This Website is all about The Treatment and solutions of General Health Problems and Beauty Tips, Sexual Related Problems and it's solution for Male and Females. Home Treatment, Ayurveda Treatment, Homeopathic Remedies. Ayurveda Treatment Tips, Health, Beauty and Wellness Related Problems and Treatment for Male , Female and Children too.

11 मई 2017

इस प्रयोग से बच्चे अँगूठा चूसना छोड़ देगें

Kids will Stop Sucking Thumb


बच्चों के लिए अंगूठा चूसने (Thumb sucking) की आदत अचानक से छोडऩा थोड़ा मुश्किल होता है यह आदत सालों से विकसित हो रही होती है हम यह नहीं सोच सकते कि यह पल भर में ही ख़त्म हो जायेगी जब उसे ऐसा करने से रोका जाता है तो वह रो-रोकर पूरे घर में कोहराम मचा देता है-

कई मांताएँ तो मजबूर होकर अपने बच्चे का अंगूठा खुद ही उसके मुंह में डाल देती हैं बहरहाल-जो भी हो बच्चे की और ऐसी मांओं की यह आदत कतई अच्छी नहीं है कोई-कोई बच्चा तो अपनी सारी उंगलियों को ही अपने मुंह में डाल लेता है तो कोई अपनी हथेली को चूसता रहता है-

शिशु को मुंह में अंगुठा दबाए चूसते हुए देख तनाव में आ जाती हैं-खैर अब इसमें तनाव में आने की कोई जरुरत नहीं है क्योकि इसका सरल उपाय है जिससे शिशु यह आदत पल भर में छोड़ देगा-अंगूठा चूसने (Thumb sucking) वाली तो बच्चों की पुरानी और आम आदत है ऐसा करने से एंडोफिन्स नामक द्रव का उत्पादन होता है जिससे शिशु का दिमाग शांत हो जाता है और उसे जल्द नींद आ जाती है-

कभी-कभी ऐसा करने से कोई समस्या पैदा नहीं होती पर लगातार अंगूठा चूसते रहने से नाखून की गंदगी पेट में जाने से शिशु बीमार हो सकता है अगर आपको शिशु की अंगूठा चूसने की आदत छुड़ानी है तो इस उपाय को जरुर अपनाएं-

अंगूठा चूसने (ThumbSucking) की आदत कैसे छुडाये-


1- आप बच्चे के सामने कभी भी गुस्सा या झुंझलाहट न दिखाएं इससे बच्चे को क्रोध आएगा और वह इससे वह इस आदत को और भी अपना लेगा-

इस प्रयोग से बच्चे अँगूठा चूसना छोड़ देगें

2- थंब गार्ड का इस्तमाल करें यह एक प्लास्टिक का ढांचा होता है जो अंगूठे में फिट हो जाता है और यह अंगूठा चूसने की आदत को काफी हद तक सीमित रखता है पर इसे ज़बरदस्ती अपने बच्चे पर इस्तमाल करने से उसके मन पर बुरा असर भी पड़ सकता है इसलिए सावधान रहे उसे प्यार से इसकी आदत डलवायें-

3- जो भी आपका बच्चा कुछ करने को कहे तो आप उसे कभी भी नजर अंदाज न करें आपका बच्चा तभी अंगूठा चूसता (Thumb sucking) है जब वह तनाव में आ जाता है-इसलिए उसकी कही हई बात को नकारे नहीं-

इस प्रयोग से बच्चे अँगूठा चूसना छोड़ देगें

4- प्राकृतिक तेल यानी की नीम या सरसों का तेल उसके अंगूठे पर लगा दें-जब उसे अपना अंगूठा कड़वा लगेगा तो वह खुद ही अंगुठा चूसना (Thumb Sucking) बंद कर देगा-इस तरीके को कुछ दिनों तक चलाएं और फर्क देखें-

5- आपका बच्चा जब भी अकेला महसूस करें तो उसे कोई न कोई कार्य करने को दे दें और जब वह उस कार्य में सफल हो जाए-तब उसे शाबाशी दें-इससे वह पुरस्कृत महसूस करेगा और अंगूठा चूसना बंद कर देगा-

6- बच्चे के अंगूठे को उसके मुंह में देखें तो उसे दोनों हाथों से होने वाले कामों में व्यस्त रखें-वह काम हो सकते हैं सॉफ्ट टॉय को पकडऩा-किताब पढऩा या फिर पीएसपी पर मनपसंद गेम खेलना-

7- आप बच्चे के अंगूठे को बैंड ऐड, टेप या फिर ऊँगली वाले पपेट से बांधकर रखें तो बच्चे को अंगूठा चूसने में इतना मज़ा नहीं आएगा-सोते समय अगर आपका बच्चा अंगूठा चूस रहा है तो आप सॉक्स का इस्तमाल भी कर सकते हैं-

8- अंगूठे पर नीम्बू का रस लगा दें कुछ बच्चे अक्सर नीम्बू का रस पसंद नहीं करते-अगर आप उसके अंगूठे पर ढेर सारा नीम्बू का रस लगा देती हैं तो हो सकता है कि आपका बच्चा अंगूठा चूसना बंद कर दे-

9- बच्चे के अंगूठे में नीम की पत्तियों को या चिरायता को पीसकर लगा दें-वह जब भी अंगूठे को चूसने की कोशिश करेगा-उसे कड़वा लगेगा और फिर धीरे-धीरे अंगूठा चूसना छोड़ देगा-कड़वा लगने पर वह रो भी सकता है लेकिन आप अपने हृदय को कठोर बनाये रखें-

10- बच्चे के अंगूठे पर फेमाइट (एक बदबूदार पाउडर) का लेप लगा दें-काले नमक को पीसकर इसका लेप भी लगा सकते हैं-

11- मार्केट में कई प्रकार की चीज़े उपलब्ध हैं जिससे बच्चे की त्वचा और नाखून को बचाया जा सकता है-उसके मुंह में निप्पल या शुगर कैंडी डाल दें जिससे वह अपने अंगूठे को मुंह में न डाल सके-उसका ध्यान अंगूठे की ओर से हटा कर खिलौने, पज्जल या गाने की ओर आकर्षित करें-

12- बच्चों को बार-बार खाने की वस्तुएं जैसे फल, तरबूज का रस, गाय का दूध आदि पोषक, आहार के रूप में दें-

13- बाजार में शहद से भरे निप्पल मिलते हैं-बच्चे की आदत को छुड़ाने के लिए इनका इस्तेमाल किया जा सकता है लेकिन जरूरत से ज्यादा इनका इस्तेमाल न करें-

प्रस्तुती- Satyan Srivastava

Upcharऔर प्रयोग की सभी पोस्ट का संकलन

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

GET INFORMATION ON YOUR MAIL

Loading...