Upcharऔर प्रयोग

This website about Treatment and use for General Problems and Beauty Tips ,Sexual Related Problems and his solution for Male and Females. Home treatment,Ayurveda treatment ,Homeopathic Remedies. Ayurveda treatment tips in Hindi and also you can read about health Related problems and treatment for male and female

loading...

27 मई 2017

कैसे आप तनाव से मुक्त हो सकते है

By With 2 टिप्‍पणियां:
आज लोगों की तनाव(Stress)भरी जिन्दगी है जिन्दगी में काम की भागदौड है या फिर पारिवारिक क्लेश है या मानसिक चिंता से पीड़ित है तो इसका आपके मस्तिष्क पर बुरा प्रभाव भी पड़ता है जिससे कारण स्मरण शक्ति(Memory)का हास होना स्वाभाविक है और धीरे-धीरे समयानुसार आपके आत्म-विश्वास में कमी होने लगती है-

कैसे आप तनाव से मुक्त हो सकते है

तो आपको भागमभाग जिन्दगी में इन सभी कमियों को दूर करना भी आवश्यक है वर्ना कुछ समय बाद आपको भूलने जैसी बीमारी से दो-चार होना पड़ता है इस प्रकार का व्यक्ति क्रोध,बैचेनी,सिरदर्द ,आत्म-ग्लानी आदि का भी शिकार हो जाता है तो आप सभी के लिए एक नुस्खा है जिसे प्रयोग करके आप अपने मस्तिष्क को शक्तिशाली बनाए-

आवश्यक सामग्री-


शंखपुष्पी - 100 ग्राम
ब्राह्मी     - 100 ग्राम
गिलोय    - 100 ग्राम
आंवला    - 100 ग्राम (सूखा हुआ)
जटामासी - 100 ग्राम (सभी सामग्री आयुर्वेद जड़ी-बूटी विक्रेता से आसानी से प्राप्त)

प्रयोग विधि-


उपरोक्त सभी सामग्री को महीन कूट-पीस करछान कर एक एयर टाईट कांच के बर्तन में रख ले और प्रतिदिन इसकी एक-एक चम्मच मात्रा शहद या जल या आंवले के शरबत के साथ दिन में तीन बार ले तथा बच्चो को इसकी मात्रा आधा चम्मच दे - गर्भवती महिला यदि गर्भ-काल में नियमित सेवन करती है तो होने वाला बच्चा हर प्रकार से स्वस्थ और मानसिक रोगों मुक्त रहता है-वृद्ध भी इसका सेवन कर सकते है  और ये पूर्ण रूप से सुरक्षित प्रयोग है -

Read Next Post-  

नारियल तेल के अदभुत प्रयोग

Upcharऔर प्रयोग-

बेच फ्लावर चिकित्सा से जिद्दी कील मुँहासों का इलाज

By With कोई टिप्पणी नहीं:
अपेक्षा संघवी की उम्र 20 साल थी वास्तव में यह केस मेरी एक चिकित्सक मित्र की बेटी का है अपेक्षा को चहेरे पर कील मुहाँसे(Acne)बड़े परेशान करते थे और वो जितना प्रयत्न करती उससे छुटकारा पाने का वो उतने तेजी से फैलते थे चूंकि अपेक्षा संघवी की माँ चिकित्सक है इसलिए उन्होंने हर तरह से इसकी चिकित्सा की किन्तु कोई लाभ नहीं हुआ-

बेच फ्लावर चिकित्सा से जिद्दी कील मुँहासों का इलाज

अपेक्षा संघवी की माँ की माँ ने घरेलू नुस्खों से लेकर, आयुर्वेद और स्किन स्पेस्लिस्ट और  ब्यूटी स्पेस्लिस्ट हर जगह से इलाज करवाया पर वांछित लाभ नही मिल पाया था अपेक्षा संघवी कील मुहाँसे(Acne)के कारण बहुत परेशान रहने लगी थी-कॉलेज आने जाने में परेशानी होने लगी-

एक दिन उनकी माँ से मुलाक़ात में ऐसे ही पूछ लिया कि बेटी की पढ़ाई का क्या हाल है तब बड़े दुखी मन से मुझे इस केस के बारे में बताया हमने कहा क्या मै आपकी बेटी को कील मुहाँसे(Acne)के लिए कुछ बेच फ्लावर का कम्बीनेशन दे सकती हूँ हो सकता है मै उसकी परेशानी दूर कर सकूँ उन्होंने सहर्ष स्वीकार कर लिया तब मैंने उसे बेच फ्लॉवर का कॉम्बिनेशन 15 दिन के लिए दिया तथा साथ मे भोजन में फाइबर युक्त आहार ओर जंक फूड बन्द कर दें यह हिदायत भी दिया-

पंद्रह दिन बीतने के बाद अपेक्षा संधवी ने मुझे बताया कि मेरे पुराने कील मुहाँसे(Acne)सूख गए है और नए मुहाँसे बनना भी बन्द है तब इसके बाद मुहासों के दाग और क्लियर स्किन के लिए हमने अपेक्षा को दूसरा कॉम्बिनेशन बनाकर दिया-आज वह स्वस्थ है और उसे मुंहासे से हमेशा के लिए छुटकारा मिल गया है-

आपको या आपके किसी जान पहचान के लोगों में भी इस प्रकार की समस्या है तो आप निसंकोच आप मुझसे संपर्क कर सकते है-

डाo चेतना कंचन भगत का सम्पर्क विवरण-

Dr.Chetna Kanchan Bhagat
704- Solitaire Heights
New Golden Nest Phase-12
Near MithaLal Jain Banglow.
Bhayander(East)
Dist-Thane
Mumbai- 401105(Maharashtra)

Phone Numbers-

08425904420, 08779397519

Timing- 11Am To 7 Pm

E-mailbhagatchetna@gmail.com

सम्पर्क करने से पहले-

1-रोगी की परेशानी, उम्र,लिंग,वजन बताए-

2- पैथोलोजिकल रिपोर्ट्स हो तो वह भी बताए-

3- रोगी के मानसिक लक्षण, स्वभाव, पसन्द, नापसन्द,यह सब नोट करके जब भी काल करे तब अवश्य बताए-

4- रोगी की भूख, प्यास,नींद, मल मूत्र नॉर्मल है या नहीं तथा स्त्रियों में माहवारी कम ज्यादा हो तो यह भी बताए-

5- सुबह ब्रश करने से पहले की जीभ की फ़ोटो हमें जीभ बाहर की तरफ निकाल कर भेजे-

आपके द्वारा भेजी गई यह सारी डिटेल्स आपका डायग्नोसिस करने में हमें सहायक होगी-इसलिए फोन और वोट्सएप पर यह फॉरवर्ड करना ही आपको बेहतर होगा अगर आपके पास वॉट्सप की सुविधा ना होतो आप यह सब नोट करके हमे फोन पर भी बता सकते है-

Read Next Post-

बेच फ्लावर चिकित्सा से पढाई में एकाग्रता बढ़ाए-अगली पोस्ट कल 
Upcharऔर प्रयोग-

बेच फ्लावर चिकित्सा से उत्साहवर्धक और निराशा मिटाए

By With कोई टिप्पणी नहीं:
मराठी रंगमंच और मराठी सिनेमा से जुडी एक अभिनेत्री जिनका नाम हम किसी कारण से यहाँ नहीं दे सकती हूँ वो पिछले पच्चीस सालों से इस क्षेत्र में अपना काम कर रही है और बहुत ही प्रसिद्ध ओर लोगो की चहेती कलाकार है लेकिन उनको अचानक ही काम करने में परेशानी होने लगी-

बेच फ्लावर चिकित्सा से उत्साहवर्धक और निराशा मिटाए

वो अपनी स्क्रिप्ट के सँवाद भूलने लगी थी और कभी-कभी सँबाद के मुताबिक हाव-भाव नही दे पा रही थी चूँकि पुरानी ओर प्रसिद्ध अभिनेत्री होने के नाते उन्हें काम की कोई कमी नही थी ना ही उन्हें पैसों की कोई कमी थी परन्तु इस प्रकार की दिक्कत से उन्हें काफी निराशा(Desperation)होने लगी थी-

मनोवैज्ञानिक चिकित्सकों ने उन्हें थोड़े ब्रेक ओर कही सैर करने की सलाह दी और वो डॉक्टर की सलाह के अनुसार 20 दिन के लिए विदेश के वेकेशन पर गई लेकिन अब वहां जाकर और भी दिक्कत बढ़ गई वो वहां अपने काम,स्टूडियो को याद करने लगी और नतीजा ये हुआ कि एक ही हफ्ते में काम पर वापस आ गई और थोड़े ही दिन में फिर उन्हें पहले सी परेशानी होने लगी-

अब तो उनकी परेशानी और निराशा इतनी बढ़ गई कि उनकी सेहत पर भी असर होने लगा था थकान ओर निराशा(Desperation)चहेरे पर भी झलकने लगी और लोग भी पूछने लगे तब किसी के द्वारा जब यह केस मेरे पास आया और उनकी सारी बाते सुनकर और केस की डिटेल्स जानकर मुझे मालूम हुआ कि दरअसल उनके जीवन मे कोई कमी नही थी पैसे काम, प्रसिद्धि ,अच्छा परिवार सब कुछ था और अपने काम के प्रति उन्हें लगाव ओर आदर भी था तथा आगे काम करना भी चाहती थी पर सालों से एक ही तरह का काम करके वह ऊब गई थी और उनका क्रिएटिव मन थक गया था-

उनके यह मेन सिम्पटम्स ओर दूसरे सिम्पटम्स के आधार पर मैने उनको बेच फ़्लावर के दो कॉम्बिनेशन्स बनाकर दिए परिणाम स्वरूप एक हफ्ते में ही उनके चहेरे पर चमक आने लगी थी और वो काफी फ्रेश महसूस करने लगी थी 20 दिन बाद के फॉलोअप में उन्होंने बताया कि मै काफी उत्साहित ओर ताजगी महसूस कर रही हूं तब हमने उन्हें यही कॉम्बिनेशन और 20 दिन कंटीन्यू करने को कहा और आज वो स्वस्थ है यदि आपको भी इस तरह की निराशा और उत्साहहीनता की शिकायत है तो आप मुझे मेरे पते पर सम्पर्क कर सकते है-

डाo चेतना कंचन भगत का सम्पर्क विवरण-

Dr.Chetna Kanchan Bhagat
704- Solitaire Heights
New Golden Nest Phase-12
Near MithaLal Jain Banglow.
Bhayander(East)
Dist-Thane
Mumbai- 401105(Maharashtra)

Phone Numbers-

08425904420, 08779397519

Timing- 11Am To 7 Pm

E-mailbhagatchetna@gmail.com

सम्पर्क करने से पहले-

1-रोगी की परेशानी, उम्र,लिंग,वजन बताए-

2- पैथोलोजिकल रिपोर्ट्स हो तो वह भी बताए-

3- रोगी के मानसिक लक्षण, स्वभाव, पसन्द, नापसन्द,यह सब नोट करके जब भी काल करे तब अवश्य बताए-

4- रोगी की भूख, प्यास,नींद, मल मूत्र नॉर्मल है या नहीं तथा स्त्रियों में माहवारी कम ज्यादा हो तो यह भी बताए-

5- सुबह ब्रश करने से पहले की जीभ की फ़ोटो हमें जीभ बाहर की तरफ निकाल कर भेजे-

आपके द्वारा भेजी गई यह सारी डिटेल्स आपका डायग्नोसिस करने में हमें सहायक होगी-इसलिए फोन और वोट्सएप पर यह फॉरवर्ड करना ही आपको बेहतर होगा अगर आपके पास वॉट्सप की सुविधा ना होतो आप यह सब नोट करके हमे फोन पर भी बता सकते है-

Read Next Post-

बेच फ्लावर चिकित्सा से जिद्दी कील मुँहासों का इलाज

Upcharऔर प्रयोग-

बेड वेटिंग की समस्या का उपचार बेच फ्लॉवर से

By With कोई टिप्पणी नहीं:
आइये आपसे हम केस की चर्चा करते है हमारे एक परिचित के मित्र का बेटा था जिसकी उम्र छ:वर्ष थी बड़ा ही चंचल था लेकिन कई दिनों से उसके माता पिता उसको लेकर परेशान से थे क्यूंकि उसे बेड वेटिंग(Bed Waiting)समस्या के साथ स्कूल में कभी भी पेशाब कर देने की समस्या थी जिसकी वजह से स्कूल से भी बहुत शिकायते मिलने लगी थी-

बेड वेटिंग की समस्या का उपचार बेच फ्लॉवर से

उन्होंने कई चाइल्ड स्पेशलिस्ट और एलोपैथी डॉक्टर को दिखाया दवा चली लेकिन कहीं से कोई भी फर्क पड़ता हुआ नही दिखाई दिया था फिर ये केस मुझे रेफर हुआ और जब मैने केस को गहराई से स्टडी किया तो दूसरे सिम्पटम की जानकारी मिली मुझे पता चला कि बच्चे ने अचानक से उसने मिट्टी खाना शुरू कर दिया है तथा साथ मे उसे चिड़चिड़ाहट, और जिद्दीपन के लक्षण भी हैं-

बच्चे का घर मे काफी गुस्सा करना और हर बात को रोते हुए ही बताना तथा किसी की भी बात पर बिना मार खायें किसी बात को ना मानना तथा प्ले स्कूल में भी साथ के बच्चों को मारना तथा जो भी पढ़ाया जा रहा हो उस पर बिलकुल भी फोकस ना करना-

यह सारे लक्षण बच्चे में कब स्टार्ट हुए इसकी अभिभावको से जांच की और बच्चे अंशुमन से बात की तब पता चला कि ढाई साल पहले उसके छोटे भाई का जन्म हुआ और तब से उसने ये सब करना शुरू किया था उस बच्चे को लगने लगा कि अब घर मे उसे उसके माँ बाप कोई तवज्जो नहीं दे रहे है और बच्चे को कोई अटेंशन नही मिल रहा था-

तब से ही बच्चे का मन उसके छोटे भाई के प्रति ईर्ष्या से भर गया और तब से ही उसे यह सारी समस्याओं की शुरुवात हो गई है बस यही उस बच्चे का मेंन सिम्पटम्स तथा दूसरे मेंटल सिम्पटम्स को लेकर हमने फिर उसे बेच फ्लॉवर दवाई का कॉम्बिनेशन 40 दिन के लिए दिन में 3 बार लेने को दिया और 15 दिन में ही अंशुमन के स्वभाव में नोटिसेबल फर्क मालूम पड़ा-

लगभग 20 वे दिन से उसकी बेड वेटिंग ओर पेशाब की समस्या खत्म सी हो गई थी और 40 दिन के बाद मुख्य सारे समस्या का समाधान हो गया था बस पढाई में फोकस के लिए मैने फिर उसे दूसरा नया कॉम्बिनेशन दिया और परिणाम ये हुआ कि आज अंशुमन का व्यवहार अपने भाई के प्रति प्रेम पूर्वक है औऱ स्कुल में भी उसकी परफॉर्मन्स अब अच्छी हो गई है-अगर आपका बच्चा भी इस प्रकार की समस्या से पीड़ित है तो बिना संकोच के आप मुझसे सम्पर्क कर सकते है-

डाo चेतना कंचन भगत का सम्पर्क विवरण-

Dr.Chetna Kanchan Bhagat
704- Solitaire Heights
New Golden Nest Phase-12
Near MithaLal Jain Banglow.
Bhayander(East)
Dist-Thane
Mumbai- 401105(Maharashtra)

Phone Numbers-

08425904420, 08779397519

Timing- 11Am To 7 Pm

E-mailbhagatchetna@gmail.com

सम्पर्क करने से पहले-

1-रोगी की परेशानी, उम्र,लिंग,वजन बताए-

2- पैथोलोजिकल रिपोर्ट्स हो तो वह भी बताए-

3- रोगी के मानसिक लक्षण, स्वभाव, पसन्द, नापसन्द,यह सब नोट करके जब भी काल करे तब अवश्य बताए-

4- रोगी की भूख, प्यास,नींद, मल मूत्र नॉर्मल है या नहीं तथा स्त्रियों में माहवारी कम ज्यादा हो तो यह भी बताए-

5- सुबह ब्रश करने से पहले की जीभ की फ़ोटो हमें जीभ बाहर की तरफ निकाल कर भेजे-

आपके द्वारा भेजी गई यह सारी डिटेल्स आपका डायग्नोसिस करने में हमें सहायक होगी-इसलिए फोन और वोट्सएप पर यह फॉरवर्ड करना ही आपको बेहतर होगा अगर आपके पास वॉट्सप की सुविधा ना होतो आप यह सब नोट करके हमे फोन पर भी बता सकते है-

Read Next Post-

बेच फ्लावर चिकित्सा से उत्साहवर्धक और निराशा मिटाए 

Upcharऔर प्रयोग-

26 मई 2017

नारियल तेल के अदभुत प्रयोग

By With कोई टिप्पणी नहीं:
सभी लोग नारियल के तेल(Coconut Oil)से परिचित है मगर क्या आप जानते है कि नारियल का तेल और किन-किन काम में भी आ सकता है इसके कई ऐसे फायदे भी है जो अलग-अलग मामलों में आपके लिए मददगार हो सकते हैं आइये जाने आप नारियल तेल के चौंकाने वाले इन फायदों के बारे में-

नारियल तेल के अदभुत प्रयोग

नारियल तेल के अदभुत प्रयोग-


1- शेविंग के लिए आप अब शेविंग क्रीम का पैसा बचा सकते हैं त्वचा को गीला कर उस पर Coconut Oil लगाएं और उस पर रेज़र चलाएं इससे न सिर्फ शेविंग सही तरह से होती है बल्कि रेजर बर्न और ड्राइ स्किन से बचाता है आप एक बार आजमाए और कहेगे वाह -

2- बाजार में बिकने वाले माउथवॉश में मौजूद एल्कोहल या फ्लूराइड जैसे रसायन आपके लिए नुकसानदायक हो सकते हैं ऐसे में आयुर्वेद में नारियल तेल के कुल्ले का बहुत महत्व है आप मुंह में Coconut Oil भर कर इससे कुल्ला करें आपके मुंह से बैक्टीरिया दूर रहेंगे-

3- नारियल तेल(Coconut Oil)में विटामिन ई का कैपसूल मिलाकर रात में चेहरे पर झुर्रियों वाले हिस्से में लगाएं और सुबह पानी से धो लें यकीन मानिए इससे त्वचा में कसाव आता है और झुर्रियां कम होती हैं-

4- क्या आपको पता है कि नारियल तेल में बने या तले भोजन के सेवन से लंबे समय तक भूख नहीं लगती हैं यह मीडियम सैचुरेटेड फैटी एसिड से युक्त है जो लंबे समय तक भूख शांत रखने में मददगार है-

5- बच्चों को अधिक देर तक डायपर पहनाने के बाद उनकी त्वचा को रूखा होने से बचाने के लिए इससे सुरक्षित, सस्ता व असरदार विकल्प भला क्या होगा एक बार आजमा कर देखे आप भी खुश और बच्चा भी खुश रहेगा-

6- बाथरूम में शावर, नल जैसे उपकरणों को साफ करने के लिए कपड़े में नारियल तेल लगाकर उससे स्क्रब करने से वे चमक उठते हैं-

7- नारियल तेल के इस्तेमाल से आप पसीने की बदबू से दिन भर दूर रह सकते हैं छह चम्मच नारियल तेल में एक चौथाई कप बेकिंग सोडा मिलाएं और एक चौथाई कप आरारोट व कुछ बूंद यूकोलिपटस या मिंट ऑयल मिलाएं और एक जार में बंद करके रख दें-

Read Next Post-
Upcharऔर प्रयोग-

होम्योपैथी इलाज घुटने की नस सिकुड़ जाने का

By With कोई टिप्पणी नहीं:
यह केस मेरे जीवन का उस समय का है जब हम होम्योपैथिक चिकित्सा जगत(Homeopathic Medical World)में प्रवेश कर ही रहे थे और उस समय मै डबरा में पदस्थ था हमारे घर के नीचे एक स्टेशन मास्टर साहब रहा करते थे उस दिन उनके घर गंगा दशहरे के कारण सत्यनारायण की कथा हो रही थी-उनके यहाँ एक अन्य स्टेशन मास्टर श्री खनूजा जी आये हुए थे जो एक पुराने और डी.एच.वी.पास डॉक्टर थे तथा फिलोसाफी और आर्गेनन पर उनकी बहुत अच्छी पकड़ थी-

होम्योपैथी इलाज घुटने की नस सिकुड़ जाने का

मैने उनसे कहा कि मेरी बेटी को बुखार आ रहा है मैने उसे नेट्रम म्यूर 30 दी है पर बुखार नहीं उतर रहा है उन्होंने कहा कि दवा तो तुमने सही दी है परन्तु 6एक्स पोटेंसी में दो-उस समय मै दवाइयां 30 या 200 की पोटेन्सी में ही रखता था तो एहसान सा जताते हुए उनने कहा कि दो-तीन खुराक तो मै दे दूंगा और लश्कर(ग्वालियर)से जाकर ले आना मैने सोचा कि दो तीन खुराक तो अभी दे ही दूँ और दवा लेने के लिए उनके घर चला गया वहां उनकी पत्नी ने सोचा कि में भी डॉक्टर हूँ सो वे अपने लड़के को लेकर मेरे पास आकर बोली कि मै इनसे कहती हूँ कि इसको दिल्ली लेकर चलो वहाँ हमारे रिश्तेदार है वे इसके पैर का आपरेशन करवा देंगें-

वह केस इस प्रकार था कि लड़के की आयु 10 वर्ष थी और उसके घुटने के उपर की तरफ एक फोड़ा हुआ था जो खिसकते-खसकते घुटने के नीचे की तरफ पोप्लीटियल फोसा में आ गया और उसने मुख्य टेंडन पर स्थित होकर उसे सिकोड़ना शुरू कर दिया यहाँ तक कि उसने पंजे को जमीन से लगभग 15 सेंटीमीटर उपर उठा दिया था चलने के लिए उसे लाठी का सहारा लेना पड़ता था खनूजा जी ने मुझसे कहा कि आप बताइये कि यह केस मेडिसिन का है या सर्जरी का-

केस तो मेरे समझ में आ गया पर सोचा अगर सर्जरी कहता हूँ तो गलत होगा और मेडिसिन का कहता हूँ तो अभी इनकी पत्नी कहेगी कि आप भी इनकी बातो में आ गए-मेरी कोई बात ही नहीं मानता फिर मन में सोचा कि किसी को खुश या नाराज होने के डर से गलत बात नहीं कहना चाहिए-मैने उनसे कहा कि केस तो मेडिसिन का ही है -

खनूजा जी ने मुझसे पूछा कि इसे क्या मेडिसिन देना चाहिए पहिले तो मैने टाल-मटोल की सोची-सोचा कि ये तो खुद ही एक पुराने डॉक्टर है मेरे जैसा नया आदमी इनको क्या सलाह दे सकता है-कहा कि मुझे किताबे देखनी पड़ेगी-उन्होंने कहा कि ये रक्खी है किताबे देख लो क्या देखना है तब मैने विश्वास के साथ स्पष्टरूप से कहा कि इस केस के लिए केवल एक ही पैथी है और वह है होम्योपैथी और होम्योपैथी(Homeopathy)में एक ही दवा है और वह दवा है "कास्टीकम"- वे माथा ठोंक कर बोले,तुम ठीक कहते हो,न जाने क्यों ये दवा मेरे दिमाग में नहीं आई उन्होंने देखा तो उनके पास "कास्टीकम 30" थी नहीं-मैने कहा कि मेरे पास जर्मनी की है मै आपको दे देता हूँ -

कुछ ही दिनों में दवा के प्रभाव से लड़के का पैर खुलने लगा और पंजा जमीन को छूने लगा था इस बीच उन्होंने एक अन्य डॉक्टर एच.सी.सक्सेना को,जिनका तकिया कलाम था 'बीस साल का तजुर्बा',दिखा दिया और उन्होंने उसे "रसटाक्स 1000" की दवा खिला दी जिसका नतीजा यह हुआ कि पैर फिर से सिकुड़ गया और अब जमीन से 25 सेंटीमीटर उपर उठ गया फिर दोनों पति-पत्नी मेरे पास आये और बच्चे के सिर पर हाथ रख कर कसम खाई कि अब वे कोई दवा नहीं देगे -

रसटाक्स को एंटीडोट कर फिर कास्टीकम दिया -धीरे-धीरे पोटेन्सी भी बढाई और अंत में पैर बिलकुल सामान्य हो गया आज वह बालक शासकीय महाविध्यालय में ला फेकल्टी में हेड आफ डिपार्टमेन्ट हैं उसने अपनी पत्नी से मेरा परिचय कराते हुए कहा कि मेरे बाप ने तो मुझे लंगड़ा कर दिया था,अंकिल जी ने ही मुझे ये टाँगे दी है मैने कहा होम्योपैथी को ही धन्यवाद दो आप मुझे नहीं -

प्रस्तुत सभी लेख और प्रयोग मेरे जीवन काल के सत्य अनुभव से जुड़े है उनका उल्लेख किया है कथा या कहानी पे आधारित नहीं है-

मेरा सम्पर्क पता-


कृपया रोगी ही फोन करे ताकि उसके लक्षण(Symptoms)को जाना जा सके केवल सिर्फ जानकारी मात्र के लिए डिस्टर्व न करे-आप यहाँ फोन कर सकते है-

KAAYAKALP

Homoeopathic Clinic & Research Centre

23,Mayur Market, Thatipur, Gwalior(M.P.)-474011

Director & Chief Physician:

Dr.Satish Saxena D.H.B.

Regd.N.o.7407 (M.P.)

Mob :  09977423220(फोन करने का समय-दिन में 12 P.M से शाम 6 P.M)(WHATSUP भी  यही नम्बर है)

Dr. Manish Saxena

Mob :- 09826392827(फोन करने का समय-सुबह 10A.M से शाम4 P.M.)(WHATSUP भी  यही नम्बर है )

Clinic-Phone- 0751-2344259 (C)

Residence Phone- 0751-2342827 (R)

करेला क्यों खाएं इसमें कौन से गुण पाए जाते हैं

By With कोई टिप्पणी नहीं:
करेले(Bitter Gourd)का स्वाद भले ही कड़वा हो लेकिन आपकी सेहत के लिहाज से यह बहुत फायदेमंद होता है करेले में अन्य सब्जी या फल की तुलना में ज्यादा औषधीय गुण पाये जाते हैं करेला खुश्क तासीर वाली सब्जी‍ है तथा करेला खाने के बाद आसानी से पच जाता है करेले में फास्फोरस पाया जाता है जिससे शरीर में होने वाली कफ की शिकायत दूर होती है करेले में प्रोटीन, कैल्शियम, कार्बोहाइड्रेट, फास्फोरस और विटामिन भी पाया जाता है-

करेला क्यों खाएं इसमें कौन से गुण पाए जाते हैं

हमारे शरीर में छ: रसों की आवश्यकता होती है मीठा, खट्टा, खारा, तीखा, कषाय और कड़वा-जिनमे से हम सभी लोग जादातर पांच रस ही खाते है-मीठा,खट्टा,खारा,तीखा, कषाय-लेकिन कड़वा नहीं खाते हैं जबकि करेले का कडवापन में क्या गुण(Properties)है आइये आपको हम अवगत कराते है-

करेला(Bitter Gourd)के गुण-


1- कुदरत ने करेला को कडवा बनाया है लेकिन करेले को निचोड़ के उस की कड़वाहट लोग निकाल देते हैं जबकि करेले का छिलका नहीं उतारना चाहिए और उसका कड़वा रस नहीं निकालना चाहिए तथा हफ्ते में या पंद्रह दिन में एक दिन करेला खाना स्वास्थ के लिए अच्छा है-

2- कड़वे करेले(Bitter Gourd)में बीमारियो से लड़ने की उम्दा शक्ति है-प्रति 100 ग्राम करेले में लगभग 92 ग्राम नमी होती है तथा साथ ही इसमें लगभग 4 ग्राम कार्बोहाइडेट, 15ग्राम प्रोटीन, 20 मिलीग्राम कैल्शियम, 70 मिलीग्राम फस्फोरस, 18 मिलीग्राम, आयरन तथा बहुत थोड़ी मात्रा में वसा भी होती है इसमें विटामिन ए तथा सी भी होती है जिनकी मात्रा प्रति 100 ग्राम में क्रमश: 126 मिलीग्राम तथा 88 मिलीग्राम होती है-

3- करेला हमारी पाचन शक्ति को बढाता है जिसके कारण भूख बढती है तथा करेला ठंडा होता है इसलिए यह गर्मी से पैदा हुई बीमारियों के उपचार के लिए फायदेमंद है-

4- कफ की शिकायत होने पर करेले का सेवन करना चाहिए चूँकि करेले(Bitter Gourd)में फास्फोरस होता है और करेला खाने वाले को कफ की शिकायत नहीं होने पाती है तथा  इसमें प्रोटीन भी भरपूर पाया जाता है इसके अलावा करेले में कैल्शियम, कार्बोहाइड्रेट और विटामिन पाए जाते हैं करेले की छोटी और बड़ी दो प्रकार की प्रजाति होती है जिससे इनके कसैलेपन में भी अंतर आता है-

5- करेला लीवर से संबंधित बीमारियों के लिए तो करेला रामबाण औषधि है तथा लकवे के मरीजों के लिए करेला बहुत फायदेमंद होता है इसलिए लकवे के मरीज को कच्चा करेला खाना चाहिए-

6- जलोदर रोग होने पर आधा कप पानी में 2 चम्मच करेले का रस(Bitter gourd juice)मिलाकर ठीक होने तक रोजाना तीन-चार बार सेवन करने से फायदा होता है-

7- पथरी रोगी को दो करेले का रस प्रतिदिन पीना चाहिए और इसकी सब्जी खाना चाहिए इससे पथरी गलकर पेशाब के साथ बाहर निकल जाती है-

8- पीलिया के मरीजों के लिए करेला बहुत फायदेमंद है पीलिया के मरीजों को पानी में करेला पीसकर खाना चाहिए या करेले के जूस(Bitter gourd juice)का सेवन करे-

9- दस्त और उल्टी की शिकायत की सूरत में करेले का रस निकालकर उसमें काला नमक और थोड़ा पानी मिलाकर पीने से फायदा देखा गया है करेले के पत्तों को सेंककर सेंधा नमक मिलाकर खाने से अम्लपित्त के रोगियों को भोजन से पहले होने वाली उल्टी बंद होती है-

10- करेले के तीन बीज और तीन कालीमिर्च को पत्थर पर पानी के साथ घिसकर बच्चों को पिलाने से उल्टी-दस्त बंद होते हैं-

11- दमा होने पर बिना मसाले की छौंकी हुई करेले की सब्जी खाने से फायदा होता है-

12- डायबिटीज के लिए करेला(Bitter Gourd)रामबाण इलाज है करेला खाने से शुगर का स्तर नियंत्रित रहता है करेला मधुमेह में रामबाण औषधि का कार्य करता है छाया में सुखाए हुए करेला का एक चम्मच पावडर प्रतिदिन सेवन करने से डायबिटीज में चमत्कारिक लाभ मिलता है क्योंकि करेला पेंक्रियाज को उत्तेजित कर इंसुलिन के स्रावण को बढ़ाता है-

13- करेला खून साफ करता है तथा करेला खाने से हीमोग्लोबिन बढ़ता है तथा विटामिन ए की उपस्थिति के कारण इसकी सब्जी खाने से रतौंधी रोग नहीं होता है

14- बवासीर होने पर एक चम्मच करेले के रस में आधा चम्मच शक्कर मिलाकर एक महीने तक प्रयोग करने से बवासीर की शिकायत समाप्त हो जाती है-

15- गठिया रोग होने पर या हाथ-पैर में जलन होने पर करेले के रस से मालिश करना चाहिए इससे गठिया के रोगी को फायदा होगा तथा जोड़ों के दर्द में करेले की सब्जी का सेवन व जोड़ों पर करेले के पत्तों का रस लगाने से आराम मिलता है-

16- करेले के रस को नींबू के रस के साथ पानी में मिलाकर पीने से वजन कम किया जा सकता है करेले का रस और एक नींबू का रस मिलाकर सुबह सेवन करने से शरीर की चर्बी कम होती है और मोटापा कम होता है-

Read Next Post-


Upcharऔर प्रयोग-