Bring Black Turmeric Home to Hol-होली में काली हल्दी घर लाएं

होली में काली हल्दी घर लाने का महत्व क्या है (What is the Importance of Bringing Black Turmeric Home in Holi)-


मनुष्य जीवन अनेक समस्याओं से घिरा है लेकिन कुछ साधारण से प्रयोग भी इस संसार में उपलब्ध हैं जिनके प्रयोग से आप-अपने जीवन में अनेक प्रकार की समस्याओं से निजात पाकर सुखद एंव समृद्धि-दायक जीवन व्यतीत कर सकते है इन्हीं समस्याओं के निजात के लिए एक प्रयोग है काली हल्दी (Black Turmeric)। सबसे खास बात यह है कि काली हल्‍दी से जुड़े टोटके जल्‍दी खाली नहीं जाते हैं। काली हल्दी बड़े काम की है। काली हल्दी तंत्र, ज्योतिष और आयुर्वेद में बहुत सारे चमत्कार दिखाती  है।


Bring Black Turmeric Home to Hol-होली में काली हल्दी घर लाएं

काली हल्दी का महत्व (Importance of Black Turmeric)-


वैसे तो काली हल्दी (Black Turmeric) का मिल पाना थोड़ा मुश्किल है। किन्तु फिर भी यह पन्सारी की दुकानों में मिल जाती है। यह हल्दी काफी उपयोगी और लाभकारक है। होली का दिन तांत्रिक क्रियाओं के लिए काली हल्दी का प्रयोग बहुत ही लाभकारी होता है। इस दिन काली हल्दी को अभिमंत्रित और आमंत्रित करके यह जड़ी-बूटी घर लाई जाती है। इस पर कई प्रकार के मंत्रों की सिद्धियां भी की जाती हैं। काली के साथ किया हुआ टोटका कभी खाली नहीं जाता है | सिद्ध की हुई काली हल्दी का प्रयोग कर आप जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में लाभ उठा सकते हैं।

Importance of Black Turmeric

काली हल्दी (Black Turmeric) दिखने में अंदर से हल्के काले रंग की होती है व उसका पौधा केली के पौधे के ही समान होता है। काली हल्दी में बहुत ही गुणकारी प्रभाव होता है। इसमें वशीकरण की अद्‍भुत क्षमता होती है। 

काली हल्दी के पौधे को निमंत्रित करें (Invite Black Turmeric Plant)- 


अगर आपको अगर पता है कि कही पर काली हल्दी का पेड लगा है तो आप एक दिन पहले ही पेड को शुभ मुहूर्त देख कर निमन्त्रित करे। 

निमंत्रित करने के लिए प्रात: काल होली के दिन एक थाली में कुंकुम, चावल, अगरबती, एक कलश में शुद्ध जल रख करके तथा पवित्र नए वस्त्र पहन कर जाएं तथा फिर पौधे को शुद्ध जल से धोकर कुंकुम चढ़ाएं व पीले चावल चढ़ाकर 5 अगरबत्ती लगाकर निमन्त्रित करे और कहे कि-मैं आपके पास अपनी मनोकामना पूर्ति हेतु आया हूं कल आपको मेरे साथ मेरी मनोकामना की पूर्ति हेतु चलना है। अब आगे पूरा विधान बताते है कि अब काली हल्दी को लाने के लिए आप क्या करें। 

अब आप होली की रात को जाकर एक लोटा जल चढ़ाकर काली हल्दी के पौधे से कहें कि-मैं आपके पास आया हूं। आप चलिए मेरी मनोकामना की पूर्ति हेतु मेरे साथ चलें। इस प्रकार काली हल्दी (यह जड़ होती है) खोदकर ले आएं। बस यही आपके काम की है। 

काली हल्दी का प्रयोग कैसे करें (How to use Black Turmeric)-


1- यदि आपके परिवार में कोई व्यक्ति हमेशा अस्वस्थ रहता है। तो प्रथम गुरुवार को आटे के दो पेड़े बनाएं। उसमें गीली चने की दाल के साथ गुड़ और थोड़ी-सी पिसी काली हल्दी (Black Turmeric) को दबाएं। अब आप इसे रोगी के ऊपर से सात बार उतारकर गाय को खिला दें। यह उपाय लगातार तीन गुरुवार करने से आश्चर्यजनक लाभ मिलेगा। रोगी धीरे-धीरे स्वस्थ हो जाएगा। 

2- यदि किसी के पास पैसा आता तो बहुत है। किंतु रुकता नहीं है तो उन्हें इन उपायों को अवश्य आजमाना चाहिए। आप शुक्ल पक्ष के प्रथम शुक्रवार को चांदी की डिब्बी में काली हल्दी (Black Turmeric), नागकेसरसिन्दूर को साथ में रखकर मां लक्ष्मी के चरणों से स्पर्श करवाकर रुपया-पैसा रखने के स्थान पर रख दें। इस उपाय से धन रुकने लगेगा। 

3- गुरु पुष्य नक्षत्र में काली हल्दी (Black Turmeric) को सिन्दूर में रखकर धूप देने के बाद लाल कपड़े में लपेटकर एक-दो सिक्कों के साथ उसे बक्से में रख दें। इसके प्रभाव से धन की वृद्धि होने लगती है। गुरु पुष्य योग के लिए आप पंचांग से देखे। 

4- काली हल्दी (Black Turmeric) में वशीकरण की अद्‍भुत क्षमता होती है। यदि आप किसी भी नवीन कार्य के लिए जा रहे हैं या महत्वपूर्ण कार्य हो तो काली हल्दी का टीका लगाकर जाएं। यह टीका वशीकरण का कार्य करता है। रोजगार के लिए किसी अधिकारी के पास जाए तो अवश्य ही इस टीके का प्रयोग करे। 

5- यदि लग्न पत्रिका में गुरु और शनि पापाक्रांत हैं। तो यह उपाय करें-शुक्ल पक्ष के प्रथम गुरुवार से नियमित रूप से काली हल्दी पीसकर तिलक लगाने से यह दोनों ग्रह शुभ फल देने लगते हैं।

6- काली हल्दी का चूर्ण दूध में डालकर चेहरे और शरीर पर लेप करने से त्वचा में निखार आ जाता है। ये काली हल्दी आपके चेहरे पे चमक लाती है।

7- यदि आपका व्यवसाय मशीनरी से संबंधित है और आए दिन कोई न कोई मशीन खराब होती है। तो आप काली हल्दी को पीसकर केसर व गंगा जल मिलाकर प्रथम बुधवार को उस मशीन पर स्वस्तिक बना दें। इस उपाय से मशीन जल्दी -जल्दी खराब नहीं होगी। 

8- यदि कोई व्यक्ति मिर्गी या अपस्मार (पागलपन) से पीड़ित हो तो किसी अच्छे मूहूर्त (सर्वार्थसिद्धि योग) में काली हल्दी को कटोरी में रखकर लोबान की धूप दिखाकर शुद्ध करें। तत्पश्चात एक टुकड़े में छेद कर धागे की मदद से उसके गले में पहना दें और नियमित रूप से कटोरी की थोड़ी-सी हल्दी का चूर्ण ताजे पानी से सेवन कराते रहें। अवश्य लाभ मिलेगा। सर्वार्थसिद्ध योग आप पंचांग से देख सकते है।

9- यदि किसी व्यक्ति या बच्चे को नजर लग जाए तो काले कपड़े में काली हल्दी को बांधकर सात बार ऊपर से उतारकर बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें। 

10- काली हल्दी के 108 दाने बनाएं। उन्हें धागे में पिरोकर धूप, गूगल और लोबान से धूनी देने के बाद पहन लें। जो भी व्यक्ति इस माला को पहनता है। वह ग्रहों के दुष्प्रभावों व नजरादि टोने-टोटके से सुरक्षित रहता है।

1 टिप्पणी:

Upchar Aur Prayog

About Me
This Website is all about The Treatment and solutions of Home Remedies, Ayurvedic Remedies, Health Information, Herbal Remedies, Beauty Tips, Health Tips, Child Care, Blood Pressure, Weight Loss, Diabetes, Homeopathic Remedies, Male and Females Sexual Related Problem. , click here →

आज तक कुल पेज दृश्य

हिंदी में रोग का नाम डालें और परिणाम पायें...

Email Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner