जुंए और रुसी से परेशान तो करे ये उपचार ....!

8:10 am Leave a Comment
जूं एक प्रकार के पैरासाइट होते हैं जो खोपड़ी में बालों के भीतर रहते हैं और सिर का खून चूसते रहते हैं। जूं होने की समस्‍या सबसे ज्‍यादा बच्‍चों में होती है। कई बार बच्‍चे बाहर खेलते हैं और दूसरे बच्‍चों से जूं भर लाते हैं और उन बच्‍चों के साथ रहने वाले लोगों को भी सिर में जूं हो जाते हैं।



* सिर में जूं होने से खुजली बहुत ज्‍यादा पड़ती है और हर समय झुनझुनी सी होती रहती है क्‍योंकि वो खून पीते रहते हैं। बाजार में कई ऐसे कैमिकल मिलते हैं जो दावा करते हैं कि उनसे जूं तुरंत निकल जाते हैं लेकिन ये कैमिकल होते है और आपके बच्‍चे की सिर की नाजुक त्‍वचा पर बुरा असर डाल सकते हैं


* लहसून की गंध बहुत तीखी होती है, अगर इसे पिसकर बालों में लगाया जाएं और घंटे भर बाद धो लिया जाएं, तो सारे जूं मरकर निकल जाते हैं। आप चाहें तो इस पेस्‍ट में नींबू का रस भी मिला सकते हैं।







* सोने से पहले, सफेद सिरका लें और उसके अपने बालों पर लगाएं, ठीक उसी तरह जैसे आप अपने बालों में तेल लगाती हैं। लगाने के बाद आप तौलिया से अपने सिर को कवर कर लें और रात भर लगा रहने दें। सुबह उठकर सिर धो लें। जब आप शैम्‍पू करने के बाद कंघी करेगी, तो सारे जूं अपने आप बाहर आ जाएंगे।





* जूं होने पर जैतून का तेल लगाकर कंघी कर लें। जैतून का तेल सप्‍ताह में तीन बार लगाएं, जिससे आपको जूं नहीं होगें।









* जूं होने पर नमक काफी कारगर सामग्री होती है। पांच चम्‍मच नमक लें और आधा कप सिरका में घोल लें। इस मिश्रण को अपनी खोपड़ी पर लगाएं और शॉवर कैप लगा लें। दो घंटे तक ऐसे ही रहने दें। इसके बाद बालों को धोकर कंघी कर लें। तीन दिन में आपको अच्‍छे रिजल्‍ट मिल जाएंगे।






* पेट्रोलियम जैली में ऐसे गुण होते हैं जो जूं को चिपका लेती है जिससे जूं का दम घुट जाता है और वह निकल जाती हैं। रात में सोने से पहले पेट्रोलियम जैली को लगा लें और रात भर लगा रहने दें। बाद में सुबह कंघा करें, ढ़ेर सारे जूं निकलेगें।

* जैतून के तेल और एल्‍कोहल को मिला लें। इस मिश्रण को अपने सिर पर लगाएं और रात भर लगा रहने दें। इसके बाद, सुबह सिर धो लें। आप चाहें तो नीम का तेल, लौंग का तेल, दालचीनी का तेल आदि प्रकार के तेलों का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं।

* ट्री टी ऑयल एक प्राकृति इनसेक्‍टीसाइड होता है जो जूं को आसानी से बालों से हटा सकता है। इस ऑयल में गरी का तेल मिलाएं और बालों में सिरों पर लगाएं। आधे घंटे तक सिर में लगा रहने दें और बाद में सिर को धुलकर अच्‍छे से कंघी करें।
उपचार स्वास्थ्य और प्रयोग -http://upchaaraurpryog120.blogspot.in






* बेकिंग सोडा, जूं निकालने में काफी कारगर होता है। इसमें जैतून का तेल मिला लें और इसे अच्‍छी तरह सिर में लगा लें। रात भर लगा रहने के बाद सुबह धो लें।

* यह उपाय थोड़ा मंहगा है लेकिन बहुत कारगर है। गरी के तेल और सेब के सिरके को बराबर मात्रा में मिला लें और लगा लें। बाद में बालों को अच्‍छी तरह धुल लें और कंघी करें।

* हाईड्रोजन पैरोक्‍साइड और बोरेक्‍स को आपस में मिला लें। इस मिश्रण को बालों में लगाएं और रगडें, बाद में अच्‍छी तरह धो लें।

* डिटॉल एक एंटीसेप्टिक होता है जो जूं को भी दूर कर सकता है। इसे लगाने के बाद आप एक घंटे तक यूं ही रहे और फिर धो लें। गाढ़ा डिटॉल लगाने से अच्‍छा होगा कि आप उसमें हल्‍का सा पानी भी मिला लें, वरना त्‍वचा में जलन पड़ सकती है।
उपचार स्वास्थ्य और प्रयोग -http://upchaaraurpryog120.blogspot.in







नमी की कमी के कारण रूसी से निजात पाना बहुत मुश्किल हो जाता है। परंतु नीचे दिए गए घरेलू उपचार आपकी समस्या को आसान कर सकते हैं:-

नीम सामग्री:-

*  ¼ कप नीम का रस, नारियल का दूध एवं चुकंदर का रस 1 चम्मच नारियल का तेल तरीका: ऊपर दी गई सारी चीजों को मिलाकर एक पैक बनाए तथा इस पैक को बालों में लगाएं। इस पैक को 20 मिनट के लिए अपने बालों में रहने दें और बाद में अपने बालों को हर्बल शैम्पू व कंड़ीशनर से धो लें। बेहतर परिणाम के लिए इस प्रक्रिया को सप्ताह में एक बार दोहराएं


मेथी सामग्री:-

*  2 बड़े चम्मच मेथी के दानें 1 कप पानी एक कप एप्‍पल साइडर वेनिगर तरीका: मेथी के दानों को रात भर पानी में भिगोएं। अगले दिन सुबह इन्हें पीसकर इसमें सेब साइडर सिरके को मिलाकर एक पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को अपने बालों में लगाएं तथा 30 मिनट बाद अपने बालों को किसी सौम्य शैम्पू सो धोएं। यह तरीका खुजली व रूखेपन से राहत दिलाएंगा।

एस्पिरिन सामग्री:-

*  2 एस्पिरिन की गोलियां तरीका: पहले गोलियों को पीसें तथा उन्हें सामान्य शैंपू में मिलाकर 5 मिनट के लिए रहने दें। अब इस गोलियों के मिश्रण वाले शैंपू से अपने बालों को धोएं। अगर गोलियों का चूरा बालों में रह जाए तो बालों को फिर शैंपू करें।
उपचार स्वास्थ्य और प्रयोग -http://upchaaraurpryog120.blogspot.in


बेकिंग सोडा सामग्री:-

*  2 चम्मच बेकिंग सोडा पानी की कुछ बूँदें तरीका: बेकिंग सोड़ा में पानी की कुछ बूँदों को मिलाकर एक पेस्ट बनाएं। फिर अपने बालों को गुनगुने पानी से गीला करें तथा इस पेस्ट को 5 मिनट के लिए अपने सर में मलें। बाद में अपने बालों को शैंपू से धोलें।
उपचार स्वास्थ्य और प्रयोग -http://upchaaraurpryog120.blogspot.in




रीठा सामग्री: -

* 10-15 रीठा 1 बड़ा चम्मच आमला का पाउडर या आमला का रस 2 से 3 कप पानी तरीका: रात भर रीठा को पानी में भिगोएं। अगले दिन इन्हें उबालकर छान लें। अब इस पानी में आमला के रस को मिलाकर अपने बालों को धोएं। या फिर आमले के पाउडर में छाने हुए पानी को डालकर एक पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को अपने बालों में 30 मिनटों के लिए रहने दें तथा बाद में अपने बालों को शैम्पू से धो लें।

नींबू सामग्री:-

*  4 नींबूओं का रस या 4 नीबूओं के स्लाइस। तरीका: नींबू को काट कर अपने बालों में रगडें तथा इसे 10-15 मिनट के लिए रहने दें। फिर बाद में साफ पानी से बालों को धोएं। इसे सप्ताह में एक बार दोहराएं।
उपचार स्वास्थ्य और प्रयोग -http://upchaaraurpryog120.blogspot.in





एलोवेरा जेल सामग्री:-

*  5 बड़े चम्मच एलोवेरा जेल तरीका: एलोवेरा जेल को नहाने से 30 मिनट पहले अपने बालों में लगाएं। बाद में अपने बालों को शैम्पू करें। जेल को लगाते वक्त आपके बालों में तेल नहीं लगा होना चाहिए। रूखे व घुंघराले बालों वाले लोग अपने बालों को मुलायम बनाने के लिए इस तरीके को आजमा सकते हैं। अतः रूसी से छुटकारा पाने के लिए इन प्राकृतिक तरीकों को अपनाएं।
उपचार स्वास्थ्य और प्रयोग -http://upchaaraurpryog120.blogspot.in

0 comments :

एक टिप्पणी भेजें

-->