Swarn Malini Vasant for Women Weakness-महिलाओं की कमजोरी के लिए स्वर्ण मालिनी वसंत

महिलाओं की कमजोरी के लिए स्वर्ण मालिनी वसंत (Swarn Malini Vasant for Women Weakness)-


शादी के बाद महिलायें (Women) पराये घर को भी अपनाकर और अपने ससुराल वालों का मन जीतने के लिए स्वयं को काम-काज के प्रति समर्पित भाव से लगा देती है। इसलिए अपने स्वास्थ का कोई विशेष ध्यान नहीं दे पाती है। इसके परिणाम स्वरूप वे अंदर ही अंदर से कमजोर (Weak) हो जाती है। अपना ध्यान न देने से महिलाओं में अनेक प्रकार की बीमारियों का समावेश भी हो जाता है। चूँकि हमारी माताएं बहने प्यार, त्याग, ममता और बलिदान की प्रतिमूर्ति होती है। इसलिए अधिकतर खुद को कष्ट में डालते हुए भी किसी से कुछ भी नहीं कहती है। 

महिलाओं की समस्या स्वर्ण मालिनी बसंत (Women's Problem Swarn Malini Vasant)-


मासिक धर्मसिरदर्दरक्त प्रदरश्वेतप्रदर आदि बीमारियों से पीड़ित होंते हुए भी दिन रात सेवा भाव से परिवार और अपने बच्चों के प्रति समर्पित होती है। आज आपको एक ऐसा प्रयोग बता रहा हूँ जिसके सेवन से महिलाओं (Women) की हर प्रकार की कमजोरी को दूर किया जा सकता है। जो शरीर को सुडौल बनाने के साथ इस प्रकार की सभी बीमारियों और कमजोरी से उन्हें स्वस्थ रखता है। 

''स्वर्ण मालिनी वसंत" आप घर में कैसे बनाए इसके लिए नीचे लिखी सामग्री से आप घर में इसका निर्माण कर सकते है। आप इसे बाजार से भी बना बनाया ले सकते है। ये इसी नाम से आती है। पातान्जली चिकित्सालय द्वारा भी आप खरीद सकते है। 

सामग्री-

स्वर्ण भस्म या वर्क- 10 ग्राम
मोती पिष्टी- 20 ग्राम
शुद्ध हिंगुल- 30 ग्राम
सफेद मिर्च- 40 ग्राम
शुद्ध खर्पर- 80 ग्राम
गाय के दूध का मक्खन- 25 ग्राम
नींबू का रस- थोड़ा सा 

बनाने की विधि-

सबसे पहले स्वर्ण भस्म या वर्क और हिंगुल को आपस खूब अच्छी तरह मिला लें। फिर बाकी सभी  द्रव्य मिलाकर मक्खन के साथ अच्छी तरह घुटाई करें। अब नींबू का रस कपड़े की चार तह करके छान कर इसमें मिलायें। अब इसकी आठ-दस दिन तक नियमित रूप से इतनी घुटायी करें कि इसका चिकनापन पूरी तरह दूर हो जावे। अब इसकी एक-एक रत्ती की गोलियाँ बना लें। 

सेवन की विधि-

एक या दो गोली सुबह शाम एक चम्मच च्यवनप्राश के साथ सेवन करें। 

स्वर्ण मालिनी वसंत के लाभ (Benefits of Swarn Malini Vasant)-


स्वर्ण मालिनी वसंत (Swarn Malini Vasant) का सेवन करने से महिलाओं (Women) को प्रदर रोग, शारीरिक क्षीणता व हर प्रकार की कमजोरी से मुक्ति मिलती है। शरीर स्वस्थ और सुडौल बनता है। इसके सेवन से शरीर के सभी अंगों को ताकत मिलती है व शरीर बलशाली बनता है। जो लोग निर्माण नहीं कर सकते है वो यह दवाई ''स्वर्ण मालिनी' वसंत" के नाम से भी खरीद कर प्रयोग कर सकते है। 

Click Here for All Posts of Upachaar Aur Prayog

2 टिप्‍पणियां:

  1. उत्तर
    1. आसानी से आपको किसी भी आयुर्वेद स्टोर से मिल जायेगी या आप पतंजली चिकित्सालय से ले सकते है

      हटाएं

Loading...