमी
स्टेरॉयड जैसी दवाइयां लेना
 


जिन पुरुषों को हफ्ते में तीन घंटे साइकिल चलाने की आदत है ऐसे पुरुष में नपुंसक होने का चांस उन पुरुषों की तुलना में बढ जाता है जो बिल्‍कुल भी या कम समय के लिये साइकिल चलाते हैं-

स्त्रियों में प्रजननता आहार यानी प्रजनन क्षमता बढ़ाने वाले आहार लेने से प्रजनन विकार संबंधी कारकों को दूर किया जा सकता है बल्कि स्वस्थ प्रजनन प्रणाली भी विकसित होती है प्रजननता आहार यानी प्रजनन क्षमता बढ़ाने वाले आहार लेने से प्रजनन विकार संबंधी कारकों को दूर किया जा सकता है बल्कि स्वस्थ प्रजनन प्रणाली भी विकसित होती है-प्रेगनेंट न हो पाने के कई कारण हो सकते हैं जिनके बारे में आपको ज्‍यादा जानकारी नहीं होगी-

शरीर को ठीक प्रकार से काम करने के लिये कई तरह के पौष्टिक तत्‍वों की आवश्‍यकता होती है अगर आप सही प्रकार का आहार नहीं लेगें तो आपको काफी खामियाजा भुगतना पड़ सकता है तथा तीखे, खट्टे, गर्म और नमकीन पदार्थों का ज्यादा सेवन करने से पित्त कुपित होकर वीर्य का क्षय करता है जिससे नपुंसकता पैदा होती है इसे पित्तज क्लैब्य कहते हैं-

खर्राटे लेने का मतलब है कि आप सोते समय ठीक प्रकार से सास नहीं ले पा रहे हैं अब तो मार्डन रिसर्च में ठीक प्रकार से न सो पाने और नपुंसकता को एक आसार बताया गया है जो लोग जो सोते समय खर्राटे भरते हैं वे उन लोगों के मुकाबले जो सोते समय खर्राटे नहीं लेते है दोगुना नपुंसक हो सकते हैं-

अगर आप रोज 8 घंटे की नींद नहीं लेगे तो आपके शरीर में थकान हो जाएगी और वह ठीक से काम नहीं कर पाएगा-ठीक प्रकार से न सोने की वजह से शरीर में हार्मोनल इंबैलेस हो जाता है जिससे नपुंसकता पैदा हो जाती है-

आप पुरुष हैं तो शायद आपके अंडकोष में ज्‍यादा शुक्राणु(Sperm)न बनते हों या फिर आपका सारा दिन बिजी रहता हो और आपको आराम करने का समय न मिलता हो आदि भी एक कारण बनता है-

विटामिन बी12, विटामिन सी, विटामिन ई और फालिक एसिड पुरुषों में स्पर्म की संख्या को बढ़ाता है अगर आप के स्पर्म की संख्या कम है या क्वालिटी खराब है तो ज्यादर मामलों में ऐसा फालिक एसिड की कमी से भी होता है इसलिए आपको को फालिक एसिड सप्लीमेंट लेने की कोशिश करनी चाहिए-





सभी पोस्ट एक साथ पढने के लिए नीचे दी गई फोटो पर क्लिक करें-

4 टिप्‍पणियां:

Upchar Aur Prayog

About Me
This Website is all about The Treatment and solutions of Home Remedies, Ayurvedic Remedies, Health Information, Herbal Remedies, Beauty Tips, Health Tips, Child Care, Blood Pressure, Weight Loss, Diabetes, Homeopathic Remedies, Male and Females Sexual Related Problem. , click here →

आज तक कुल पेज दृश्य

हिंदी में रोग का नाम डालें और परिणाम पायें...

Email Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner