Industrial Production of Cannabis-भांग का औद्योगिक उत्पादन

भांग का औद्योगिक उत्पादन (Industrial Production of Cannabis)-


भांग (Cannabis) का जिक्र करते ही आपके दिमाक में नशे का चित्र आ जाता है। लेकिन क्या नशे जैसी चीज भी उपयोगी होगी ये जान कर आपको आश्चर्य होगा। जी हाँ भांग का भी औद्योगिक उत्पादन में योगदान है। आइये जानते है कि औद्योगिक उत्पादन (Industrial Production) में भांग प्रयोग कैसे किया जा रहा है।


Industrial Production of Cannabis-भांग का औद्योगिक उत्पादन

कैनबिस के बारे में तथ्य (Facts About Cannabis)-


Industrial Production of Cannabis-भांग का औद्योगिक उत्पादन

भांग के औद्योगिक उत्पादन (Industrial Production of Cannabis)-


1- क्या आपको पता है कि भांग (Cannabis) से आप ईन्धन भी बना सकते हैं। भांग पौधे के जड़ और बीज में मौजूद तेल से बायोडीजल बनाया जा सकता है। जी हां- बायोफ्युल दुर्भाग्य से भांग पौधा इतना कुख्यात है कि इस योजना पर कोई भी देश या प्रशासन ठीक से अमल नहीं कर रहा है। 

2- क्या आपको पता है कि भांग (Cannabis) से कपड़ो (Fabric) का निर्माण किया जा रहा है। अब है न चौकने की बारी-लेकिन ये भी सच है इस कला का विकास आठ हजार साल पहले चीनियों द्वारा किया गया था। ये बहुत ही उम्दा किस्म के और टिकाऊ भी है। आज कल तो चीन इससे बने कपड़ो (Hemp textiles) का उपयोग फैशन के लिए शुरू किया गया है। सिर्फ इतना ही नहीं भांग के पौधो से जीन्स और जूते भी तैयार हो रहे है।

Industrial Production of Cannabis

3- कागज के उत्पादन (Hemp Paper) में भी भांग (Cannabis) योगदान कम करके नहीं आँका जा सकता है। दुनियां में हो रहे उत्पादन में इसका हिस्सा 0.05 प्रतिशत भांग के पौधे से हो रहा है। इसके बने कागज की खासियत ये है कि रिन्यूबल होता है। हाँ ये बात अवस्य है कि भांग के पौधे से कागज बनाने का खर्च और लकड़ी से जादा है। मगर ये पर्यावरण के भी अनुकूल है। 

4- भांग (Cannabis) एक कैल्सियम और आयरन का स्त्रोत भी है। भांग का एक तिहाई वजन जड़ अथवा बीज में मौजूद तेल में होता है। इस तेल  में फैटी एसिड की मौजूदगी इसे गुणकारी बना देती है। इसमें करीब 25 फीसदी से अधिक प्रोटीन होता है तथा इसमें अखरोट से कहीं ज्यादा ओमेगा-3 की मौजूदगी होती है। यही वजह है कि इस तेल को पूरक आहार माना गया है। भांग का इस्तेमाल लोग आइस टी या बीयर में भी करते हैं। खास बात यह है कि भांग के पौधे से दूध भी प्राप्त होता है। 

5- प्लास्टिक उत्पादन (Plastic Products) में भांग के पौधों का इस्तेमाल धड़ल्ले से होता है। 40 के दशक में कार निर्माता कम्पनी फोर्ड ने भांग के पौधे से बनी प्लास्टिक से एक प्रोटोटाइप कार बनाने में सफलता हासिल की थी। हालांकि इस कार को कभी बाजार के लिए नहीं बनाया गया था। हाल के दिनों में इन पौधों का इस्तेमाल सीडी और डीवीडी केस और अन्य तरह के उत्पाद बनाने के लिए भी हो रहा है। 

6- कपड़ा, खाद्य पदार्थ या कागज ही नहीं बल्कि भांग के पौधे से बिल्डिंग मैटेरियल भी बनाए जाते हैं। नीदरलैन्ड और आयरलैन्ड में कम्पनियां इन पौधों से बिल्डिंग मैटेरियल-जैसे फाइबर बोर्ड, प्रेस बोर्ड और हेम्पक्रीट जैसे प्रोडक्ट्स का उत्पादन करती हैं। इनकी खासियत यह है कि ये मजबूत, टिकाऊ और हल्के होते हैं तथा ये पर्यावरण की दृष्टि से भी सुरक्षित हैं और कंक्रीट का स्थान ले सकने में सक्षम हैं। 

7- मिट्टी में मौजूद जहरीले रसायन (Toxic chemicals) की सफाई के लिए भी भांग का इस्तेमाल होता है। नब्बे के दशक में युक्रेन के चेर्नोबिल में हुए परमाणु हादसे के बाद इलाके में मिट्टी की सफाई के लिए भांग का इस्तेमाल किया गया था। दुर्घटना से प्रभावित पूरे इलाके में भांग के पौधे रोपे गए और इस तरह यहां की मिट्टी की सफाई हो सकी थी। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Loading...