24 फ़रवरी 2018

महिलाओं में अधिक मासिक धर्म या भारी रक्तस्राव

More Menstruation or Heavy Bleeding in Women


माहवारी (Menstruation) स्त्रियों में हर महीने होने वाली सामान्य क्रिया है और इसमे योग्य मात्रा में रक्तस्राव होना स्वास्थ की निशानी है जिस प्रकार कम मासिक स्त्राव होना स्वास्थ्य सँबाधित गड़बड़ी के लक्षण है वैसे ही अधिक रक्तस्त्राव होना भी एक समस्या ही है और इस समस्या के चलते स्त्रियों में रक्ताल्पता, कमजोरी तथा थकावट जैसी समस्याएं भी पैदा हो जाती है यदि 4-5 दिन से ज्यादा अगर रक्तस्राव हो तो इसे हेवी ब्लीडिंग (Heavy Bleeding) ही माना जाता है और इसे कतई अनदेखा नही करना चाहिए क्योंकि इसके चलते स्त्रियों में हार्मोन सँबंधित तकलीफे,सर दर्द, कमजोरी, बदन दर्द, कुपोषण, बालो का झड़ना, चक्कर आना, मुड़ स्विंग, उदासी तथा दूसरी कई समस्या हो सकती है-

महिलाओं में अधिक मासिक धर्म या भारी रक्तस्राव

जिन महिलाओं को हेवी ब्लीडिंग (Heavy Bleeding) की प्रकृति हो उन्होंने अपने भोजन में गर्म चीजे नही खानी चाहिए तथा मिर्च मसाले, तळी हुई चीजें, खटाई अचार, मांसाहार जैसे चीजो से तथा फ्रिज के पानी से परहेज रखना चाहिए ज्यादा चिंता, तनाव व उदासी से भी यह समस्या होती है इसलिए हमेशा मन प्रसन्न रखना चाहिए-

हेवी ब्लीडिंग (Heavy Bleeding) के लिए उपाय-



1- जिन महिलाओं को हेवी ब्लीडिंग (Heavy Bleeding) हो या माहवारी के बाद या माहवारी (Menstruation) में कमजोरी लगती हो उन्होंने दोनों समय भोजन के बाद नारियल की गिरीमिश्री व एक चम्मच सौफ खूब चबा-चबा कर खानी चाहिए-

2- दूधी या लौकी की खीर खाने से अत्याधिक रक्तस्राव रुकता है तथा तलवों की जलन व कमजोरी में आराम मिलता है-

3- अशोक वृक्ष (जिसका तना बड़ा हो और वृक्ष घटादार हो,बड़ा हो) की छाल 10 ग्राम रात को 2 कप पानी मे भिगोकर रखे तथा सुबह उबालकर एक कप बचे तब उसमे 1 चम्मच मिश्री डालकर खाली पेट पीने से ज्यादा रक्तस्राव, पेढु दर्द, कमजोरी तथा अन्य हार्मोन्स सँबंधित शिकायते दुर होती है-

हेवी ब्लीडिंग (Heavy Bleeding) के लिए कुछ अनुभूत और इमरजेन्सी नुस्खे-



महिलाओं में अधिक मासिक धर्म या भारी रक्तस्राव

1- जब बहुत ज्यादा ब्लीडिंग हो रही हो तब एक निरंजन फल को रात को एक कप पानी मे भिगो दें सुबह खाली पेट फल को पानी मे मसलकर पानी पी जाए-

2- हीराबोल का चने बराबर टुकड़ा बिना दांतों को स्पर्श हुए पानी से निगल ले-

3- तुलसी के बीज या तुकमरिया 3 ग्राम रात को पानी मे भिगो दें सुबह शक्कर मिले दूध के साथ पिए-

4- यह सारे नुस्खे आसान और अनुभूत है इसके साथ ही हेवी ब्लीडिंग हो तब नाभि के आसपास बर्फ की सिकाई करने से तथा पैरों के नीचे तकिया रखकर सोने से इस समस्या में काफी राहत मिलती है-

विशेष सूचना-

सभी मेम्बर ध्यान दें कि हम अपनी नई प्रकाशित पोस्ट अपनी साइट के "उपचार और प्रयोग का संकलन" में जोड़ देते है कृपया सबसे नीचे दिए "सभी प्रकाशित पोस्ट" के पोस्टर या लिंक पर क्लिक करके नई जोड़ी गई जानकारी को सूची के सबसे ऊपर टॉप पर दिए टायटल पर क्लिक करके ब्राउज़र में खोल कर पढ़ सकते है....

किसी भी लेख को पढ़ने के बाद अपने निकटवर्ती डॉक्टर या वैद्य के परमर्श के अनुसार ही प्रयोग करें-  धन्यवाद। 

Upchar Aur Prayog 

Upcharऔर प्रयोग की सभी पोस्ट का संकलन

loading...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Information on Mail

Loading...