20 अगस्त 2018

कांसे की कटोरी से पैरों की मसाज करने के लाभ

Benefits of Ayurvedic Foot Massage with Bronze Bowl


आजकल दौड़-धूप की जिंदगी में स्ट्रेस, तनाव, थकावट जैसी समस्याएं आम हो गई है बच्चे जवान तथा बूढ़े सभी इन समस्याओं से ग्रसित हैं इसलिए आजकल शहरों में स्पा कलचर का चलन काफी बढा है जहां लोग हजारों रुपए खर्च करके शरीर तथा मन को ताजगी देने वाले  मसाज तथा अन्य ट्रीटमेंट लेने जाते हैं लेकिन आज हम आपको एक ऐसी प्राचीन तथा अत्यंत उपयोगी चिकित्सा के बारे में बताएंगे जो आप आसानी से घर में करके अपना समय तथा पैसे भी बचा सकते हैं तथा तनाव, थकावट व दूसरी शारीरिक समस्याओं से आसानी से छुटकारा पा सकते हैं-

कांसे की कटोरी से पैरों की मसाज करने के लाभ

इसे आयुर्वेद में पादाभ्यंगम कहते हैं याने पैरों के तलवों की विशिष्ट तरीकों से की जाने वाली मसाज- 

आधुनिक संसाधनों तथा सुजोक, एक्यूप्रेशर व झोन थेरेपी जैसे चिकित्सा पद्धति के हवाले से यह बात हम सभी जानते हैं कि पैरों के तलवों में सारे शरीर के अवयवों के प्रतिबिंब बिंदु या मर्म बिंदु (Marma Points) समाए है इन पर दबाव देने से या विशिष्ट तरीके से मसाज करने से यह बिंदु उत्तेजित होकर शरीर में उर्जा को बढ़ाते हैं तथा रक्त संचार गतिमान करते हैं जिससे हमें शारीरिक थकान तथा मानसिक थकान में राहत मिलती है तथा हमें तरोताजा वह प्रसन्न महसूस होता है-

मसाज, पेडी क्योर, पेडी मसाज जैसे शब्द आजकल फैशन में है किंतु आयुर्वेद सदियों पहले ही इन सारी चिकित्सा का उल्लेख कर चुका है जिसे आज भी अगर हम अपनाए तो हम अपने तन व मन को स्वस्थ रख सकते हैं-

कैसे करें मसाज-


1- गाय के घी को पैरों के तलवों में लगाकर कांसे की कटोरी से अलग-अलग पद्धतियों से तलवों में घिसा जाता है यह सेशन 15 मिनट से लेकर 40 मिनट तक होता है  विविध शारीरिक तथा मानसिक समस्याओं के अनुरूप पैरों के विविध भागों में विशिष्ट तरीके से मसाज किया जाता है-

2- कांसा तांबा व जस्ता धातु मिलाकर बनाई गई धातु है जो शरीर से उष्णता या गर्मी को कम करने में मदद करता है-

3- कांसे की कटोरी (आजकल कांसे से चम्मच व मसाज के अन्य उपकरण भी बनाए जाते हैं) से शरीर पर मसाज करने से शरीर में बढ़ी हुई गर्मी कम होती है तथा शरीर में वात दोष का नियंत्रण होता है जिससे थकान स्ट्रेस, दर्द, जलन पैरों की जकड़न, पैरों का दुखना, फटी एड़ियां, आंखों की जलन, सिर दर्द, माइग्रेन, अनिंद्रा आंखों की रोशनी कम होना, बाल झड़ना, पाचन संबंधित समस्याएं, जोड़ों के दर्द से मुक्ति मिलती है मस्तिष्क तथा नर्वस सिस्टम शांत होता है जिससे मूड भी फ्रेश रहता है-

कांसे की कटोरी से पैरों की मसाज करने के फायदे-


कांसे की कटोरी से पैरों की मसाज करने के लाभ

1- गाय के घी को पैरों के तलवों में लगाकर कांसे की कटोरी से गोल गोल घुमा कर मसाज करने से वात विकार से उत्पन्न फटी एड़ियां, हाथ पांव के तलवों का छीलना, हाथ पैरों के जलन जैसी समस्याएं कम होती है-

2- पैरों में सारे एक्यूप्रेशर पॉइंट्स होने की वजह से तलवों में उपचार करने से हम तरोताजा महसूस करते हैं- 

3- विद्यार्थियों में आजकल स्ट्रेस, एकाग्रता की कमी, कमजोर याद शक्ति, आंखों के चश्मे जैसी समस्याएं आम है बच्चों में प्रतिदिन रात को सोने से पूर्व यह चिकित्सा करने से याददाश्त बढ़ती है तथा पढ़ाई में एकाग्रता भी बढ़ती है व चश्मे के नम्बर जल्दी नहीं बढ़ते हैं-

4- अत्यधिक तनाव चिंता वह टेंशन की वजह से अनिंद्रा, उच्च ताप, चिडचिडापन, आंखों के नीचे डार्क सर्कल जैसी बीमारियां होती है तब कांसे की कटोरी से पांव में प्रतिदिन मसाज करने से रक्तचाप नियंत्रित रहता है वह मानसिक समस्या दूर होकर ताजगी मिलती है-

5- त्वचा रोग, सोरायसिस, खुजली, दाद, खाज पित्ती उछलना, एलर्जी जैसी समस्याओं में यह मसाज करने से काफी लाभ होता है त्वचा संबंधित समस्याओं में पैर के तलवों में ऊपर की तरफ ज्यादा देर मसाज करनी चाहिए-

6- शरीर की गर्मी बढ़ने से होने वाली बीमारियों में यह मसाज काफी उपयोगी है त्वचा व चेहरे का कालापन, कील मुहांसे, डैंड्रफ की समस्या मैं भी यह मसाज काफी कारगर है ऐसी समस्याओं में पैरों के बीच में ज्यादा देर मसाज करनी चाहिए-

7- आंखों की जलन, सूजन, कमजोर दृष्टि होना, सिरदर्द, बाल झड़ना जैसी समस्याओं में भी यह मसाज बेहद लाभदाई है ऐसी समस्याओं में पांव के दोनों साइड पर ज्यादा देर मसाज करनी चाहिए-

8- कांसे की कटोरी से पैरों के तलवों पर मसाज करने से किडनी संबंधित समस्याओं में भी राहत मिलती हैं व शरीर की सूजन दूर होती हैं तथा शरीर से विषैले पदार्थ आसानी से बाहर निकलते हैं-

9- कांसे की कटोरी से पैरों के तलवों पर मालिश करने से रक्त संचार सुचारू होकर गठिया, पैरालिसिस, जोड़ों के दर्द जैसे वात रोगों में भी राहत मिलती हैं-


विशेष सूचना-

सभी मेम्बर ध्यान दें कि हम अपनी नई प्रकाशित पोस्ट अपनी साइट के "उपचार और प्रयोग का संकलन" में जोड़ देते है कृपया सबसे नीचे दिए "सभी प्रकाशित पोस्ट" के पोस्टर या लिंक पर क्लिक करके नई जोड़ी गई जानकारी को सूची के सबसे ऊपर टॉप पर दिए टायटल पर क्लिक करके ब्राउज़र में खोल कर पढ़ सकते है....

किसी भी लेख को पढ़ने के बाद अपने निकटवर्ती डॉक्टर या वैद्य के परमर्श के अनुसार ही प्रयोग करें-  धन्यवाद। 

Chetna Kanchan Bhagat Mumbai

Upcharऔर प्रयोग की सभी पोस्ट का संकलन

loading...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Information on Mail

Loading...