22 जून 2018

हाथ पैर पसीजना की आसान चिकित्सा

Home Remedies for Palmoplantar Hyperhidrosis


हाथ पैर पसीजना (Palmoplantar Hyperhidrosis) या हाथों की हथेलियों तथा पैरों के तलवों में बहुत ज्यादा प्रमाण में पसीना आना बेहद आम दिखने वाली यह समस्या जिसे होती है वहीं इसकी असहजता तथा कष्ट को जान सकता है हालांकि यह समस्या में किसी भी प्रकार का शारीरिक कष्ट का समावेश ना होने के बावजूद इस समस्या से ग्रस्त लोगों को बेहद असुविधा तथा कभी-कभी शर्मिंदगी का भी सामना करना पड़ता है जिससे उनके व्यक्तिगत सौंदर्य तथा सामाजिक स्वास्थ्य या सामाजिकरण पर बुरा असर पड़ता है-

हाथ पैर पसीजना की आसान चिकित्सा

कभी-कभी तो निकलने वाला पसीना (Sweating) इतना ज्यादा होता है की रोगी किसी से हाथ मिलाने या नंगे पांव फर्श पर चलने को भी कतराने लगते हैं इस समस्या को आयुर्वेद में पुस्तवाय कहा गया है तथा मॉडर्न मेडिसिन में इसे Palmoplantar Hyperhidrosis कहते हैं-

पुस्तवाय के कारण-


इस समस्या होने के पीछे शारीरिक तथा मानसिक दोनों प्रकार के कारण हो सकते हैं-

1- शारीरिक कारणों में हारमोनल गड़बड़ी (Hormonal imbalance), अंत स्रावी ग्रंथियों की कार्य क्षमता में होने वाली रुकावटें, किसी दवाई का रिएक्शन या साइड इफेक्ट महिलाओं में थाइरोइड तथा माहवारी संबंधी समस्याएं तथा त्वचा के अंदर पाई जाने वाली स्वेद ग्रंथियां (Sweat gland) में उत्पन्न हुई गड़बड़ी जैसे कई कारण हो सकते हैं-

2- मानसिक कारणों में स्ट्रेस, डिप्रेशन, भावनात्मक रुकावटें जैसे उदासीनता, चिंता (Anxiety), घबराहट (Nervousness), किसी चीज का फोबिया (Phobia), शर्मिला स्वभाव या आत्मविश्वास की कमी, नकारात्मक विचार जैसे कई कारण इस समस्या के लिए मुख्य रूप से कारण हो सकते हैं-

इस लेख में हम आपको पुस्तवाय (Palmoplantar Hyperhidrosis)  से निजात पाने के आयुर्वेदिक नुस्खों के बारे में बताएंगे जो उपयोग में बेहद सरल तथा लाभदायक है व संपूर्ण निराप्रद है-

क्या उपाय करें-


1- 5 ग्राम फिटकरी को 50 ग्राम दही में खूब घोट लेवे इसे हाथ व पैरों में मले तथा आधे घंटे बाद घोए इस लेप से ज्यादा पसीना आने की समस्या (Hyperhidrosis) दूर होती है तथा पसीने की नमी से त्वचा में बने र्रेशेस या इन्फेक्शन भी दूर होते हैं-

हाथ पैर पसीजना की आसान चिकित्सा

2- समंदर फल और सौंठ को पीसकर शरीर पर लगाने से ज्यादा पसीना आने की समस्या (Hyperhidrosis)  दूर होती है-

3- बबूल के पत्तों को हाथ पैरों पर मसलने से ज्यादा पसीना होने की समस्या मिटती है-

4- हरे मूंग को जलाकर भस्म कर लें तथा इसे खरल में अच्छे से घोटले इस भस्म को हाथों तथा पैरों पर मलने से पुस्तवाय (Palmoplantar Hyperhidrosis)  की समस्या मिटती है-

5- पोहकरमूल पिस कर हथेली और तलवों पर मलने से पसीना आना बंद होता है-

6- हरड़, बहेड़ा, आंवला, चीता, नागर मोथा, और गूगल सबको समान भाग लेकर मिलाकर अच्छे से पिसले इस चूर्ण के लगाने से तथा सारे बदन पर लगाकर स्नान करने से हाथ पैरों का पसीना बंद हो जाता है तथा बगल व जांघों में होने वाली ज्यादा पसीने की समस्या (Axilla Hyperhidrosis), पसीने की बदबू, पसीने की वजह से खाज-खुजली तथा त्वचा का छिल जाना जैसी समस्या में भी यह लेप बहुत लाभदायक है-

हाथ पैर पसीजना की आसान चिकित्सा-


1- धतूरे के बीज को आदि रत्ती से एक रत्ती तक की मात्रा 7 दिन तक लेने से हाथ पैर आदि में पसीना आना रुक जाता है-

2- बेरी के पत्तों को पीसकर मलने से पुस्तवाय (Palmoplantar Hyperhidrosis) मिटता है-

3- बेंगन और पोस्ट के डोडे के क्वाथ में हाथ व पैरों को भिगोने से पुस्तवाय की समस्या नष्ट होती है-

विशेष सूचना-

सभी मेम्बर ध्यान दें कि हम अपनी नई प्रकाशित पोस्ट अपनी साइट के "उपचार और प्रयोग का संकलन" में जोड़ देते है कृपया सबसे नीचे दिए "सभी प्रकाशित पोस्ट" के पोस्टर या लिंक पर क्लिक करके नई जोड़ी गई जानकारी को सूची के सबसे ऊपर टॉप पर दिए टायटल पर क्लिक करके ब्राउज़र में खोल कर पढ़ सकते है....

किसी भी लेख को पढ़ने के बाद अपने निकटवर्ती डॉक्टर या वैद्य के परमर्श के अनुसार ही प्रयोग करें-  धन्यवाद। 

Upchar Aur Prayog 


Upcharऔर प्रयोग की सभी पोस्ट का संकलन

loading...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Information on Mail

Loading...