9 सितंबर 2018

राल का केश तेल-मरहम और लेप बनाने की विधि

Resin-Hair Oil-Ointment and Method of Making Cream


शीतराळ, सुर धूप, शालरस तथा शालवेष्ट आदि नाम से प्रचलित राल (Resin) शाल नाम के वृक्ष का गोंद (Gum) है जो  अत्यंत ही शीतल है यह अत्यंत शीतल होने से त्वचा रोग (Skin Decease) जलन, पित्त संबंधी तकलीफ में अत्यंत ही लाभदायक है-जलने (Burns) कटने (Cuts) छिलने (Rashes) पर तथा सड़े पके घाव (Wounds) पर दाद, खाज, खुजली व चर्म रोग तथा त्वचा के फटने पर इसका मरहम बेहद लाभदाई है-

राल का केश तेल-मरहम और लेप बनाने की विधि

आज हम आपको राल के कुछ अनुभूत प्रयोग जिसमे  लेप, मरहम तथा तेल बनाने की विधि बताएंगे जो बेहद सरल अनुभूत और उपयोगी है जिसे आप घर बैठकर बना सकते हैं तथा लाभ ले सकते हैं-

घाव, फोड़े व जख्म पर राल (Resin) का प्रयोग-


सफेद राल, सफेद कत्था, तिल का तेल और शर्करा युक्त मीठा पानी चार-चार भाग व सफेद फिटकरी एक भाग ले तथा पानी में शर्करा डालकर घोल तैयार करें उसी में तेल मिलाकर राल और कत्था को कपड़छन चूर्ण करके उसी में मिला दे और फेट-फेटकर गाढ़ा मलहम तैयार करें यह मरहम स्वच्छ वस्त्र पर लगावे और फोड़ा पर चिपका दें लगाने से पहले घाव या जख्म को नीम के काढ़े से धोकर मलहम लगाएं-

छाजन पर राल (Resin) का प्रयोग-


सफेद राल 10 ग्राम, सिंदूर 10 ग्राम, मोम 10 ग्राम लेकर 100 ग्राम महुए के तेल में पका लें खूब घोटकर नीम के क्वाथ के साथ मरहम बना ले इसे छाजन पर पित्ती पर लगाने से आश्चर्यजनक लाभ मिलता है-

बिबाइयो तथा फटी एडियो पर राल (Resin) का प्रयोग-


1- राल और सेंधा नमक सम्भाग चूर्ण ले तथा उसे शहद और घी के साथ मिलाकर खूब फेटे फिर इसमें जरूरत के मुताबिक सरसों का तेल मिलाकर रखें फटी हुई विदाई पर इसका लेप करने से शीघ्र लाभ होता है-

2- 10 ग्राम राल, 10 ग्राम घी तथा 3 ग्राम मधुमक्खी का मोम ले पहले घी को खूब गर्म करें फिर उसने मोम मिला दे जब दोनों एक सार हो जाए तब उसमें राल मिला दे ठंडा होने पर इसे खरल में खूब घोटे इस मरहम को रात को पैर धो कर बिवाईयों में भरने से बिबाइया ठीक हो जाएगी-

दाद-खाज-फोड़े-फुंसी पर राल (Resin) का प्रयोग-


1- राल, सुहागा, आंवलासार गंधक समान भाग लेकर महीन पीस लें तथा तीनों के समान भाग घी के साथ धीमी आंच पर पकाएं जब ठीक से एक जान हो जाए तब उतारकर पात्र में डालकर पात्र जल से भर ले ठंडा होने पर जल ऊपर हो जाएगा और वह पदार्थ नीचे मरहम की तरह जम जाएगा को निकालकर मरहम को अच्छे से फेट के शीशी में भर लें दाद खाज फोड़ा फुंसी तभी मैं इसे लगाने पर लाभ होता है-

2- चार भाग राल, चार भाग मोम, चार भाग तिल का तेल और तीन भाग गाय का घी को अच्छे से मिलाकर गर्म करके इसका गाढा लेप बना ले यह लेप खाज खुजली पर लगाने से खाज खुजली मिट जाती है-

राल (Resin) का मल्टी परपज मरहम बनायें-


राल का केश तेल-मरहम और लेप बनाने की विधि

20 ग्राम सफेद राल का चूर्ण, 50 ग्राम गाय का घी, 50 ग्राम एरंड तेल, तथा 20 ग्राम नीम का तेल लेकर सारे तेलों को अच्छे से गर्म करें उसमें 20 ग्राम कपूर मिलाएं तथा राल का चूर्ण मिलाकर नीचे उतार लें इसे अच्छे से हिलाए एक थाली में इसे फैलाए और ऊपर से 1 लीटर गुलाब की पंखुड़ियों का क्वाथ डाल दे आधा घंटा रखने के बाद इसे हाथों की हथेलियों से मलमल कर खूब घोटे तथा मल कर मरहम नुमा बना ले व कांच की शीशी में भरकर रख लें यह मरहम जले कटे, खाज खुजली, त्वचा रोग, तथा गुदाद्वार के मस्से वह पाइल्स में बेहद लाभकारी है गुदाद्वार की खुजली तथा जलन में रात को इसे लगा कर सोए जिससे यह समस्या जल्दी खत्म हो जाती है-

राल (Resin) का बहुपयोगी केश तेल-


ढाई सौ ग्राम तिल का या नारियल का तेल लेकर उसमें 10 ग्राम कपूर 10 ग्राम बादाम का तेल तथा 20 ग्राम सफेद राल मिलाएं इसे खूब अच्छे से हिला लें तथा कांच के बर्तन में डालें ऊपर से 1 लीटर पानी व दो नींबू का रस डालें इसे ढककर एक घंटा रख ले फिर इसे खूब घोट ले गाढा पानी जैसा बन जाए तब इसे कांच की प्याली में सुरक्षित रखें यह तेल नियमित प्रतिदिन रात को सर पर लगाए वह सुबह धो दें यह तेल सर की गर्मी बालों का झड़ना, सर में खुजली, डेंड्रफ ,आंखों का दर्द, सर दर्द जैसी शिकायतों पर बहुत उपयोगी है इस तेल से पैरो के तलवो की मालिश करने से अनिंद्रा, पेरो के तलवो की जलन तथा थकन दूर होती है-


विशेष सूचना-

सभी मेम्बर ध्यान दें कि हम अपनी नई प्रकाशित पोस्ट अपनी साइट के "उपचार और प्रयोग का संकलन" में जोड़ देते है कृपया सबसे नीचे दिए "सभी प्रकाशित पोस्ट" के पोस्टर या लिंक पर क्लिक करके नई जोड़ी गई जानकारी को सूची के सबसे ऊपर टॉप पर दिए टायटल पर क्लिक करके ब्राउज़र में खोल कर पढ़ सकते है....

किसी भी लेख को पढ़ने के बाद अपने निकटवर्ती डॉक्टर या वैद्य के परमर्श के अनुसार ही प्रयोग करें-  धन्यवाद। 

Chetna Kanchan Bhagat Mumbai

Upcharऔर प्रयोग की सभी पोस्ट का संकलन

loading...

1 टिप्पणी:

Information on Mail

Loading...