30 मई 2017

जुनूनी अनिवार्य विकार (OCD) का इलाज

Obsessive Compulsive Disorder 


हमारे समाज में बहुत से अलग-अलग तरीके के मानसिक रोगी पाये जाते है उनमे से आपके समक्ष आज एक इस प्रकार के केस की चर्चा करना चाहूंगी जो एक प्रकार से बहुत कम और अजीब तरह के लोगों में इस प्रकार का रोग देखने को मिलता है जी हाँ हम जुनूनी अनिवार्य विकार (Obsessive Compulsive Disorder) की बात कर रहे है-

जुनूनी अनिवार्य विकार (OCD) का इलाज

इस प्रकार के रोगी में एक जिद होती है जो उनको ये सब करने को बाध्य करती है ये लोग बहुत ही सफाई पसंद होते है इसका एलोपेथी में कोई उपचार नहीं है इस प्रकार का रोगी यदि नहाता है तो बार-बार साबुन से शरीर को घंटो रगड़ता ही रहेगा फिर भी उसे आत्म-संतुष्टि नहीं होती है वो हर चीज को धोने को लालायित रहता है यहाँ तक कि यदि कोई उसकी वस्तुओं को छू लेता है तो फिर वह उसे भी धो लेता है हमने एक ऐसे रोगी को भी देखा है जो इलेक्ट्रानिक सामान को भी पति के आफिस जाने के बाद भी धो देती थी ऐसी महिलायें इस रोग से जादा ही पीड़ित पाई जाती है-

जुनूनी अनिवार्य विकार (OCD) का इलाज

कहने का स्पष्ट अर्थ है कि ये एक प्रकार का उनको मानसिक रोग ही होता है चूँकि मै सोसल मिडिया पर भी काफी हेल्थ के ग्रुप से जुडी हूँ तो वहां एक दिन बेचफ्लॉवर की चर्चा करते समय मैने कहा कि अगर मानसिक लक्षणों का ठीक से डायग्नोस हो जाए तो बेचफ्लॉवर चमत्कार कर सकती है-

तुरन्त मुझे एक सज्जन का पर्सनल मैसेज मिला और उन्होंने कहा की मेरे परम् मित्र आंनद को OCD है और पिछले 15 साल से हर सम्भव उपचार करवाए पर कोई फर्क नही है अब तकलीफ और भी बढ़ रही है और पेशेंट की हताशा इतनी है कि वो अब कोई उपचार लेना ही नही चाहता है-

तब मैंने उनसे कहा कि आप मेरा नम्बर उनकी पत्नी को दे दे मै उनसे पेशंट के लक्षण जान लुंगी इसके उपरान्त आनन्द जी की पत्नी से हुई बात के मुताबिक आनन्द जी घण्टो नल के नीचे हाथ धोते फिर बोलते की हाथ की वजह से साबुन गन्दा हो गया फिर साबुन धोते फिर नल गन्दा हो गया फिर नल धोते इतना धोते की साबुन से उनके हाथों की त्वचा भी गलने लगी थी तथा आने जाने रिश्तेदारों या पड़ोसियों के सामने शर्मिंदगी भी उठानी पड़ती थी-

अब समस्या ये थी कि आनंद जी मुझसे बात करने को भी राजी नहीं थे लेकिन उनकी पत्नी से ही मुझे उनके सारे सिम्पटम्स को स्टडी करनी पड़ी और उसके आधार पर ही उन्हें बेचफ्लॉवर कॉम्बिनेशन दिया गया तथा एक महीने बाद रोगी के बारे में अपडेट देने को कह दिया-

मुझे यकीन ही नहीं हुआ कि एक माह बाद स्वयं आनंद जी ने ही फोन किया और कहा मुझे डॉक्टर साहब बहुत आराम है और हम आपके बेचफ्लॉवर ट्रीटमेंट को कंटीन्यू करना चाहता हूं तब हमने उनसे उनके वर्तमान मानसिक अवस्था की चर्चा की और उन्हें दूसरा एक कॉम्बिनेशन दिया गया आज वो स्वस्थ है-

अगर आपके आस-पास भी इस प्रकार का कोई मानसिक रोगी है तो बेच फ्लावर ट्रीटमेंट अवश्य आजमायें-

विशेष सूचना-

सभी मेम्बर ध्यान दें कि हम अपनी नई प्रकाशित पोस्ट अपनी साइट के "उपचार और प्रयोग का संकलन" में जोड़ देते है कृपया सबसे नीचे दिए "सभी प्रकाशित पोस्ट" के पोस्टर या लिंक पर क्लिक करके नई जोड़ी गई जानकारी को सूची के सबसे ऊपर टॉप पर दिए टायटल पर क्लिक करके ब्राउज़र में खोल कर पढ़ सकते है...  धन्यवाद। 

Chetna Kanchan Bhagat Mumbai

Upcharऔर प्रयोग की सभी पोस्ट का संकलन

loading...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Information on Mail

Loading...