क्यों न खाए प्रोसेस्‍ड फूड -Why not eat processed food

प्रोसेस्‍ड फूड वह फूड होते हैं जिन्‍हे लम्‍बे समय तक खाने के लिए संरक्षित किया जाता है। इनमें कई तरीके के फ्लेवर और लम्‍बे समय तक टिकाकर रखने वाले एजेंट मिलाकर रखा जाता है जिससे इन्‍हे मनमुताबिक इस्‍तेमाल किया जा सकें-

इससे आपके स्‍वास्‍थ्‍य पर प्रतिकूल प्रभाव भी सकता है अगर आपने इनका इस्‍तेमाल एक हद से ज्‍यादा किया तो। प्रोसेस्‍ड फूड का टेस्‍ट बहुत यम्‍मी होता है, क्युकि उन्‍हे उस तरीके से तैयार किया जाता है। लेकिन कई बार इसके इस्‍तेमाल से स्‍वास्‍थ्‍य को नुकसान पहुंचता है-



प्रोसेस्‍ट फूड से क्‍या-क्‍या नुकसान हो सकते हैं:-


ये फूड बहुत टेस्‍टी तो लगते हैं लेकिन इनका प्रभाव आपके शरीर पे काफी प्रतिकूल होता है। ये आपके शरीर की पाचन प्रक्रिया को बिगाड़ देते हैं।

शरीर को स्‍वस्‍थ रखने में हड्डियों का बहुत बड़ा हाथ होता है। लेकिन इस प्रकार के फूड हड्डियों को वीक कर देते हैं और दर्द की अनेक प्रकार की समस्‍या सामने आने लगती है।




इस प्रकार के फूड में फॉस्‍फेट मिला होता है जो शरीर में जाकर उसे नुकसान पहुंचाते हैं। इसके सेवन से किडनी में समस्‍या आने लगती है। कई बार तो किडनी खराब होने का डर भी होता है।आज कल किडनी की समस्या में काफी इजाफा हुआ है जिनका कारण आप फाइबर प्रोटीन युक्त खाना न खा कर इस प्रकार के प्रोसेस्‍ड फूड खाते है .




बॉडी में इनफ्लेशन के लिए इस प्रकार के फूड जिम्‍मेदार होते हैं। उम्र बढ़ने के लक्षण भी तेजी से इन फूड के इस्‍तेमाल के बाद दिखाई देते हैं। झुरियां जल्दी पड़ जाना भी इसके कारण है .


इस प्रकार के फूड को लगातार खाने से पाचन सम्‍बंधी कई समस्‍याएं सामने आने लगती हैं क्‍योंकि इनमें प्रोटीन, विटामिन और फाइबर जैसे गुण नहीं होते हैं। अल्सर ,कब्ज ,एसिडिटी  आदि-



इस प्रकार के फूड का भारी मात्रा में सेवन करने से सोचने और समझने की शक्ति में समस्‍या आती है। ध्‍यान का स्‍तर भी कम हो जाता है।


प्रोसेस्‍ड फूड में विटामिन और फाइबर की कमी होती है जिसकी वजह से शरीर में कमजोरी आ जाती है।




प्रोसेस्‍ड फूड के सेवन से प्रजनन क्षमता पर नकारात्‍मक असर पड़ता है। यह शरीर के लिए काफी हानिकारक होता है।


आपको जानकर आश्‍चर्य होगा लेकिन यह पूरी तरह सच है कि इस प्रकार के फूड के सेवन से कैंसर होने का खतरा बना रहता है क्‍योंकि इनमें कई अस्‍वास्‍थकारी तत्‍व मिल होते हैं।


प्रोसेस्‍ड फूड के सेवन से शरीर में इंसुलिन की मात्रा घट जाती है जिससे मधुमेह होने का खतरा बढ़ जाता है। अक्‍सर लोगों में इसके सेवन के कारण टाइप 2 मधुमेह होते पाया गया है।


प्रोसेस्‍ड फूड में फ्रक्‍टोज कॉर्न सिरप होता है जिससे पेट में कई गंभीर बीमारियां हो सकती हैं।


प्रोसेस्‍ड फूड के सेवन से एलर्जी हो सकती है क्‍योंकि इनमें संरक्षित करने वाले पदार्थ या रंग पड़े होते हैं।



प्रोसेस्‍ड फूड के सेवन से कुपोषण होने के चांसेस सबसे ज्‍यादा रहते हैं। अगर आप स्‍वस्‍थ रहना चाहते हैं तो इनका सेवन कम से कम करें। या फिर न करे .


प्रोसेस्‍ड फूड में कई तरीके के आर्टिफिशियल कलर मिले होते हैं जिससे कारण हाइपर सेंसटिविटी होना स्‍वाभाविक हो जाता है। बच्‍चों में यह अक्‍सर हो जाता है।


प्रोसेस्‍ड फूड में ऐसे पदार्थ मिले होते हैं जो अस्‍थमा का कारण बन सकते हैं और इनके सेवन से त्‍वचा में जलन या रंग में बदलाव भी आ सकता है क्‍योंकि त्‍वचा पर दाने आदि पड़ जाते हैं।


अब आप समझ ही गए होगे कि पैसे खर्च करके भी आप स्वास्थ्य के लिए क्या खा रहे है ऐसे में आप निर्णय लें कि आपको किस प्रकार के भोजन का सेवन करना चाहिए। क्युकि ये शरीर आपका है मेनुफेक्चर कंपनियों का नहीं -

उपचार और प्रयोग -http://www.upcharaurprayog.com
loading...


EmoticonEmoticon