Types of Female Infertility-महिला बांझपन के प्रकार

बांझपन के प्रकार (Types of Infertility)-


आप सभी जानते हैं कि नपुंसक उस व्यक्ति को कहते हैं जिस पुरुष के वीर्य या गुप्तागं में कमी होती है। वह सन्तान की उत्पत्ति के योग्य नहीं रहता है। ठीक इसी तरह वह महिला जिसके गर्भाशय में कुछ कमी हो या उसे मासिक धर्म ठीक समय पर नहीं आता है या वह संतान पैदा करने के लायक नहीं है उस महिला को नास्त्रीक कहा जा सकता है। 


Types of Female Infertility-महिला बांझपन के प्रकार

बांझ (Infertile) उस स्त्री को कहते हैं जिस स्त्री के गर्भाशय नहीं होता है या उसे मासिक धर्म नहीं आता है। लेकिन इसके अलावा कई स्त्रियां ऐसी भी होती है जिन्हे मासिक धर्म होते हुए भी नास्त्रीक कहलाती है। कई लोग पूर्ण रुप से नपुंसक नहीं होते परंतु उनमें थोड़े-थोड़े गुण नपुंसक के भी मिलते हैं। यदि उनकी अच्छी तरह से चिकित्सा की जाए तो उनमें स्त्रियों को गर्भवती करने की शक्ति पैदा हो जाती है और वे बच्चे पैदा करने का पुरुषत्व प्राप्त कर लेते हैं। इसी तरह से अनेक महिला भी ऐसी है जिनका ठीक समय पर इलाज न होने पर बांझपन (Infertility) रोग के लक्षण पैदा हो जाते हैं और वह धीरे-धीरे नस्त्रीक बन जाती है। 

बांझपन के प्रकार (Types of Infertility)-

Types of Female Infertility

बाँझ स्त्री (Infertile Woman) इक्कीस प्रकार की होती है जिनका विवरण इस प्रकार है। 

उदावर्ता- 

जिस स्त्री के जननांग (Reproductive Organ) में से झागदार मासिक धर्म (Foamy Menstrual Cycle) बहुत ही दर्द के साथ निकलता हो उदावर्ता बाँझपन (Infertility) श्रेणी में आती हैं। 

बंध्या- 

जिस स्त्री को कभी मासिक धर्म नहीं आता हो तथा वह सभी तरह से स्वस्थ रहती हो वह बंध्या स्त्री कहलाती है। 

बिप्लुता- 

जिस स्त्री के जननांग में सदा दर्द रहता हो बिलुप्ता बाँझपन (Infertility) श्रेणी में आती है। 

परिप्लुता- 

वह स्त्री जिसके जननांग (Reproductive Organ) में सहवास के समय बहुत अधिक दर्द होता हो परिप्लुता बाँझपन स्त्री की श्रेणी में आती है। 

वातला- 

जिस स्त्री का जननांग बहुत अधिक सख्त, खुर्दरी और दर्द करने वाली होती है। वातला बाँझपन (Infertility) स्त्री की श्रेणी में आती है। 

लाहिताक्षरा- 

जिस स्त्री के जननांग से बहुत तेज मासिक स्राव निकलता हो। लाहिताक्षरा बाँझपन स्त्री की श्रेणी में आती है। 

प्रसंनी- 

जिस स्त्री का जननांग अपनी जगह से हट जाये। प्रसंनी बाँझपन (Infertility) स्त्री की श्रेणी में आती है। 

वामनी- 

जिस स्त्री का जननांग मनुष्य के वीर्य को तेजी के साथ उल्टी की तरह बाहर निकाल देती है। वह स्त्री वामनी बाँझपन (Infertility) की श्रेणी में आती है। 

पुत्रध्नी- 

जिस स्त्री का गर्भ ठहर जाने के कुछ दिनों बाद खून का आना शुरु हो जाता है तथा गर्भपात हो जाता है। पुत्रध्नी बाँझपन की श्रेणी में आती है। 

पित्तला- 

जिस स्त्री के जननांग में मवाद और जलन महसूस होती हो। ऐसी स्त्री पित्तला बाँझपन की श्रेणी में आती है। 

अत्यानंदा- 

जिस स्त्री का मन सदा सहवास करने को करता हो। वह स्त्री अत्यानंदा की श्रेणी में आती है। 

कर्णिका- 

जिस स्त्री के जननांग में अधिक गांठे हो। वह स्त्री कर्णिका की श्रेणी में आती है। 

अतिचरणा- 

जो स्त्री सहवास करते समय पुरुष से पहले ही स्खलित हो जाती हो। वह स्त्री अतिचरणा बाँझपन (Infertility) की श्रेणी में आती है। 

आनंद चरण- 

जिस स्त्री के जननांग से सहवास करते समय बहुत ज्यादा स्राव निकले और वह पुरुष से पहले ही स्खलित हो जाए। 

श्लेष्मा- 

जिस स्त्री का जननांग शीतल और चिकनी हो तथा खुजली रहती हो। वह स्त्री श्लेष्मा बाँझपन (Infertility) की श्रेणी में आती है। 

षण्ढ- 

जिस स्त्री के स्तन बहुत छोटे हो तथा मासिक स्राव न होता हो और जननांग खुरदरा हो या गर्भाशय ही न हो और अगर हो तो काफी छोटा हो। षण्ढ बाँझपन (Infertility) स्त्री की श्रेणी में आती है। 

अण्डभी- 

जिस स्त्री का जननांग सहवास करते समय या अधिकतर नीचे पैरों पर बैठते समय तथा अण्डकोषों की तरह निकल आए। 

विद्रूता- 

जिस स्त्री का जननांग काफी अधिक खुली हुई हो। 

सूचीवक्त्रा- 

जिस स्त्री का जननांग इतनी अधिक सख्त हो कि पुरुष का लिंग अंदर ही न जा सके। 

त्रिदोषजा- 

जिस स्त्री के जननांग में सदा तेज दर्द तथा हमेशा खुजली होती रहे। 

शीतला- 

जो स्त्रियां शांत स्वभाव की होती है वह शीतला (नस्त्रिक) स्त्री कहलाती है। उन स्त्रियों में पुरुष से मिलने की चाह नहीं होती है। जब वो शादी के बाद मजबूर होकर पति को खुश करने के लिए सहवास में तल्लीन होती है तो उन्हें कोई मजा नहीं आता है। बस वह निर्जीव शरीर की तरह पड़ी रहती है वे स्त्रियां बड़ी मुसीबत का कारण बनती है अगर शादी के एक-दो महिनों के बाद भी सहवास का आनन्द न ले तो उनकी अच्छे चिकित्सक से इलाज कराना चाहिए। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Upchar Aur Prayog

About Me
This Website is all about The Treatment and solutions of Home Remedies, Ayurvedic Remedies, Health Information, Herbal Remedies, Beauty Tips, Health Tips, Child Care, Blood Pressure, Weight Loss, Diabetes, Homeopathic Remedies, Male and Females Sexual Related Problem. , click here →

आज तक कुल पेज दृश्य

हिंदी में रोग का नाम डालें और परिणाम पायें...

Email Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner